Himachal Pradesh Election: Yogi Adityanath Most Demanded Bjp Leader For Rallies – Himachal Pradesh Election: हिमाचल में है सीएम योगी की सबसे ज्यादा मांग, रैलियों की तैयारियों में जुटी भाजपा

0
20

Himachal Pradesh Election: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Himachal Pradesh Election: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
– फोटो : Agency (File Photo)

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश के विधानसभा के चुनावों में भाजपा नेताओं का पूरा अमला चुनावी मैदान में उतरने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी समेत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। इतने नेताओं की रैलियों में सबसे अहम बात यह है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मांग हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा बनी हुई है। यही वजह है कि भाजपा की ओर से योगी आदित्यनाथ की हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा रैलियों का प्रस्ताव बनाया जा रहा है। भाजपा की चुनावी रणनीति बनाने वाले नेताओं का कहना है फिलहाल प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की रैलियों की तारीखें घोषित कर दी गई हैं। बाकी अन्य नेताओं के समय रहते हैं चुनावी रैलियां घोषित की जाती रहेंगी।

कम से कम 10 रैलियां करेंगे योगी आदित्यनाथ

भाजपा सीएम योगी की हिमाचल प्रदेश में तकरीबन दस चुनावी रैलियां आयोजित करने का प्रस्ताव बना रही है। अपनी इन 10 रैलियों के अलावा योगी आदित्यनाथ तकरीबन बीस से ज्यादा जनसभाएं कर सकते हैं। हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी इन रैलियों का एलान तो नहीं हुआ है, लेकिन शुक्रवार तक रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया जाएगा। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व से जुड़े एक वरिष्ठ नेता कहते हैं कि योगी आदित्यनाथ भाजपा के उन चेहरों में शामिल हैं, जो अपनी सरकार के कामकाज और बेहतर कानून व्यवस्था के साथ-साथ अपराधियों और विरोधियों में एक कड़क नेतृत्व क्षमता वाले नेता के तौर पर पहचाने जाते हैं। उक्त नेता का कहना है कि योगी आदित्यनाथ की छवि से हिमाचल भाजपा को बहुत फायदा होगा।

भाजपा से जुड़े सूत्रों के मुताबिक योगी आदित्यनाथ की रैली के अलावा प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी समेत कई बड़े नेताओं की भी रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। भाजपा की प्रचार समिति से जुड़े एक वरिष्ठ कार्यकर्ता का कहना है कि योगी आदित्यनाथ की 10 रैलियों के साथ-साथ प्रधानमंत्री मोदी की हिमाचल में तीन रैलियों का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है, जिसमें एक रैली 5 नवंबर को तय हो गई है। प्रधानमंत्री मोदी चुनावी अधिसूचना जारी होने से पहले दो बार हिमाचल प्रदेश का पहले से ही दौरा कर चुके हैं। तय योजना के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों का प्रस्ताव हिमाचल के ऊपरी जिलों में तय किया गया है, जिसमें मंडी, शिमला और हमीरपुर की विधानसभाओं में रैलियों का प्रस्ताव है।

पीएम मोदी का हिमाचल की जनता से सीधा संवाद

भाजपा से जुड़े एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी की रैलियों का असर आने वाले विधानसभा के चुनावों के परिणामों पर जबरदस्त तौर पर पड़ेगा। वह कहते हैं प्रधानमंत्री मोदी का हिमाचल से शुरुआती दौर से गहरा नाता रहा है। वह किसी स्थानीय नेता से बेहतर हिमाचल प्रदेश की जनता और हिमाचल प्रदेश के भौगोलिक परिस्थितियों को न सिर्फ समझते हैं बल्कि उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए उतने ही तत्पर रहते हैं, जितना कि कोई भी हिमाचल का स्थानीय भाजपा नेता। यही वजह है कि उनका सीधा कनेक्ट हिमाचल की जनता से बना हुआ है और चुनावी रैलियों के माध्यम से व जनता से सीधा संवाद करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी और योगी आदित्यनाथ के बाद सबसे ज्यादा रैलियां भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की तय हो रही हैं। जानकारी के मुताबिक जेपी नड्डा हिमाचल प्रदेश में 20 से ज्यादा बड़ी रैलियों को संबोधित करेंगे। इसके अलावा डोर टू डोर कैंपेनिंग में भी जेपी नड्डा अलग-अलग इलाकों में जाकर जनता से सीधे रूबरू होंगे। भाजपा की चुनाव समिति से जुड़े एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक के अलावा गृह मंत्री अमित शाह की चार रैलियां हिमाचल प्रदेश में प्रस्तावित हैं, जिसमें एक रैली तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के बाद ही होनी है। अमित शाह के अलावा भाजपा ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की भी चार रैलियों का प्रस्ताव हिमाचल प्रदेश के लिए तैयार किया है। जबकि सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के लिए दो रैलियों की योजना बनाई गई है। इसके अलावा भाजपा के स्टार प्रचारकों की रैलियों का भी पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। हिमाचल के युवा नेता और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की रैलियों का पूरा खाका तैयार है। अनुराग ठाकुर वैसे तो हिमाचल चुनाव में लगातार रैलियों और जनसभाओं के माध्यम से जनता से संपर्क कर रहे हैं। शुक्रवार तक इन सभी रैलियों की आधिकारिक रूपरेखा तैयार कर ली जाएगी।

भाजपा के हिमाचल प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना कहते हैं कि उनकी पार्टी प्रदेश में बहुत मजबूती से चुनाव लड़ रही है। उनका कहना है कि पार्टी ने एक-एक बूथ पर अपने प्रबंधन के पुख्ता बंदोबस्त करके पन्ना प्रमुख तक को जिम्मेदारियां दे दी गई हैं। उनका कहना है चुनावी रैलियों में पार्टी के बड़े नेता पहुंच रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी से लेकर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हैं।

