Soldier Dulla Singh Who Was Martyred In Pahalgam, Was Cremated In Tarn Taran – Punjab: पहलगाम में शहीद हुए कांस्टेबल दुल्ला सिंह को दी अंतिम विदाई

0
12

ख़बर सुनें

श्री अमरनाथ यात्रा दौरान लगी ड्यूटी को निभाने के बाद लौट रहे इंडो तिब्बत बार्डर पुलिस (आइटीबीपी) के 40 जवानों की बस गहरे खाई में गिर पड़ी थी। नौ जवानों की जान चल गई थी। इन जवानों में से तरनतारन के गांव मनिहाला जय सिंह निवासी हेड कांस्टेबल दुल्ला सिंह का पार्थिव शरीर पोस्टमार्टम के बाद गांव पहुंचा तो पूरा इलाका गमगीन हो गया।

दुल्ला सिंह के अंतिम दर्शन करने के लिए इलाके के लोग उमड़ पड़े। पत्नी जगदीश कौर, बेटे तीर्थपाल सिंह, बेटी रमनदीप कौर व पवनदीप कौर का रो-रोकर बुरा हाल था। आईटीबीपी के जवानों की टुकड़ी ने हेड कांस्टेबल दुल्ला सिंह को मातमी धुन्न बजाकर अंतिम विदाई दी। जिसके बाद बेटे तीर्थपाल सिंह ने दुल्ला सिंह को मुखाग्नि दी।

खेमकरण के विधायक सरवन सिंह धुन्न, पूर्व विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर, विरसा सिंह वल्टोहा ने परिवार से संवेदना व्यक्त की।

विस्तार

श्री अमरनाथ यात्रा दौरान लगी ड्यूटी को निभाने के बाद लौट रहे इंडो तिब्बत बार्डर पुलिस (आइटीबीपी) के 40 जवानों की बस गहरे खाई में गिर पड़ी थी। नौ जवानों की जान चल गई थी। इन जवानों में से तरनतारन के गांव मनिहाला जय सिंह निवासी हेड कांस्टेबल दुल्ला सिंह का पार्थिव शरीर पोस्टमार्टम के बाद गांव पहुंचा तो पूरा इलाका गमगीन हो गया।

दुल्ला सिंह के अंतिम दर्शन करने के लिए इलाके के लोग उमड़ पड़े। पत्नी जगदीश कौर, बेटे तीर्थपाल सिंह, बेटी रमनदीप कौर व पवनदीप कौर का रो-रोकर बुरा हाल था। आईटीबीपी के जवानों की टुकड़ी ने हेड कांस्टेबल दुल्ला सिंह को मातमी धुन्न बजाकर अंतिम विदाई दी। जिसके बाद बेटे तीर्थपाल सिंह ने दुल्ला सिंह को मुखाग्नि दी।

खेमकरण के विधायक सरवन सिंह धुन्न, पूर्व विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर, विरसा सिंह वल्टोहा ने परिवार से संवेदना व्यक्त की।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here