Separate Fourlane Will Be Made From Shalaghat To Shimla, Big Change In Alignment, Center Approved – हिमाचल: शालाघाट से शिमला तक बनेगा अलग फोरलेन, अलाइनमेंट में बड़ा बदलाव, केंद्र ने दी मंजूरी

0
6

फोरलेन(सांकेतिक)

फोरलेन(सांकेतिक)
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

मटौर-शिमला फोरलेन के चरण-1 की अलाइनमेंट के बदलाव के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) को केंद्र सरकार से मंजूरी मिल गई है। अब शालाघाट से शिमला के लिए नया फोरलेन बनेगा। केंद्र से मंजूरी के बाद एनएचएआई डीपीआर बनाने में जुट गया है। नया फोरलेन अब शालाघाट से तारादेवी रेलवे स्टेशन के पास मिलेगा। इस फोरलेन के शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग से मिलने से शिमला शहर में वाहनों का दबाव भी कम होगा और शिमला जाने के लिए वर्तमान एनएच तथा फोरलेन दो विकल्प होंगे। एक सड़क के बंद होने पर भी वाहनों की आवाजाही बंद नहीं होगी।

बता दें कि पहले एनएच का विस्तारीकरण कर उसे फोरलेन बनाया जाना था, लेकिन अब इस मार्ग पर फोरलेन के साथ एनएच की सुविधा भी मिलती रहेगी। इससे शिमला जाने के लिए दोनों विकल्प उपलब्ध होंगे। एक सड़क बंद होने पर भी वाहनों की आवाजाही जारी रहेगी। इस फोरलेन के शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय शिमला शहर में वाहनों का दबाव कम होगा।

शालाघाट-शिमला (तारा देवी) फोरलेन अधिक ऊंचाई पर नहीं होगा। शहर में फोरलेन की वजह से इमारतों और अन्य संपत्ति का नुकसान भी कम होगा। शालाघाट से शिमला का वर्तमान सड़क मार्ग भी चलता रहेगा। इसी तरह फोरलेन का चरण-2 शालाघाट-भगेड़ (बिलासपुर) का थ्रीडी सर्वे लगभग पूरा हो गया है। बाउंड्री पिलर लगाने के बाद अब एनएचएआई ने थ्रीडी प्रक्रिया के तहत अधिकृत भूमि की मैपिंग की प्रक्रिया पूरी कर दी है। अब इस अधिकृत जमीन में आने वाले पेड़ों, मकानों आदि की गिनती की जाएगी। उसका ड्राफ्ट संबंधित उपमंडलाधिकारी को सौंपा जाएगा। इसके बाद उपमंडलाधिकारी मुआवजे की प्रक्रिया शुरू करेंगे। 

इन पांच चरणों में बनेगा फोरलेन
चरण-1 : शिमला से शालाघाट
चरण-2 : शालाघाट से भगेड़
चरण-3 : भगेड़ से हमीरपुर 
चरण-4 : हमीरपुर से ज्वालाजी
चरण-5 : ज्वालाजी से मटौर

शालाघाट से शिमला के लिए नए फोरलेन को केंद्र से स्वीकृति मिली है। यह फोरलेन शालाघाट से शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर तारा देवी रेलवे स्टेशन के पास मिलेगा। नौणी-शालाघाट फोरलेन की थ्रीडी प्रक्रिया लगभग पूरी होने को है। -विक्रम मीणा, परियोजना निदेशक, शिमला-मटौर फोरलेन 

विस्तार

मटौर-शिमला फोरलेन के चरण-1 की अलाइनमेंट के बदलाव के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) को केंद्र सरकार से मंजूरी मिल गई है। अब शालाघाट से शिमला के लिए नया फोरलेन बनेगा। केंद्र से मंजूरी के बाद एनएचएआई डीपीआर बनाने में जुट गया है। नया फोरलेन अब शालाघाट से तारादेवी रेलवे स्टेशन के पास मिलेगा। इस फोरलेन के शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग से मिलने से शिमला शहर में वाहनों का दबाव भी कम होगा और शिमला जाने के लिए वर्तमान एनएच तथा फोरलेन दो विकल्प होंगे। एक सड़क के बंद होने पर भी वाहनों की आवाजाही बंद नहीं होगी।

बता दें कि पहले एनएच का विस्तारीकरण कर उसे फोरलेन बनाया जाना था, लेकिन अब इस मार्ग पर फोरलेन के साथ एनएच की सुविधा भी मिलती रहेगी। इससे शिमला जाने के लिए दोनों विकल्प उपलब्ध होंगे। एक सड़क बंद होने पर भी वाहनों की आवाजाही जारी रहेगी। इस फोरलेन के शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय शिमला शहर में वाहनों का दबाव कम होगा।

शालाघाट-शिमला (तारा देवी) फोरलेन अधिक ऊंचाई पर नहीं होगा। शहर में फोरलेन की वजह से इमारतों और अन्य संपत्ति का नुकसान भी कम होगा। शालाघाट से शिमला का वर्तमान सड़क मार्ग भी चलता रहेगा। इसी तरह फोरलेन का चरण-2 शालाघाट-भगेड़ (बिलासपुर) का थ्रीडी सर्वे लगभग पूरा हो गया है। बाउंड्री पिलर लगाने के बाद अब एनएचएआई ने थ्रीडी प्रक्रिया के तहत अधिकृत भूमि की मैपिंग की प्रक्रिया पूरी कर दी है। अब इस अधिकृत जमीन में आने वाले पेड़ों, मकानों आदि की गिनती की जाएगी। उसका ड्राफ्ट संबंधित उपमंडलाधिकारी को सौंपा जाएगा। इसके बाद उपमंडलाधिकारी मुआवजे की प्रक्रिया शुरू करेंगे। 

इन पांच चरणों में बनेगा फोरलेन

चरण-1 : शिमला से शालाघाट

चरण-2 : शालाघाट से भगेड़

चरण-3 : भगेड़ से हमीरपुर 

चरण-4 : हमीरपुर से ज्वालाजी

चरण-5 : ज्वालाजी से मटौर

शालाघाट से शिमला के लिए नए फोरलेन को केंद्र से स्वीकृति मिली है। यह फोरलेन शालाघाट से शिमला-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर तारा देवी रेलवे स्टेशन के पास मिलेगा। नौणी-शालाघाट फोरलेन की थ्रीडी प्रक्रिया लगभग पूरी होने को है। -विक्रम मीणा, परियोजना निदेशक, शिमला-मटौर फोरलेन 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here