Wife Of Sarabjit Singh Died In Road Accident In Punjab – Amritsar News: सर्बजीत की पत्नी की सड़क हादसे में मौत, कुछ दिन पहले बहन का हुआ था निधन

0
10

ख़बर सुनें

पाकिस्तान की जेल में कैद रहे सर्बजीत सिंह की पत्नी सुखप्रीत कौर की सड़क हादसे में मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक रविवार को सुखप्रीत कौर अपनी बेटी स्वपनदीप कौर से मिलने मोटरसाइकिल पर अपने पड़ोसी के साथ जालंधर से अमृतसर जा रही थी। इसी बीच यह हादसा हो गया। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

जानकारी के अनुसार जब सुखप्रीत कौर अमृतसर के खजाना गेट चौक पर पहुंची तो वह बाइक के पीछे से गिर गईं। जिससे उनके सिर में गंभीर चोट आई है। बताया जाता है कि उन्हें तुरंत अमृतसर के महाजन अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। अब मंगलवार दोपहर एक बजे सुखप्रीत कौर का अंतिम संस्कार कस्बा भिक्खीविंड के श्मशानघाट में किया जाएगा। 

सर्बजीत सिंह की बहन दलबीर कौर का भी इसी साल 26 जून को निधन हो गया था। उन्होंने पाकिस्तान में रहने वाले अपने भाई को भारत लाने के लिए एक अभियान चलाया था। 60 साल की दलबीर कौर की मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई थी। सर्बजीत की पत्नी सुखप्रीत ने भी दलबीर कौर के साथ सर्बजीत की रिहाई के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर तक आवाज उठाई थी। 

गौरतलब है कि सर्बजीत को पाकिस्तान की एक अदालत ने आतंकवाद और जासूसी के आरोप में 1991 में मौत की सजा सुनाई थी। हालांकि 2008 में सरकार ने सर्बजीत की फांसी पर अनिश्चितकालीन रोक लगा दी थी। इसके बाद अप्रैल 2013 में लाहौर में कैदियों के हमले में सर्बजीत की मौत हो गई थी।

विस्तार

पाकिस्तान की जेल में कैद रहे सर्बजीत सिंह की पत्नी सुखप्रीत कौर की सड़क हादसे में मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक रविवार को सुखप्रीत कौर अपनी बेटी स्वपनदीप कौर से मिलने मोटरसाइकिल पर अपने पड़ोसी के साथ जालंधर से अमृतसर जा रही थी। इसी बीच यह हादसा हो गया। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

जानकारी के अनुसार जब सुखप्रीत कौर अमृतसर के खजाना गेट चौक पर पहुंची तो वह बाइक के पीछे से गिर गईं। जिससे उनके सिर में गंभीर चोट आई है। बताया जाता है कि उन्हें तुरंत अमृतसर के महाजन अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। अब मंगलवार दोपहर एक बजे सुखप्रीत कौर का अंतिम संस्कार कस्बा भिक्खीविंड के श्मशानघाट में किया जाएगा। 

सर्बजीत सिंह की बहन दलबीर कौर का भी इसी साल 26 जून को निधन हो गया था। उन्होंने पाकिस्तान में रहने वाले अपने भाई को भारत लाने के लिए एक अभियान चलाया था। 60 साल की दलबीर कौर की मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई थी। सर्बजीत की पत्नी सुखप्रीत ने भी दलबीर कौर के साथ सर्बजीत की रिहाई के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर तक आवाज उठाई थी। 

गौरतलब है कि सर्बजीत को पाकिस्तान की एक अदालत ने आतंकवाद और जासूसी के आरोप में 1991 में मौत की सजा सुनाई थी। हालांकि 2008 में सरकार ने सर्बजीत की फांसी पर अनिश्चितकालीन रोक लगा दी थी। इसके बाद अप्रैल 2013 में लाहौर में कैदियों के हमले में सर्बजीत की मौत हो गई थी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here