Iit Mandi Will Start Five Short Duration Courses – Iit Mandi: हिमाचल का आईआईटी मंडी शुरू करेगा अल्प अवधि के पांच कोर्स

0
2

आईआईटी मंडी

आईआईटी मंडी
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

युवाओं की औद्योगिक और इंजीनियरिंग संबंधित शैक्षिक योग्यताओं को बढ़ाने में आईआईटी मंडी मदद करेगा। हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम (एचपीकेवीएन) के सहयोग युवा पीढ़ी के कौशल विकास के लिए छोटी अवधि के पांच नए कोर्स शुरू कर रहा है। संस्थान के सेंटर फॉर कंटीन्युइंग एडुकेशन (सीसीई) के तहत यह कोर्स होंगे जो युवाओं को औद्योगिक, इंजीनियरिंग की चुनौतियों का व्यावहारिक ज्ञान देकर प्रतिभागियों को रोजगार योग्य बनाएंगे और जॉब मार्केट के लिए तैयार करेंगे। कोर्स एक माह की छोटी अवधि की है। कोर्स में पंजीकरण शुरू हो गया है। यह नि:शुल्क है। प्रतिभागियों को आईआईटी मंडी नि:शुल्क भोजन, आवास और शिक्षण सामग्री प्रदान करेगा। कोर्स सफलतापूर्वक पूरा करने वाले सभी प्रतिभागियों को आईआईटी मंडी भागीदारी प्रमाण पत्र भी प्रदान करेगा। अधिक जानकारी https://iitmandi.ac.in/new/events पर भी प्राप्त कर सकते हैं। 

ये ले सकते हैं हिस्सा
कोर्स में आईटी, डिप्लोमा इंजीनियर, इंजीनियरिंग के छात्र, कार्यरत इंजीनियर, हिमाचल प्रदेश के प्रौद्योगिकी संस्थानों के पोस्ट ग्रेजुएट और पीएचडी छात्र, शिक्षक/फैकल्टी भाग ले सकते हैं। इच्छुक उम्मीदवार आईआईटी मंडी की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

स्कूल कैंप में रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर केंद्रित पहले कोर्स की सफलता देख कर हम पांच नए कोर्स लांच करने जा रहे हैं। ये कोर्स एचपीकेवीएन, शिमला के सहयोग से हिमाचल की युवा पीढ़ी का कौशल विकास करेंगे। कोर्स में इंजीनियरिंग विषयों की कुछ खास ब्रांच का लक्ष्य रखा गया है, जो आईआईटी मंडी के विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में हिमाचल प्रदेश की युवा प्रतिभाओं को प्रशिक्षित करने और उन्हें वर्तमान जॉब मार्केट के लिए तैयार करने में सहायक हैं।-प्रो तुषार जैन, प्रमुख सीसीई आईआईटी मंडी

ये कोर्स होंगे शुरू
1. एंबेडेड सिस्टम का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स
2. इंडस्ट्रियल सिस्टम्स के लिए मॉडल प्रेडिक्टिव कंट्रोल
3. कम्प्यूटेशनल फ्लूइड डायनामिक्स का व्यावहारिक प्रशिक्षण
4. इंजीनियरिंग के लिए फाइनाइट एलिमेंट मॉडलिंग
5. प्रोडक्ट डिजाइन और मैन्युफैक्चरिंग का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स

 आईटीआई में प्रवेश लेने के लिए तिथि को फिर से बढ़ाया गया है। निदेशालय ने संबंधित अभ्यर्थियों को यह मौका प्रशिक्षण महानिदेशालय कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय भारत सरकार की ओर से तिथि बढ़ाए जाने के बाद दिया है। तकनीकी शिक्षा निदेशक विवेक चंदेल ने बताया कि सूबे के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए संस्थान स्तर पर 24 से 30 सितंबर तक किसी भी कार्य दिवस पर काउंसलिंग का स्पॉट राउंड करवाया जाएगा। स्पॉट राउंड में केवल ऑनलाइन एडमिशन पोर्टल पर पंजीकृत अभ्यर्थी ही आवेदन कर सकते हैं। इस लिए जो अभ्यर्थी ऑनलाइन एडमिशन पोर्टल पर पंजीकृत नहीं है, वे अपना पंजीकरण ऑनलाइन एडमिशन पोर्टल पर कर सकते हैं। वहीं पंजीकृत अभ्यर्थी की ओर से ऑनलाइन एडमिशन पोर्टल पर अपने एप्लीकेशन फार्म का प्रिंट निकालना भी जरूरी होगा।

