Home Punjab Monsoon Returned From Punjab Haryana And Chandigarh – पंजाब-हरियाणा से मानसून विदा:...

Monsoon Returned From Punjab Haryana And Chandigarh – पंजाब-हरियाणा से मानसून विदा: चंडीगढ़ में चार दिन देर तक रुका, 6.3% अधिक बरसात, अब बढ़ेगी ठंड

0
16

चंडीगढ़ में बारिश

चंडीगढ़ में बारिश
– फोटो : अमर उजाला (फाइल फोटो)

ख़बर सुनें

चंडीगढ़ से मानसून विदा हो गया। मौसम विभाग ने इसकी पुष्टि कर दी है। इस बार मानसून सामान्य से चार दिन की देरी से गया। इस वजह से बारिश भी सामान्य से छह फीसदी अधिक हुई। विभाग ने कहा है कि अब धीरे-धीरे ठंड बढ़ेगी।

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि 29 सितंबर को दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे चंडीगढ़ समेत पंजाब और हरियाणा के अधिकांश हिस्सों (जिला गुरुग्राम, फरीदाबाद और मेवात को छोड़कर) से विदा हो चुका है। चंडीगढ़ में अब आने वाले दिनों में मौसम साफ रहेगा। दिन के समय धूप निकलेगी जिससे लोगों को हल्की गर्मी का अहसास होगा। 

उन्होंने बताया कि इस सीजन में चंडीगढ़ में कुल 898.2 एमएम बारिश हुई जो औसत से 6.3 फीसदी ज्यादा है। सितंबर माह में मानसून के आखिरी दौर की बारिश ने पिछले 10 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। बीते शनिवार को सुबह 8:30 बजे से रविवार सुबह 8:30 बजे के बीच 24 घंटे में 120.6 एमएम पानी गिरा है, जो 10 वर्षों में सबसे ज्यादा है। रविवार को भी सुबह के समय चार घंटे बारिश हुई। इस दौरान सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे के बीच 21.1 एमएम बरसात हुई थी। 

आज मौसम साफ रहेगा
शहर में गुरुवार को अधिकतम तापमान 33.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 22.3 डिग्री दर्ज किया गया। रात के तापमान में भी गिरावट देखी जा रही है। पंचकूला में अधिकतम तापमान 33.2 डिग्री और मोहाली में 32.6 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को मौसम साफ रहेगा और दिन के समय धूप रहेगी। इस दौरान अधिकतम तापमान 33 डिग्री और न्यूनतम तापमान 22 डिग्री रहने की संभावना है।

आने वाले पांच दिनों का पूर्वानुमान

            दिन                    अधिकतम तापमान         न्यूनतम (डिग्री सेल्सियस)

  • 30 सितंबर                       33                               22
  • एक अक्टूबर                     33                               23
  • दो अक्टूबर                       33                               22
  • तीन अक्टूबर                    33                               22
  • चार अक्टूबर                    33                                23
हरियाणा के 80 प्रतिशत हिस्से से मानसून की विदाई
हरियाणा के 80 प्रतिशत हिस्से से मानूसन की विदाई हो गई है। मानसून सीजन में प्रदेश में सामान्य से आठ प्रतिशत ज्यादा बारिश हुई है। छह जिलों में सामान्य से कम और 16 जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश दर्ज की गई। मौसम विशेषज्ञ डॉ. चंद्रमोहन ने बताया कि उत्तर भारत के कई राज्यों से मानसून की विदाई हो गई है। 

आने वाले एक दो दिन में ही सम्पूर्ण मैदानी राज्यों से विदाई हो जाएगी। प्रदेश में इस साल मानसून अपने निर्धारित समय 30 जून पर सक्रिय हो गया था। जुलाई महीने में प्रदेश में मानसून सक्रिय रहा। वहीं, अगस्त और सितंबर में बिखराव वाली बारिश देखने को मिली। 

29 सितंबर तक प्रदेश में 465.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई, जबकि इस दौरान 430.1 मिलीमीटर सामान्य बारिश दर्ज होती है। हरियाणा के पूर्वी हिस्से में 5 से 10 अक्तूबर के दौरान हल्की से मध्यम बारिश और शेष हरियाणा में बिखराव वाली बारिश के आसार हैं। 

विस्तार

चंडीगढ़ से मानसून विदा हो गया। मौसम विभाग ने इसकी पुष्टि कर दी है। इस बार मानसून सामान्य से चार दिन की देरी से गया। इस वजह से बारिश भी सामान्य से छह फीसदी अधिक हुई। विभाग ने कहा है कि अब धीरे-धीरे ठंड बढ़ेगी।

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि 29 सितंबर को दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे चंडीगढ़ समेत पंजाब और हरियाणा के अधिकांश हिस्सों (जिला गुरुग्राम, फरीदाबाद और मेवात को छोड़कर) से विदा हो चुका है। चंडीगढ़ में अब आने वाले दिनों में मौसम साफ रहेगा। दिन के समय धूप निकलेगी जिससे लोगों को हल्की गर्मी का अहसास होगा। 

उन्होंने बताया कि इस सीजन में चंडीगढ़ में कुल 898.2 एमएम बारिश हुई जो औसत से 6.3 फीसदी ज्यादा है। सितंबर माह में मानसून के आखिरी दौर की बारिश ने पिछले 10 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। बीते शनिवार को सुबह 8:30 बजे से रविवार सुबह 8:30 बजे के बीच 24 घंटे में 120.6 एमएम पानी गिरा है, जो 10 वर्षों में सबसे ज्यादा है। रविवार को भी सुबह के समय चार घंटे बारिश हुई। इस दौरान सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे के बीच 21.1 एमएम बरसात हुई थी। 

Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: