Himachal Election 2022 Congress Spokesperson Supriya Shrinate Statement On Jp Nadda – Himachal Election: सुप्रिया श्रीनेत बोलीं- भाजपा के बागियों को मनाने में नाकाम हुए नड्डा

0
6

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत।
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि हार से बौखलाई हुई भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बागियों को मनाने में पूरी तरह नाकाम हुए हैं। नड्डा बागियों को फोन कर उन्हें जीवन का वास्ता देकर चुनावी मैदान से हटने की बात कर रहे हैं। इसका जीता जागता सबूत भाजपा नेता कृपाल परमार हैं। 

उन्होंने कहा कि पांच साल सरकार में रहने के बाद अपना रिपोर्ट दिखाने के बजाय चुनाव चिह्न पर वोट मांगना सरकार की नाकामी को दर्शाता है। भाजपा राज में अग्निवीर स्कीम लाकर युवाओं के भविष्य को अंधकार में धकेल रहे हैं। 2024 में केंद्र में कांग्रेस सरकार आने पर अग्निवीर योजना को कांग्रेस की ओर से हटाया जाएगा। 

उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ और राजस्थान में ओल्ड पेंशन स्कीम (ओपीएस) को बहाल किया है। अब हिमाचल में भी कांग्रेस ओपीएस को बहाल करेगी। वहीं, मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर पूछे गए सवाल को लेकर उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की जीत के बाद विधायक मंडल अपना नेता खुद चुनेगा।  

पूछा, प्रदेश में क्यों खाली हैं 63,000 सरकारी पद
भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र पर सवाल उठाते हुए सुप्रिया ने पूछा कि हर साल आठ लाख नौकरियां देने की घोषणा की है, लेकिन भाजपा बताए कि पांच साल से हिमाचल में 63,000 सरकारी पद खाली क्यों पड़े हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा की ओर से 2017 में स्वर्णिम हिमाचल संकल्प पत्र में महिला सुरक्षा से लेकर माफिया राज को समाप्त करने की बात कही गई थी, लेकिन भाजपा राज में खनन माफिया, वन माफिया, पेपर माफिया और पुलिस भर्ती घोटाला को बढ़ावा मिला है। गुड़िया हेल्पलाइन में आज दिन तक 8,500 शिकायतें ऐसी हैं, जिनका आज तक निपटारा नहीं हो पाया है।

विस्तार

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि हार से बौखलाई हुई भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बागियों को मनाने में पूरी तरह नाकाम हुए हैं। नड्डा बागियों को फोन कर उन्हें जीवन का वास्ता देकर चुनावी मैदान से हटने की बात कर रहे हैं। इसका जीता जागता सबूत भाजपा नेता कृपाल परमार हैं। 

उन्होंने कहा कि पांच साल सरकार में रहने के बाद अपना रिपोर्ट दिखाने के बजाय चुनाव चिह्न पर वोट मांगना सरकार की नाकामी को दर्शाता है। भाजपा राज में अग्निवीर स्कीम लाकर युवाओं के भविष्य को अंधकार में धकेल रहे हैं। 2024 में केंद्र में कांग्रेस सरकार आने पर अग्निवीर योजना को कांग्रेस की ओर से हटाया जाएगा। 

उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ और राजस्थान में ओल्ड पेंशन स्कीम (ओपीएस) को बहाल किया है। अब हिमाचल में भी कांग्रेस ओपीएस को बहाल करेगी। वहीं, मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर पूछे गए सवाल को लेकर उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की जीत के बाद विधायक मंडल अपना नेता खुद चुनेगा।  

पूछा, प्रदेश में क्यों खाली हैं 63,000 सरकारी पद

भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र पर सवाल उठाते हुए सुप्रिया ने पूछा कि हर साल आठ लाख नौकरियां देने की घोषणा की है, लेकिन भाजपा बताए कि पांच साल से हिमाचल में 63,000 सरकारी पद खाली क्यों पड़े हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा की ओर से 2017 में स्वर्णिम हिमाचल संकल्प पत्र में महिला सुरक्षा से लेकर माफिया राज को समाप्त करने की बात कही गई थी, लेकिन भाजपा राज में खनन माफिया, वन माफिया, पेपर माफिया और पुलिस भर्ती घोटाला को बढ़ावा मिला है। गुड़िया हेल्पलाइन में आज दिन तक 8,500 शिकायतें ऐसी हैं, जिनका आज तक निपटारा नहीं हो पाया है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here