न्होंने बताया कि ऑनलाइन एडमिशन पोर्ट पर पंजीकृत अभ्यर्थी को रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए संस्थान स्तर पर व्यक्तिगत रूप से आवेदन पत्र, दस्तावेज तथा फोटो युक्त आईडी कार्ड लेकर आना होगा। अभ्यर्थियों को प्रवेश के लिए उनके आवेदन पत्र दैनिक आधार पर सुबह 9:30 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक जमा करवाने होंगे, इसके बाद मेरिट लिस्ट बनाई जाएगी। वहीं दोपहर 2:30 से मेरिट लिस्ट के अनुसार रिक्त सीटों पर प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाएगी। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों तैयार की गई मेरिट लिस्ट मान्य नहीं होगी। प्रवेश मिलने की स्थिति में निर्धारित सभी प्रकार की फीस और फंडों को उसी समय जमा करवाना होगा, जबकि रिक्त सीटों बारे संबंधित संस्थान से व्यक्तिगत रूप या दूरभाष के माध्यम से जानकारी प्राप्त की जा सकेगी।

विस्तार

युवाओं की औद्योगिक और इंजीनियरिंग संबंधित शैक्षिक योग्यताओं को बढ़ाने में आईआईटी मंडी मदद करेगा। हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम (एचपीकेवीएन) के सहयोग युवा पीढ़ी के कौशल विकास के लिए छोटी अवधि के पांच नए कोर्स शुरू कर रहा है। संस्थान के सेंटर फॉर कंटीन्युइंग एडुकेशन (सीसीई) के तहत यह कोर्स होंगे जो युवाओं को औद्योगिक, इंजीनियरिंग की चुनौतियों का व्यावहारिक ज्ञान देकर प्रतिभागियों को रोजगार योग्य बनाएंगे और जॉब मार्केट के लिए तैयार करेंगे। कोर्स एक माह की छोटी अवधि की है। कोर्स में पंजीकरण शुरू हो गया है। यह नि:शुल्क है। प्रतिभागियों को आईआईटी मंडी नि:शुल्क भोजन, आवास और शिक्षण सामग्री प्रदान करेगा। कोर्स सफलतापूर्वक पूरा करने वाले सभी प्रतिभागियों को आईआईटी मंडी भागीदारी प्रमाण पत्र भी प्रदान करेगा। अधिक जानकारी https://iitmandi.ac.in/new/events पर भी प्राप्त कर सकते हैं। 

ये ले सकते हैं हिस्सा

कोर्स में आईटी, डिप्लोमा इंजीनियर, इंजीनियरिंग के छात्र, कार्यरत इंजीनियर, हिमाचल प्रदेश के प्रौद्योगिकी संस्थानों के पोस्ट ग्रेजुएट और पीएचडी छात्र, शिक्षक/फैकल्टी भाग ले सकते हैं। इच्छुक उम्मीदवार आईआईटी मंडी की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

स्कूल कैंप में रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर केंद्रित पहले कोर्स की सफलता देख कर हम पांच नए कोर्स लांच करने जा रहे हैं। ये कोर्स एचपीकेवीएन, शिमला के सहयोग से हिमाचल की युवा पीढ़ी का कौशल विकास करेंगे। कोर्स में इंजीनियरिंग विषयों की कुछ खास ब्रांच का लक्ष्य रखा गया है, जो आईआईटी मंडी के विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में हिमाचल प्रदेश की युवा प्रतिभाओं को प्रशिक्षित करने और उन्हें वर्तमान जॉब मार्केट के लिए तैयार करने में सहायक हैं।-प्रो तुषार जैन, प्रमुख सीसीई आईआईटी मंडी

ये कोर्स होंगे शुरू

1. एंबेडेड सिस्टम का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स

2. इंडस्ट्रियल सिस्टम्स के लिए मॉडल प्रेडिक्टिव कंट्रोल

3. कम्प्यूटेशनल फ्लूइड डायनामिक्स का व्यावहारिक प्रशिक्षण

4. इंजीनियरिंग के लिए फाइनाइट एलिमेंट मॉडलिंग

5. प्रोडक्ट डिजाइन और मैन्युफैक्चरिंग का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here