Himachal Election 2022, Hoarding War Broke Out Between Congress And Bjp, Paying Rent Of Thousands – हिमाचल चुनाव: कांग्रेस और भाजपा में छिड़ा होर्डिंग वार, हजारों का चुका रहे किराया

0
10

कांग्रेस और भाजपा में छिड़ा होर्डिंग वार

कांग्रेस और भाजपा में छिड़ा होर्डिंग वार
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजधानी शिमला में भाजपा और कांग्रेस में होर्डिंग वार शुरू हो गया है। शिमला की प्राइम लोकेशन लिफ्ट कार पार्किंग पर भाजपा और कांग्रेस ने 45 बाई 50 फीट के विशालकाय होर्डिंग लगाए हैं। होर्डिंग का आकार इतना बड़ा है कि पार्किंग की 4-4 मंजिलें इनसे ढक गई हैं। दोनों दलों ने 10 दिन के लिए होर्डिंग लगाने के एवज में 15 से 20 हजार रुपये किराया चुकाया है। भाजपा ने 31 अक्तूबर की रात होर्डिंग लगवाया और दूसरे ही दिन पहली नवंबर की रात कांग्रेस ने भी इसी आकार का होर्डिंग लगवा दिया। शहर में पहली बार लगे इतने बड़े आकार के होर्डिंग लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गए हैं।

कांग्रेस के होर्डिंग में ‘आ रही है कांग्रेस’ का नारा प्रदर्शित है, जबकि भाजपा के होर्डिंग में ‘देश का हो रहा सांस्कृतिक पुनरुत्थान’ प्रदर्शित है। भाजपा के होर्डिंग में अयोध्या के दीपोत्सव कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे प्रधानमंत्री की तस्वीर है। शिमला शहरी सीट से चुनाव मैदान में उतरी आम आदमी पार्टी और माकपा का लिफ्ट कार पार्किंग पर कोई होर्डिंग नहीं है। जबकि निर्दलीय ताल ठोक रहे अभिषेक बारोवालिया ने छोटे आकार के तीन होर्डिंग यहां लगाए हैं। नगर निगम की मैट्रोपोल पार्किंग पर भी कांग्रेस का एक होर्डिंग लगा है।

भाजपा को मोदी, कांग्रेस को वीरभद्र का सहारा
भाजपा ने होर्डिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी तस्वीर लगाई है, जबकि चुनाव चिन्ह कमल के फूल को बहुत छोटा स्थान दिया है। किसी अन्य नेता की तस्वीर होर्डिंग में नहीं है। इसके विपरीत कांग्रेस के होर्डिंग में चुनाव चिन्ह हाथ को प्रमुख स्थान दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की बड़ी तस्वीर इस्तेमाल हुई है। इसके अलावा मल्लिका अर्जुन खरगे, सोनिया गांधी, राहुल, प्रियंका, प्रतिभा, मुकेश अग्निहात्री और सुखविंद्र सुक्खू की छोटी तस्वीरें इस्तेमाल की हैं।

विस्तार

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजधानी शिमला में भाजपा और कांग्रेस में होर्डिंग वार शुरू हो गया है। शिमला की प्राइम लोकेशन लिफ्ट कार पार्किंग पर भाजपा और कांग्रेस ने 45 बाई 50 फीट के विशालकाय होर्डिंग लगाए हैं। होर्डिंग का आकार इतना बड़ा है कि पार्किंग की 4-4 मंजिलें इनसे ढक गई हैं। दोनों दलों ने 10 दिन के लिए होर्डिंग लगाने के एवज में 15 से 20 हजार रुपये किराया चुकाया है। भाजपा ने 31 अक्तूबर की रात होर्डिंग लगवाया और दूसरे ही दिन पहली नवंबर की रात कांग्रेस ने भी इसी आकार का होर्डिंग लगवा दिया। शहर में पहली बार लगे इतने बड़े आकार के होर्डिंग लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गए हैं।

कांग्रेस के होर्डिंग में ‘आ रही है कांग्रेस’ का नारा प्रदर्शित है, जबकि भाजपा के होर्डिंग में ‘देश का हो रहा सांस्कृतिक पुनरुत्थान’ प्रदर्शित है। भाजपा के होर्डिंग में अयोध्या के दीपोत्सव कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे प्रधानमंत्री की तस्वीर है। शिमला शहरी सीट से चुनाव मैदान में उतरी आम आदमी पार्टी और माकपा का लिफ्ट कार पार्किंग पर कोई होर्डिंग नहीं है। जबकि निर्दलीय ताल ठोक रहे अभिषेक बारोवालिया ने छोटे आकार के तीन होर्डिंग यहां लगाए हैं। नगर निगम की मैट्रोपोल पार्किंग पर भी कांग्रेस का एक होर्डिंग लगा है।

भाजपा को मोदी, कांग्रेस को वीरभद्र का सहारा

भाजपा ने होर्डिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी तस्वीर लगाई है, जबकि चुनाव चिन्ह कमल के फूल को बहुत छोटा स्थान दिया है। किसी अन्य नेता की तस्वीर होर्डिंग में नहीं है। इसके विपरीत कांग्रेस के होर्डिंग में चुनाव चिन्ह हाथ को प्रमुख स्थान दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की बड़ी तस्वीर इस्तेमाल हुई है। इसके अलावा मल्लिका अर्जुन खरगे, सोनिया गांधी, राहुल, प्रियंका, प्रतिभा, मुकेश अग्निहात्री और सुखविंद्र सुक्खू की छोटी तस्वीरें इस्तेमाल की हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here