Chargesheet Filed Against Ias Sanjay Popli – भ्रष्टाचार मामला: Ias संजय पोपली के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल, विजिलेंस ने 55 लोगों को बनाया गवाह

0
14

ख़बर सुनें

भ्रष्टाचार के आरोप में जेल में बंद पंजाब के आईएएस संजय पोपली और उनके साथी संदीप वत्स के खिलाफ विजिलेंस ने शुक्रवार को अदालत में आरोप पत्र दायर किया है। 20 पन्नों के आरोप पत्र में विजिलेंस ने केस की मजबूती के लिए 55 गवाह बनाए हैं। अब केस का ट्रायल शुरू होगा।

विजिलेंस टीम ने 21 जून को संजय पोपली को गिरफ्तार किया था। पोपली पर सात करोड़ रुपये के टेंडर पास करने के एवज में एक फीसदी रिश्वत लेने का आरोप है। इस मामले में शिकायतकर्ता करनाल निवासी संजय कुमार हैं। 

उन्होंने अपनी शिकायत में बताया था कि वह कोऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड नाम की एक फर्म से जुड़े हैं और सरकारी ठेकेदार हैं। जब संजय पोपली वाटर सप्लाई एवं सीवरेज बोर्ड में सीईओ के पद पर थे तो उन्होंने अपने सहायक सचिव संदीप वत्स के साथ मिलकर साढ़े सात करोड़ रुपये का टेंडर पास करने के लिए रिश्वत की मांग की थी। 

रिश्वत के तौर पर पहली किस्त दे भी दी थी। दूसरी रकम देने के दौरान पोपली को चंडीगढ़ और संदीप वत्स को जालंधर से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के दौरान संजय पोपली के घर से सोने की 9 ईंट, 49 बिस्कुट, 12 सिक्के, चांदी की तीन ईंटें, 18 सिक्के, एप्पल के चार आईफोन, एक अन्य मोबाइल, दो महंगी घड़ियां और साढ़े तीन लाख की नकदी बरामद हुई थी।

विस्तार

भ्रष्टाचार के आरोप में जेल में बंद पंजाब के आईएएस संजय पोपली और उनके साथी संदीप वत्स के खिलाफ विजिलेंस ने शुक्रवार को अदालत में आरोप पत्र दायर किया है। 20 पन्नों के आरोप पत्र में विजिलेंस ने केस की मजबूती के लिए 55 गवाह बनाए हैं। अब केस का ट्रायल शुरू होगा।

विजिलेंस टीम ने 21 जून को संजय पोपली को गिरफ्तार किया था। पोपली पर सात करोड़ रुपये के टेंडर पास करने के एवज में एक फीसदी रिश्वत लेने का आरोप है। इस मामले में शिकायतकर्ता करनाल निवासी संजय कुमार हैं। 

उन्होंने अपनी शिकायत में बताया था कि वह कोऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड नाम की एक फर्म से जुड़े हैं और सरकारी ठेकेदार हैं। जब संजय पोपली वाटर सप्लाई एवं सीवरेज बोर्ड में सीईओ के पद पर थे तो उन्होंने अपने सहायक सचिव संदीप वत्स के साथ मिलकर साढ़े सात करोड़ रुपये का टेंडर पास करने के लिए रिश्वत की मांग की थी। 

रिश्वत के तौर पर पहली किस्त दे भी दी थी। दूसरी रकम देने के दौरान पोपली को चंडीगढ़ और संदीप वत्स को जालंधर से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के दौरान संजय पोपली के घर से सोने की 9 ईंट, 49 बिस्कुट, 12 सिक्के, चांदी की तीन ईंटें, 18 सिक्के, एप्पल के चार आईफोन, एक अन्य मोबाइल, दो महंगी घड़ियां और साढ़े तीन लाख की नकदी बरामद हुई थी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here