विस्तार

हिमाचल प्रदेश के विधानसभा के चुनावों में भाजपा नेताओं का पूरा अमला चुनावी मैदान में उतरने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी समेत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। इतने नेताओं की रैलियों में सबसे अहम बात यह है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मांग हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा बनी हुई है। यही वजह है कि भाजपा की ओर से योगी आदित्यनाथ की हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा रैलियों का प्रस्ताव बनाया जा रहा है। भाजपा की चुनावी रणनीति बनाने वाले नेताओं का कहना है फिलहाल प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की रैलियों की तारीखें घोषित कर दी गई हैं। बाकी अन्य नेताओं के समय रहते हैं चुनावी रैलियां घोषित की जाती रहेंगी।

कम से कम 10 रैलियां करेंगे योगी आदित्यनाथ

भाजपा सीएम योगी की हिमाचल प्रदेश में तकरीबन दस चुनावी रैलियां आयोजित करने का प्रस्ताव बना रही है। अपनी इन 10 रैलियों के अलावा योगी आदित्यनाथ तकरीबन बीस से ज्यादा जनसभाएं कर सकते हैं। हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी इन रैलियों का एलान तो नहीं हुआ है, लेकिन शुक्रवार तक रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया जाएगा। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व से जुड़े एक वरिष्ठ नेता कहते हैं कि योगी आदित्यनाथ भाजपा के उन चेहरों में शामिल हैं, जो अपनी सरकार के कामकाज और बेहतर कानून व्यवस्था के साथ-साथ अपराधियों और विरोधियों में एक कड़क नेतृत्व क्षमता वाले नेता के तौर पर पहचाने जाते हैं। उक्त नेता का कहना है कि योगी आदित्यनाथ की छवि से हिमाचल भाजपा को बहुत फायदा होगा।

भाजपा से जुड़े सूत्रों के मुताबिक योगी आदित्यनाथ की रैली के अलावा प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी समेत कई बड़े नेताओं की भी रैलियों का पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। भाजपा की प्रचार समिति से जुड़े एक वरिष्ठ कार्यकर्ता का कहना है कि योगी आदित्यनाथ की 10 रैलियों के साथ-साथ प्रधानमंत्री मोदी की हिमाचल में तीन रैलियों का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है, जिसमें एक रैली 5 नवंबर को तय हो गई है। प्रधानमंत्री मोदी चुनावी अधिसूचना जारी होने से पहले दो बार हिमाचल प्रदेश का पहले से ही दौरा कर चुके हैं। तय योजना के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों का प्रस्ताव हिमाचल के ऊपरी जिलों में तय किया गया है, जिसमें मंडी, शिमला और हमीरपुर की विधानसभाओं में रैलियों का प्रस्ताव है।

पीएम मोदी का हिमाचल की जनता से सीधा संवाद

भाजपा से जुड़े एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी की रैलियों का असर आने वाले विधानसभा के चुनावों के परिणामों पर जबरदस्त तौर पर पड़ेगा। वह कहते हैं प्रधानमंत्री मोदी का हिमाचल से शुरुआती दौर से गहरा नाता रहा है। वह किसी स्थानीय नेता से बेहतर हिमाचल प्रदेश की जनता और हिमाचल प्रदेश के भौगोलिक परिस्थितियों को न सिर्फ समझते हैं बल्कि उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए उतने ही तत्पर रहते हैं, जितना कि कोई भी हिमाचल का स्थानीय भाजपा नेता। यही वजह है कि उनका सीधा कनेक्ट हिमाचल की जनता से बना हुआ है और चुनावी रैलियों के माध्यम से व जनता से सीधा संवाद करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी और योगी आदित्यनाथ के बाद सबसे ज्यादा रैलियां भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की तय हो रही हैं। जानकारी के मुताबिक जेपी नड्डा हिमाचल प्रदेश में 20 से ज्यादा बड़ी रैलियों को संबोधित करेंगे। इसके अलावा डोर टू डोर कैंपेनिंग में भी जेपी नड्डा अलग-अलग इलाकों में जाकर जनता से सीधे रूबरू होंगे। भाजपा की चुनाव समिति से जुड़े एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक के अलावा गृह मंत्री अमित शाह की चार रैलियां हिमाचल प्रदेश में प्रस्तावित हैं, जिसमें एक रैली तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के बाद ही होनी है। अमित शाह के अलावा भाजपा ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की भी चार रैलियों का प्रस्ताव हिमाचल प्रदेश के लिए तैयार किया है। जबकि सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के लिए दो रैलियों की योजना बनाई गई है। इसके अलावा भाजपा के स्टार प्रचारकों की रैलियों का भी पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। हिमाचल के युवा नेता और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की रैलियों का पूरा खाका तैयार है। अनुराग ठाकुर वैसे तो हिमाचल चुनाव में लगातार रैलियों और जनसभाओं के माध्यम से जनता से संपर्क कर रहे हैं। शुक्रवार तक इन सभी रैलियों की आधिकारिक रूपरेखा तैयार कर ली जाएगी।

भाजपा के हिमाचल प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना कहते हैं कि उनकी पार्टी प्रदेश में बहुत मजबूती से चुनाव लड़ रही है। उनका कहना है कि पार्टी ने एक-एक बूथ पर अपने प्रबंधन के पुख्ता बंदोबस्त करके पन्ना प्रमुख तक को जिम्मेदारियां दे दी गई हैं। उनका कहना है चुनावी रैलियों में पार्टी के बड़े नेता पहुंच रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी से लेकर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here