Ticket Checker Suspended For Slapping A Woman At Ludhiana Railway Station – Tte पर गिरी गाज: गोद में था साढ़े तीन साल का बच्चा, मांगने लगा टिकट, न देने पर महिला को जड़ा थप्पड़

0
8

ख़बर सुनें

पंजाब के लुधियाना स्टेशन पर अपने परिवार समेत ट्रेन से उतरी महिला यात्री को एक टिकट चेकर ने थप्पड़ जड़ दिया। महिला की गोद में साढ़े तीन साल का बच्चा था और टिकट चेकर उसकी टिकट मांग रहा था। टिकट चेकर ने जुर्माना देने को कहा और जब महिला यात्री ने जुर्माना देने से मना किया तो उसके पति और भाई को कॉलर से पकड़कर पीटने लगा। 

महिला यात्री ने बीच बचाव करने की कोशिश की तो उसे भी थप्पड़ जड़ दिया। पीड़ित यात्री सुनीता देवी ने बताया कि वह अपने परिवार के साथ कटरा से आजमगढ़ जा रही थी और ट्रेन बदली करने के लिए लुधियाना स्टेशन पर उतरी थी। ट्रेन से उतरते ही धर्मराज नामक टिकट चेकर ने उनको रोका और साढ़े तीन साल के बच्चे की टिकट नहीं होने पर उनसे मारपीट करने लगा। टिकट चेकर की गुंडागर्दी देखकर यात्री एकत्रित हो गए। देखते ही देखते स्टेशन परिसर में हंगामा हो गया। सूचना पाकर जीआरपी और आरपीएफ भी पहुंच गई। 

महिला यात्री और उसके परिजन आरोपी टिकट चेकर पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे, जबकि पुलिस उनका समझौता करवाने की कोशिश में थी। इस बात को लेकर करीब डेढ़ घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा होता रहा। इसके बाद मामला बढ़ते देख पुलिस ने महिला यात्री पर दबाव बनाना शुरू किया और कहा कि अगर वह कार्रवाई करवाएगी तो उसे अपना मेडिकल करवाना पड़ेगा, जिसमें 2 से 3 घंटे का समय लगेगा।
 
इसके बाद मामला दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू होगी, जिसमें एक से दो दिन लगेंगे। फिर उसे हर तारीख पर आजमगढ़ से लुधियाना आना पड़ेगा। यह सुनकर पीड़ित महिला और उसके पारिवारिक सदस्य नरम पड़ गए और पुलिस के दबाव में टिकट चेकर के साथ समझौते पर राजी हो गए। पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करवाकर मामले को शांत कर दिया। 

सीनियर डीसीएम ने टिकट चेकर को किया निलंबित
हालांकि पुलिस ने टिकट चेकर को बचाने के लिए दोनों पक्षों में समझौता करवाकर पूरे मामले को शांत कर दिया था। मगर महिला यात्री से बदतमीजी और उसे थप्पड़ मारने की सीसीटीवी फुटेज घटना के कुछ देर बाद ही वायरल हो गई। वीडियो फिरोजपुर मंडल के आला अधिकारियों तक पहुंच गई। इसके बाद सीनियर डीसीएम सुदीप सिंह ने आरोपी टिकट चेकर धर्मराज को निलंबित कर दिया।  

विस्तार

पंजाब के लुधियाना स्टेशन पर अपने परिवार समेत ट्रेन से उतरी महिला यात्री को एक टिकट चेकर ने थप्पड़ जड़ दिया। महिला की गोद में साढ़े तीन साल का बच्चा था और टिकट चेकर उसकी टिकट मांग रहा था। टिकट चेकर ने जुर्माना देने को कहा और जब महिला यात्री ने जुर्माना देने से मना किया तो उसके पति और भाई को कॉलर से पकड़कर पीटने लगा। 

महिला यात्री ने बीच बचाव करने की कोशिश की तो उसे भी थप्पड़ जड़ दिया। पीड़ित यात्री सुनीता देवी ने बताया कि वह अपने परिवार के साथ कटरा से आजमगढ़ जा रही थी और ट्रेन बदली करने के लिए लुधियाना स्टेशन पर उतरी थी। ट्रेन से उतरते ही धर्मराज नामक टिकट चेकर ने उनको रोका और साढ़े तीन साल के बच्चे की टिकट नहीं होने पर उनसे मारपीट करने लगा। टिकट चेकर की गुंडागर्दी देखकर यात्री एकत्रित हो गए। देखते ही देखते स्टेशन परिसर में हंगामा हो गया। सूचना पाकर जीआरपी और आरपीएफ भी पहुंच गई। 

महिला यात्री और उसके परिजन आरोपी टिकट चेकर पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे, जबकि पुलिस उनका समझौता करवाने की कोशिश में थी। इस बात को लेकर करीब डेढ़ घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा होता रहा। इसके बाद मामला बढ़ते देख पुलिस ने महिला यात्री पर दबाव बनाना शुरू किया और कहा कि अगर वह कार्रवाई करवाएगी तो उसे अपना मेडिकल करवाना पड़ेगा, जिसमें 2 से 3 घंटे का समय लगेगा।

 

इसके बाद मामला दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू होगी, जिसमें एक से दो दिन लगेंगे। फिर उसे हर तारीख पर आजमगढ़ से लुधियाना आना पड़ेगा। यह सुनकर पीड़ित महिला और उसके पारिवारिक सदस्य नरम पड़ गए और पुलिस के दबाव में टिकट चेकर के साथ समझौते पर राजी हो गए। पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करवाकर मामले को शांत कर दिया। 

सीनियर डीसीएम ने टिकट चेकर को किया निलंबित

हालांकि पुलिस ने टिकट चेकर को बचाने के लिए दोनों पक्षों में समझौता करवाकर पूरे मामले को शांत कर दिया था। मगर महिला यात्री से बदतमीजी और उसे थप्पड़ मारने की सीसीटीवी फुटेज घटना के कुछ देर बाद ही वायरल हो गई। वीडियो फिरोजपुर मंडल के आला अधिकारियों तक पहुंच गई। इसके बाद सीनियर डीसीएम सुदीप सिंह ने आरोपी टिकट चेकर धर्मराज को निलंबित कर दिया।  

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here