Russia-Ukraine War: क्या है ‘डर्टी बम’ और ये क्यों माना जाता है इतना डेंजरस?

0
27

हाइलाइट्स

रूस का आरोप- परमाणु हमले का दोष मढ़ने के लिए यूक्रेन डर्टी बम के विस्फोट की तैयारी में.
जिससे रूस युद्ध को आगे बढ़ाने के लिए मजबूर हो रहा है, जो अब नौवें महीने में प्रवेश कर चुका है.
दो दशक से पहले चेचन्या में डर्टी बम के दो असफल प्रयासों की सूचना मिली थी.

कीव. रूस ने यूक्रेन पर अब डर्टी बम के उपयोग की तैयारी करने आरोप लगाया है. अमेरिका ने इसे साफ झूठ करार देते हुए रूस के दावों को खारिज कर दिया है. अब यूक्रेन ने यूएन की परमाणु निगरानी संस्था को मामले की जांच करने के लिए कहा है. क्रेमलिन का आरोप है कि रूस पर परमाणु हमले का दोष मढ़ने के लिए यूक्रेन एक डर्टी बम के विस्फोट करने की तैयारी कर रहा है. जिससे रूस युद्ध को आगे बढ़ाने के लिए मजबूर हो रहा है, जो अब नौवें महीने में प्रवेश कर चुका है.

हालांकि आज तक किसी डर्टी बम हमला नहीं किया गया है. लेकिन दो दशक से भी अधिक समय पहले दक्षिणी रूसी प्रांत चेचन्या में इस तरह के एक डर्टी बम का विस्फोट करने के दो असफल प्रयासों की सूचना मिली थी. विशेषज्ञ का कहना है कि डर्टी बम का मनोवैज्ञानिक प्रभाव पड़ता है जो उनके इंसानी जिंदगी के लिए खतरे से कहीं अधिक है. ‘डर्टी बम’ को लंबे समय से आतंकवादियों के हाथों में पड़ने की आशंका जताई जाती रही है. क्योंकि इन बमों का मुख्य उद्देश्य वातावरण में रेडियोधर्मी धूल और धुएं को फैलाकर लोगों के बीच घबराहट, भ्रम और चिंता पैदा करना है.

डर्टी बम कैसे काम करता है?
डर्टी बम को तकनीकी रूप से रेडियोलॉजिकल तत्वों के फैलाने वाले उपकरणों के रूप में जाना जाता है. डर्टी बम अपेक्षाकृत पुराने तरीके के हथियारों की तरह हैं. वे परमाणु उपकरण की तुलना में बहुत आसान और सस्ते हैं और कम खतरनाक भी हैं. डर्टी बम पारंपरिक विस्फोटकों जैसे- डायनामाइट आदि का उपयोग करते हैं. इसके साथ रेडियोधर्मी सामग्री रखी जाती है, जो विस्फोट के बाद चारों ओर फैल जाती है. खतरनाक होते हुए भी बिखरे हुए रेडियोधर्मी पदार्थ की मात्रा घातक नहीं होती है. डर्टी बम में उपयोग होने वाली सामग्री दवा और उद्योग में इस्तेमाल होने वाले रेडियोधर्मी स्रोतों या रिसर्च सेंटर से हासिल की जा सकती है.

Russia-Ukraine war: रूस का यूक्रेन पर बड़ा आरोप, कहा-चेर्नोबिल में परमाणु बम बना रहा था कीव

डर्टी बम क्या नुकसान कर सकता है?
एक डर्टी बम से मरने वालों की संख्या और नुकसान कई कारणों पर निर्भर करती है. एक महत्वपूर्ण कारक उपयोग किए जाने वाले पारंपरिक विस्फोटकों की मात्रा और उनका प्रकार है, जो विस्फोट की भयावहता को निर्धारित करते हैं. इसमें रखे गए रेडियोधर्मी पदार्थों की मात्रा और प्रकार अन्य कारक हैं. मौसम की स्थिति- विशेष रूप से विस्फोट के समय हवा का बहाव एक बड़े इलाके को दूषित कर सकता है. डर्टी बम से ज्यादा लोगों की मौत होने की बजाय गंभीर बीमारी हो सकती है.

Tags: Russia, Russia ukraine war, Ukraine

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here