Pitru Paksha Shradh Will Start From This Day, At This Time One Should Do Tarpan, Pind Daan – Pitru Paksh 2022: इस दिन से शुरू होंगे पितृ पक्ष श्राद्ध, मध्याह्न काल में करें तर्पण और पिंडदान

0
8

ख़बर सुनें

इस वर्ष 10 सितंबर से पितृ पक्ष आरंभ हो रहा है। 16 दिनों तक श्राद्ध चलेंगे। वहीं 25 सितंबर को पितृ पक्ष श्राद्ध का समापन हो जाएगा। राधा कृष्ण गंज मंदिर के पुजारी उमेश नौटियाल ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पितृ पक्ष में मृत्यु की तिथि के अनुसार श्राद्ध किया जाता है।

अगर किसी मृत व्यक्ति की तिथि ज्ञात न हो तो ऐसी स्थिति में अमावस्या तिथि पर श्राद्ध किया जाता है। इस दिन सर्वपितृ श्राद्ध योग माना जाता है। 25 सितंबर को अमावस्या का श्राद्ध किया जाएगा। उमेश नौटियाल ने बताया कि पूर्णिमा व प्रतिपदा का श्राद्ध 10 सितंबर ( शनिवार) को होगा। लोगों द्वारा पितृ कार्य जैसे तर्पण, पिंडदान व ब्राह्मण को भोजन आदि  मध्याह्न काल में किए जाने चाहिए।

पितृ पक्ष में श्राद्ध की तिथियां
पूर्णिमा श्राद्ध – 10 सितंबर 2022 
प्रतिपदा श्राद्ध – 10 सितंबर 2022( दोपहर 3:30)
द्वितीया श्राद्ध – 11 सितंबर 2022
तृतीया श्राद्ध – 12 सितंबर 2022
चतुर्थी श्राद्ध – 13 सितंबर 2022
पंचमी श्राद्ध – 14 सितंबर 2022
षष्ठी श्राद्ध – 15 सितंबर 2022
सप्तमी श्राद्ध – 16 सितंबर 2022
अष्टमी श्राद्ध- 18 सितंबर 2022
नवमी श्राद्ध – 19 सितंबर 2022 
दशमी श्राद्ध – 20  सितंबर  2022
एकादशी श्राद्ध – 21 सितंबर 2022
द्वादशी श्राद्ध- 22 सितंबर 2022
त्रयोदशी श्राद्ध – 23 सितंबर 2022
चतुर्दशी श्राद्ध- 24 सितंबर 2022
अमावस्या श्राद्ध- 25 सितंबर 2022

विस्तार

इस वर्ष 10 सितंबर से पितृ पक्ष आरंभ हो रहा है। 16 दिनों तक श्राद्ध चलेंगे। वहीं 25 सितंबर को पितृ पक्ष श्राद्ध का समापन हो जाएगा। राधा कृष्ण गंज मंदिर के पुजारी उमेश नौटियाल ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पितृ पक्ष में मृत्यु की तिथि के अनुसार श्राद्ध किया जाता है।

अगर किसी मृत व्यक्ति की तिथि ज्ञात न हो तो ऐसी स्थिति में अमावस्या तिथि पर श्राद्ध किया जाता है। इस दिन सर्वपितृ श्राद्ध योग माना जाता है। 25 सितंबर को अमावस्या का श्राद्ध किया जाएगा। उमेश नौटियाल ने बताया कि पूर्णिमा व प्रतिपदा का श्राद्ध 10 सितंबर ( शनिवार) को होगा। लोगों द्वारा पितृ कार्य जैसे तर्पण, पिंडदान व ब्राह्मण को भोजन आदि  मध्याह्न काल में किए जाने चाहिए।

पितृ पक्ष में श्राद्ध की तिथियां

पूर्णिमा श्राद्ध – 10 सितंबर 2022 

प्रतिपदा श्राद्ध – 10 सितंबर 2022( दोपहर 3:30)

द्वितीया श्राद्ध – 11 सितंबर 2022

तृतीया श्राद्ध – 12 सितंबर 2022

चतुर्थी श्राद्ध – 13 सितंबर 2022

पंचमी श्राद्ध – 14 सितंबर 2022

षष्ठी श्राद्ध – 15 सितंबर 2022

सप्तमी श्राद्ध – 16 सितंबर 2022

अष्टमी श्राद्ध- 18 सितंबर 2022

नवमी श्राद्ध – 19 सितंबर 2022 

दशमी श्राद्ध – 20  सितंबर  2022

एकादशी श्राद्ध – 21 सितंबर 2022

द्वादशी श्राद्ध- 22 सितंबर 2022

त्रयोदशी श्राद्ध – 23 सितंबर 2022

चतुर्दशी श्राद्ध- 24 सितंबर 2022

अमावस्या श्राद्ध- 25 सितंबर 2022

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here