Himachal Weather Update, Snowfall In High Altitude Areas Areas Of Lahaul-spiti – Snowfall Himachal: लाहौल-स्पीति में बर्फबारी, 100 से अधिक सड़कें बाधित, अटल टनल पर्यटकों के लिए बंद

0
6

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में ऊंचाई वाले इलाकों में हुई बर्फबारी से सड़कें भर गई हैं।

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में ऊंचाई वाले इलाकों में हुई बर्फबारी से सड़कें भर गई हैं।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। प्रदेश किन्नौर, चंबा, लाहौल-स्पीति, शिमला, कुल्लू व सिरमौर जिले के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हुई है। रोहतांग, अटल टनल में भारी हिमपात हुआ है। इसके चलते एक ओर जहां पार लुढ़क गया है, वहीं पर्यटकों के चेहरे खिल गए हैं। बर्फबारी के चलते अटल टनल से पर्यटकों की आवाजाही बंद कर दी गई है। अटल टनल भी पर्यटकों के लिए बंद हो गई है।

बुधवार की रात जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति में बर्फबारी जबकि कुल्लू जिला में बारिश हुई है। जबकि गुरुवार सुबह करीब नौ बजे के बाद मौसम खुलने से लोगों ने राहत की सांस ली। ताजा बर्फबारी के बाद घाटी के तापमान में गिरावट आई है। बर्फबारी से मनाली-लेह मार्ग सहित जिला लाहौल-स्पीति में 100 से अधिक सड़कें बंद हो गई हैं। जिन्हें बहाल करने का कार्य शुरू कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार रोहतांग दर्रा में 60 सेंटीमीटर, कोकसर 30, सिस्सू 15, अटल टनल 10, दारचा10, केलांग में छह ,लोसर 15 सेंटीमीटर तक ताजा हिमपात हुआ है। इसके अलावा बारालाचा, कुंजम दर्रा व शिंकुला में भारी बर्फबारी हुई है। उपायुक्त सुमित खिमटा ने कहा कि बंद सड़कों को बहाल करने के लिए बीआरओ व लोनिवि की मशीनरी के साथ जुट गए हैं। जल्द ही घाटी में जनजीवन सामान्य होगा।

बर्फबारी के चलते कई बार सड़कों में वाहनों के स्किड होने का खतरा बना रहता है। हालांकि, नवंबर के दूसरे सप्ताह में हुई बर्फबारी को देखकर पर्यटन कारोबारी गदगद हैं। देश-विदेश से पर्यटकों के पहुंचने का फायदा मनाली व लाहौल-स्पीति के पर्यटन कारोबारियों को मिलेगा। 

लाहौल और उदयपुर में बर्फबारी की स्थिति

केलौंग 2 इंच
डारचा 3 इंच
सिस्सु 6 इंच
कोकसर 1 फीट
उदयपुर 3 इंच
टिंडी 2 इंच
लोसर 2 से 2.5 इंच

शुक्रवार से मौसम साफ
 किन्नौर के ऊंचे इलाकों में 8 से10 सेंटीमीटर ताजा हिमपात हुआ है। मौसम में आए बदलाव से समूचा क्षेत्र कड़ाके की ठंड की चपेट में है। इसके अलावा चंबा के ऊंचाई वाले भागों में भी बर्फबारी हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में 11 नवंबर से मौसम साफ रहने की संभावना है।

विस्तार

हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। प्रदेश किन्नौर, चंबा, लाहौल-स्पीति, शिमला, कुल्लू व सिरमौर जिले के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हुई है। रोहतांग, अटल टनल में भारी हिमपात हुआ है। इसके चलते एक ओर जहां पार लुढ़क गया है, वहीं पर्यटकों के चेहरे खिल गए हैं। बर्फबारी के चलते अटल टनल से पर्यटकों की आवाजाही बंद कर दी गई है। अटल टनल भी पर्यटकों के लिए बंद हो गई है।

बुधवार की रात जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति में बर्फबारी जबकि कुल्लू जिला में बारिश हुई है। जबकि गुरुवार सुबह करीब नौ बजे के बाद मौसम खुलने से लोगों ने राहत की सांस ली। ताजा बर्फबारी के बाद घाटी के तापमान में गिरावट आई है। बर्फबारी से मनाली-लेह मार्ग सहित जिला लाहौल-स्पीति में 100 से अधिक सड़कें बंद हो गई हैं। जिन्हें बहाल करने का कार्य शुरू कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार रोहतांग दर्रा में 60 सेंटीमीटर, कोकसर 30, सिस्सू 15, अटल टनल 10, दारचा10, केलांग में छह ,लोसर 15 सेंटीमीटर तक ताजा हिमपात हुआ है। इसके अलावा बारालाचा, कुंजम दर्रा व शिंकुला में भारी बर्फबारी हुई है। उपायुक्त सुमित खिमटा ने कहा कि बंद सड़कों को बहाल करने के लिए बीआरओ व लोनिवि की मशीनरी के साथ जुट गए हैं। जल्द ही घाटी में जनजीवन सामान्य होगा।

बर्फबारी के चलते कई बार सड़कों में वाहनों के स्किड होने का खतरा बना रहता है। हालांकि, नवंबर के दूसरे सप्ताह में हुई बर्फबारी को देखकर पर्यटन कारोबारी गदगद हैं। देश-विदेश से पर्यटकों के पहुंचने का फायदा मनाली व लाहौल-स्पीति के पर्यटन कारोबारियों को मिलेगा। 

लाहौल और उदयपुर में बर्फबारी की स्थिति

केलौंग 2 इंच
डारचा 3 इंच
सिस्सु 6 इंच
कोकसर 1 फीट
उदयपुर 3 इंच
टिंडी 2 इंच
लोसर 2 से 2.5 इंच

शुक्रवार से मौसम साफ

 किन्नौर के ऊंचे इलाकों में 8 से10 सेंटीमीटर ताजा हिमपात हुआ है। मौसम में आए बदलाव से समूचा क्षेत्र कड़ाके की ठंड की चपेट में है। इसके अलावा चंबा के ऊंचाई वाले भागों में भी बर्फबारी हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में 11 नवंबर से मौसम साफ रहने की संभावना है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here