Himachal Election 2022: Battle Become Triangle In Ghumarwin Assembly Constituency – Himachal Election 2022: जिले की सबसे ज्यादा मतदाताओं वाले घुमारवीं विस में मुकाबला त्रिकोणीय

0
7

हिमाचल विधानसभा चुनाव 2022

हिमाचल विधानसभा चुनाव 2022
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

 जिले में सबसे ज्यादा मतदाताओं वाले घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में मुकाबला त्रिकोणीय बना हुआ है। साल 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने यहां जीत दर्ज की थी। इस बार भाजपा से खफा होकर आम आदमी पार्टी में शामिल होकर चुनाव लड़ रहे राकेश चोपड़ा ने मुकाबले को रोचक बना दिया है। चोपड़ा के चुनाव में उतरने से भाजपा की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। 1972 से अब तक इस सीट से छह बार कांग्रेस ने जीत दर्ज की है, लेकिन इस बार कांग्रेस प्रत्याशी की राह भी आसान नहीं दिख रही है। 

विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के मैदान में उतरने के बाद दोनों बड़ी पार्टियों के उम्मीदवारों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। राकेश चोपड़ा इससे पहले भाजपा के सदस्य थे। खाद्य आपूर्ति मंत्री एवं भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र गर्ग से दूरियों के चलते चोपड़ा ने भाजपा छोड़कर आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया और घुमारवीं से चुनावी मैदान में उतरे हैं।

चोपड़ा घुमारवीं नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष भी रह चुके हैं। इसके चलते क्षेत्र में उनकी अपनी एक खास पहचान है। 2017 में घुमारवीं में कुल 57.96 प्रतिशत वोट पड़े थे। 2017 में भारतीय जनता पार्टी से राजेंद्र गर्ग ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजेश धर्माणी को 10,435 वोटों के अंतर से हराया था।  
    
अब तक कौन-कौन रहा विधायक
1972        सीता राम         कांग्रेस
1977        नारायण सिंह स्वामी जनता पार्टी   
1982        नारायण सिंह स्वामी    भाजपा
1985        कश्मीर सिंह        कांग्रेस   
1990        कर्मदेव धर्माणी    भाजपा   
1993        कश्मीर सिंह        कांग्रेस
1998        कश्मीर सिंह        कांग्रेस
2003        कर्म देव धर्माणी    भाजपा
2007        राजेश धर्माणी        कांग्रेस
2012        राजेश धर्माणी        कांग्रेस       
2017        राजेंद्र गर्ग        भाजपा     

कुल मतदाता   88,748
महिला मतदाता  44,804
पुरुष वोटर    43,943
अन्य        एक

विस्तार

 जिले में सबसे ज्यादा मतदाताओं वाले घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में मुकाबला त्रिकोणीय बना हुआ है। साल 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने यहां जीत दर्ज की थी। इस बार भाजपा से खफा होकर आम आदमी पार्टी में शामिल होकर चुनाव लड़ रहे राकेश चोपड़ा ने मुकाबले को रोचक बना दिया है। चोपड़ा के चुनाव में उतरने से भाजपा की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। 1972 से अब तक इस सीट से छह बार कांग्रेस ने जीत दर्ज की है, लेकिन इस बार कांग्रेस प्रत्याशी की राह भी आसान नहीं दिख रही है। 

विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के मैदान में उतरने के बाद दोनों बड़ी पार्टियों के उम्मीदवारों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। राकेश चोपड़ा इससे पहले भाजपा के सदस्य थे। खाद्य आपूर्ति मंत्री एवं भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र गर्ग से दूरियों के चलते चोपड़ा ने भाजपा छोड़कर आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया और घुमारवीं से चुनावी मैदान में उतरे हैं।

चोपड़ा घुमारवीं नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष भी रह चुके हैं। इसके चलते क्षेत्र में उनकी अपनी एक खास पहचान है। 2017 में घुमारवीं में कुल 57.96 प्रतिशत वोट पड़े थे। 2017 में भारतीय जनता पार्टी से राजेंद्र गर्ग ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजेश धर्माणी को 10,435 वोटों के अंतर से हराया था।  

    

अब तक कौन-कौन रहा विधायक

1972        सीता राम         कांग्रेस

1977        नारायण सिंह स्वामी जनता पार्टी   

1982        नारायण सिंह स्वामी    भाजपा

1985        कश्मीर सिंह        कांग्रेस   

1990        कर्मदेव धर्माणी    भाजपा   

1993        कश्मीर सिंह        कांग्रेस

1998        कश्मीर सिंह        कांग्रेस

2003        कर्म देव धर्माणी    भाजपा

2007        राजेश धर्माणी        कांग्रेस

2012        राजेश धर्माणी        कांग्रेस       

2017        राजेंद्र गर्ग        भाजपा     

कुल मतदाता   88,748

महिला मतदाता  44,804

पुरुष वोटर    43,943

अन्य        एक

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here