Chandra Grahan Dos and Don’ts: चंद्र ग्रहण के दौरान क्या करें और क्या ना करें? | Chandra Grahan 2022 Dos and Don’ts, Lunar Eclipse Par Kya Kare Kya Na Karen

0
6

Astrology

oi-Ankur Sharma

|

Google Oneindia News


Lunar
Eclipse
(चंद्र
ग्रहण)
Dos
and
Don’ts:

साल
2022
का
अंतिम
चंद्र
ग्रहण
8
नवंबर
को
लगने
जा
रहा
है।
इस
दिन
कार्तिक
पूर्णिमा
भी
है।
हालांकि
चंद्र
ग्रहण
एक
खगोलीय
घटना
है
लेकिन
वैदिक
धर्म
में
इस
ग्रहण
को
लेकर
काफी
बातें
कहीं
गई
हैं
और
इस
वजह
से
ग्रहण
के
दौरान
बहुत
सारी
बातों
का
ख्याल
रखना
जरूरी
है।
आपको
बता
दें
कि
इस
बार
ये
ग्रहण
मेष
राशि
और
भरणी
नक्षत्र
में
लगेगा।
चंद्र
ग्रहण
के
दौरान
निमलिखित
बातों
का
ख्याल
रखें।


क्या
करें
और
क्या
ना
करें

  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    भोजन
    ना
    बनाएं
    और
    ना
    ही
    खाएं।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    पूजा
    भी
    नहीं
    करनी
    चाहिए
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    सोना
    नहीं
    चाहिए।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    गर्भवती
    महिलाओं
    को
    घर
    से
    बाहर
    नहीं
    जाना
    चाहिए।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    गर्भवती
    महिलाएं
    चाकू
    या
    कैंची
    का
    भी
    इस्तेमाल

    करें।
  • क्या
    करें
    चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    खाने-पीने
    की
    चीजों
    में
    तुसली
    के
    पत्ते
    जरूर
    डालने
    चाहिए।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    भगवान
    का
    ध्यान
    करें।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    सहवास
    ना
    करें
    और
    ना
    ही
    झगड़ा
    करें।
  • चंद्र
    ग्रहण
    के
    दौरान
    किसी
    के
    भी
    बारे
    में
    बुरा
    ना
    सोचे,ऐसा
    करने
    से
    निगेटिव
    एनर्जी
    मन
    में
    घर
    करती
    है,
    जो
    कि
    होनी
    नहीं
    चाहिए।
Chandra Grahan Dos and Donts

भारतीय
समयानुसार
चंद्र
ग्रहण
8
नवंबर
को
शाम
करीब
5
बजकर
32
मिनट
से
शुरू
होगा
और
शाम
7
बजकर
27
मिनट
तक
रहेगा।
ये
ग्रहण
एशियाई
द्वीपों,
दक्षिण/
पूर्वी
यूरोप,
ऑस्ट्रेलिया,
उत्तरी

दक्षिण
अमेरिका,
पेसिफिक
अटलांटिक
और
हिंद
महासागर
में
दिखाई
दे
सकता
है।

Chandra Grahan Dos and Donts


क्या
होता
है
चंद्र
ग्रहण

जब
चंद्रमा
और
सूर्य
के
बीच
पृथ्वी

जाती
है
तो
चंद्र
ग्रहण
लगता
है।
ये
तीनों
उस
वक्त
एक
सीध
में
होते
हैं,
ग्रहण
हमेशा
पूर्णिमा
को
लगता
है।


ग्रहण
काल
में
करें
इन
मंत्रों
का
जाप


  • श्रीं
    ह्रीं
    क्लीं
    ऐं

    स्वाहा:

  • ह्लीं
    बगलामुखी
    देव्यै
    सर्व
    दुष्टानाम
    वाचं
    मुखं
    पदम्
    स्तम्भय
    जिह्वाम
    कीलय-कीलय
    बुद्धिम
    विनाशाय
    ह्लीं

    नम:

  • ह्लीं
    दुं
    दुर्गाय:
    नम:
  • दधिशंखतुषाराभं
    क्षीरोदार्णव
    सम्भवम।
    नमामि
    शशिनं
    सोमं
    शंभोर्मुकुट
    भूषणं
    ।।

  • भूर्भुव:
    स्व:
    अमृतांगाय
    विदमहे
    कलारूपाय
    धीमहि
    तन्नो
    सोमो
    प्रचोदयात्।


चन्द्रमा
के
तांत्रोक्त
मंत्र-


  • श्रां
    श्रीं
    श्रौं
    स:
    चन्द्रमसे
    नम:।

  • ऐं
    क्लीं
    सोमाय
    नम:।

  • श्रीं
    श्रीं
    चन्द्रमसे
    नम:

Chandra Grahan 2022 : भारत में दिखेगा साल का आखिरी 'चंद्र ग्रहण', चेक करें अपने शहर का TimeChandra
Grahan
2022
:
भारत
में
दिखेगा
साल
का
आखिरी
‘चंद्र
ग्रहण’,
चेक
करें
अपने
शहर
का
Time

English summary

Chandra Grahan 2022 on 8th November. here is Dos and Don’ts during Lunar Eclipse.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here