Income Tax Department Raids At 18 Places Of Liquor Traders Shimla – शिमला: शराब कारोबारियों के 18 स्थानों पर आयकर विभाग के छापे

0
12

शराब ठेकों पर तैनात पुलिस।

शराब ठेकों पर तैनात पुलिस।
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के बीच शुक्रवार को आयकर विभाग ने शराब कारोबारियों के घरों और गोदामों में छापा मारा। विभाग के 200 अधिकारियों, कर्मचारियों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के जवानों ने आय से अधिक संपत्ति की आशंका के चलते एक साथ कोटखाई, खलटूनाला, संजौली, भट्ठाकुफर न्यू शिमला, सोलन में कई स्थानों के अलावा चंडीगढ़ में दबिश दी। शिमला और परवाणू की आयकर विभाग की टीमों ने यह संयुक्त कार्रवाई की। सुबह करीब छह बजे अलग-अलग टीमें इन कारोबारियों के घरों और शराब के गोदामों में पहुंचीं। देर रात तक आयकर विभाग की कार्रवाई जारी रही। बताया जा रहा है कि टीमें रात 10:30 बजे इन कारोबारियों के संपत्ति संबंधी दस्तावेज, नकदी और रिकॉर्ड साथ ले गईं हैं। अब विभाग इनकी आय से अधिक संपत्ति की जांच करेगा।

सूत्रों के अनुसार कोटखाई की रावला क्यार पंचायत के तहत जिला परिषद सदस्य अनिल कालटा, इंद्र कालटा और हेमपाल कालटा पेशे से कारोबारी हैं। इन तीनों भाइयों के शराब के ठेके, पेट्रोल पंप, क्रशर हैं और आढ़त का काम भी करते हैं। शुक्रवार तड़के इनके घर खलटूनाला में दबिश दी गई। बताया जा रहा है कि इनकी शिमला में भी संपत्ति है। आयकर विभाग की टीम ने सोलन में भी शराब कारोबारियों के समूह (एल वन) में छापा मारा। यहां भी देर रात तक कारोबारियों के घरों में आयकर विभाग की टीमें दस्तावेज खंगालती रहीं। जांच के दौरान घर के भीतर और घर के बाहर सीएपीएफ के जवान तैनात रहे। किसी को अंदर आने और बाहर जाने की अनुमति नहीं दी। आयकर विभाग के अधिकारी और कर्मचारी पंजाब और हरियाणा नंबर की इनोवा गाड़ी में पहुंचे थे।
 

विस्तार

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के बीच शुक्रवार को आयकर विभाग ने शराब कारोबारियों के घरों और गोदामों में छापा मारा। विभाग के 200 अधिकारियों, कर्मचारियों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के जवानों ने आय से अधिक संपत्ति की आशंका के चलते एक साथ कोटखाई, खलटूनाला, संजौली, भट्ठाकुफर न्यू शिमला, सोलन में कई स्थानों के अलावा चंडीगढ़ में दबिश दी। शिमला और परवाणू की आयकर विभाग की टीमों ने यह संयुक्त कार्रवाई की। सुबह करीब छह बजे अलग-अलग टीमें इन कारोबारियों के घरों और शराब के गोदामों में पहुंचीं। देर रात तक आयकर विभाग की कार्रवाई जारी रही। बताया जा रहा है कि टीमें रात 10:30 बजे इन कारोबारियों के संपत्ति संबंधी दस्तावेज, नकदी और रिकॉर्ड साथ ले गईं हैं। अब विभाग इनकी आय से अधिक संपत्ति की जांच करेगा।

सूत्रों के अनुसार कोटखाई की रावला क्यार पंचायत के तहत जिला परिषद सदस्य अनिल कालटा, इंद्र कालटा और हेमपाल कालटा पेशे से कारोबारी हैं। इन तीनों भाइयों के शराब के ठेके, पेट्रोल पंप, क्रशर हैं और आढ़त का काम भी करते हैं। शुक्रवार तड़के इनके घर खलटूनाला में दबिश दी गई। बताया जा रहा है कि इनकी शिमला में भी संपत्ति है। आयकर विभाग की टीम ने सोलन में भी शराब कारोबारियों के समूह (एल वन) में छापा मारा। यहां भी देर रात तक कारोबारियों के घरों में आयकर विभाग की टीमें दस्तावेज खंगालती रहीं। जांच के दौरान घर के भीतर और घर के बाहर सीएपीएफ के जवान तैनात रहे। किसी को अंदर आने और बाहर जाने की अनुमति नहीं दी। आयकर विभाग के अधिकारी और कर्मचारी पंजाब और हरियाणा नंबर की इनोवा गाड़ी में पहुंचे थे।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here