Mla Ram Niwas Surjakheda Removed From Post Of Chairman Of Khadi Gram Udyog Bord – Haryana: जजपा विधायक को भारी पड़ा भाजपा प्रेम, दुष्यंत ने खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन पद से की छुट्टी

0
2

रामनिवास सुरजाखेड़ा और राजेंद्र तिलानी।

रामनिवास सुरजाखेड़ा और राजेंद्र तिलानी।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

हरियाणा के नरवाना से जजपा विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा को बागी तेवर अपनाने पर खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन पद से हटा दिया गया है। अक्तूबर 2021 में ही इस पद पर उनकी नियुक्ति हुई थी। वह एक वर्ष का कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सके। उनकी जगह जजपा के ही राष्ट्रीय संगठन सचिव राजेंद्र तिलानी को बोर्ड का नया चेयरमैन लगाया गया है। वह हिसार जिले के उकलाना के रहने वाले हैं।

जजपा विधायक का निकाय चुनाव के बाद भाजपा प्रेम जागा है। उन पर चुनावों में भी जजपा प्रत्याशी के खिलाफ काम करने के आरोप लगे। जून महीने में उन्होंने मुख्यमंत्री निवास में नरवाना की नवनियुक्ति चेयरमैन मुकेश मिर्धा के पति विशाल मिर्धा और अनेक पार्षदों को भाजपा में शामिल कराया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद पटका पहनाकर भाजपा की सदस्यता दिलाई थी। 

सुरजाखेड़ा ने ज्वाइनिंग के दौरान विशाल व पार्षदों के नाम खुद पढ़े थे। इसके साथ ही वह जजपा आलाकमान के निशाने पर आ गए। पार्टी ने सरकार ने उन्हें चेयरमैन पद से हटाने और तिलानी को चेयरमैन लगाने की सिफारिश की थी। गुरुवार को उन्हें कार्यमुक्त कर नई नियुक्ति कर दी गई। उनका कार्यकाल और नियुक्ति के नियम एवं शर्तें बाद में जारी की जाएंगी।

नई जिम्मेदारी मिलने पर राजेंद्र लितानी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का आभार जताया है। लितानी ने सरकार को विश्वास दिलाया कि दायित्व को वह निष्ठा पूर्वक पूरा करेंगे। खादी के विकास और कारीगरों के कल्याण के लिए पूरी गंभीरता के साथ कार्य किया जाएगा। बोर्ड से जुड़ी सभी योजनाओं से लाभार्थियों को लाभान्वित करेंगे। 

विस्तार

हरियाणा के नरवाना से जजपा विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा को बागी तेवर अपनाने पर खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन पद से हटा दिया गया है। अक्तूबर 2021 में ही इस पद पर उनकी नियुक्ति हुई थी। वह एक वर्ष का कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सके। उनकी जगह जजपा के ही राष्ट्रीय संगठन सचिव राजेंद्र तिलानी को बोर्ड का नया चेयरमैन लगाया गया है। वह हिसार जिले के उकलाना के रहने वाले हैं।

जजपा विधायक का निकाय चुनाव के बाद भाजपा प्रेम जागा है। उन पर चुनावों में भी जजपा प्रत्याशी के खिलाफ काम करने के आरोप लगे। जून महीने में उन्होंने मुख्यमंत्री निवास में नरवाना की नवनियुक्ति चेयरमैन मुकेश मिर्धा के पति विशाल मिर्धा और अनेक पार्षदों को भाजपा में शामिल कराया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद पटका पहनाकर भाजपा की सदस्यता दिलाई थी। 

सुरजाखेड़ा ने ज्वाइनिंग के दौरान विशाल व पार्षदों के नाम खुद पढ़े थे। इसके साथ ही वह जजपा आलाकमान के निशाने पर आ गए। पार्टी ने सरकार ने उन्हें चेयरमैन पद से हटाने और तिलानी को चेयरमैन लगाने की सिफारिश की थी। गुरुवार को उन्हें कार्यमुक्त कर नई नियुक्ति कर दी गई। उनका कार्यकाल और नियुक्ति के नियम एवं शर्तें बाद में जारी की जाएंगी।

नई जिम्मेदारी मिलने पर राजेंद्र लितानी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का आभार जताया है। लितानी ने सरकार को विश्वास दिलाया कि दायित्व को वह निष्ठा पूर्वक पूरा करेंगे। खादी के विकास और कारीगरों के कल्याण के लिए पूरी गंभीरता के साथ कार्य किया जाएगा। बोर्ड से जुड़ी सभी योजनाओं से लाभार्थियों को लाभान्वित करेंगे। 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here