सोमालियाः होटल में घुसी सेना, 6 आतंकवादियों को किया ढेर, 60 लोगों को छुड़ाया

0

मोगादिशू. सोमालिया के सुरक्षा बल राजधानी मोगादिशू के उस होटल में सोमवार को घुस गए जहां, इस्लामी चरमपंथियों ने 18 घंटे से ज्यादा वक्त से दर्जनों लोगों को बंधक बनाया हुआ था. चरमपंथियों ने आठ लोगों की हत्या भी कर दी है. पुलिस के प्रवक्ता सादिक दोदिशे ने कहा कि विला रोज़ा होटल में चलाए गए अभियान के दौरान सभी चरमपंथियों को मार गिराया गया और एक सुरक्षाकर्मी की भी इस दौरान मौत हो गई.

प्रवक्ता ने बताया कि होटल में फंसे करीब 60 लोगों को मुक्त करा लिया गया है और उनमें से कोई जख्मी नहीं हुआ है। हालांकि, यह अबतक साफ नहीं है कि क्या कोई लापता है या नहीं. दोदिशे के मुताबिक, पांच हमलावरों को सुरक्षा बलों ने ढेर कर दिया जबकि छठे ने खुद को बम से उड़ा लिया. इस्लामी चरमपंथी समूह अल शबाब ने हमले की जिम्मेदारी ली है. अल शबाब ने रविवार को दावा किया था कि उसके लड़ाकों ने होटल पर हमला किया है.

इन दिन सोमालिया में चरमपंथी लगातार हमलों को अंजाम दे रहे हैं. इससे पूर्व सोमालिया की राजधानी में दो बम विस्फोट में 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. स्वास्थ्य मंत्री अली हाजी ने बताया था कि करीब 500 लोग घायल हुए थे. पांच साल पहले इसी स्थान पर ट्रक बम विस्फोट में 500 से अधिक लोगों की मौत के बाद से यह सोमालिया का सबसे घातक हमला था.

आतंकवादी संगठन अल-कायदा से संबद्ध अल-शबाब ने बम विस्फोटों की जिम्मेदारी ली थी.हाल में निर्वाचित राष्ट्रपति हसन शेख मोहम्मद के नेतृत्व में सोमालिया की सरकार ने अल-शबाब के खिलाफ नए सिरे से अभियान शुरू किया है, जिसमें उसके वित्तीय नेटवर्क को बंद करने के प्रयास भी शामिल हैं. सरकार ने कहा है कि यह लड़ाई जारी रहेगी.

Tags: Somalia, Terrorist attack

Source link

क्या यूरोप में भी लोगों के भोजन पर है आफत? जानें यहां कौन सा देश है सबसे गरीब?

0

यूरोप का नाम सुनते ही लोगों के दिमाग में पैसा और अमीरी पर ध्यान जाता है. लक्ज़मबर्ग हो या फिर स्विट्ज़रलैंड और नॉर्वे, हमारा ध्यान अक्सर यूरोपीय देशों के धन पर होता है. लेकिन सिक्के के हमेशा दो पहलू होते हैं. क्योंकि यूरोप में भी लोग जीवित रहने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. यहां के कई देशों के लोग भी गरीबी, भुखमरी और बेरोजगारी से परेशान हैं. यूरोप 10,180,000 वर्ग किलोमीटर के कुल भूमि क्षेत्र के साथ ऑस्ट्रेलिया के बाद दुनिया में दूसरा सबसे छोटा महाद्वीप है. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार 44 देश यूरोप का हिस्सा हैं.

ताज़ा आंकड़ों पर नजर डालें तो पहले नंबर पर बोस्निया और हर्जेगोविना है, जो यूरोप का सबसे गरीब देश है. अकेले बेरोजगारी दर यहां 40 फीसदी है. प्रति व्यक्ति जीडीपी 7.46 यूरो है. दूसरे नंबर पर अल्बानिया है. हालांकि पिछले दो दशकों में, अल्बानिया में गरीबी में काफी कमी आई है. पांच प्रतिशत से अधिक जनसंख्या कुपोषित है. इंफ्रास्ट्रक्चर देश की सबसे बड़ी समस्या है. प्रति व्यक्ति जीडीपी 8.50 है.

यूरोप में गरीबी
मैसेडोनिया यूरोप का तीसरा सबसे गरीब देश है. इसे यूरोप का सबसे अस्थिर क्षेत्र माना जाता है. पूर्व यूगोस्लाव गणराज्य की दो-तिहाई से अधिक आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है. प्रति व्यक्ति जीडीपी 9.20 यूरो है. यूरोप में गरीबी को लेकर क्वोरा पर बड़े ही शानदार तरीके से जवाब दिए गए हैं. आपको बता दें कि क्वोरा एक सवाल-जवाब वाली वेबसाइट है, जिस पर लोग सवाल पूछ सकते हैं और उसके जवाब भी दे सकते हैं.

बहुत ज्यादा गरीब देश
नवीन चौधरी नाम के एक यूजर ने लिखा है, ‘यूरोप महाद्वीप में कई शक्तिशाली जैसे कि ब्रिटेन, फ्रांस जैसे शक्तिशाली देश मौजूद हैं. यूरोप महाद्वीप पूरे विश्व के सबसे संपत्ति वाला महाद्वीप है. परंतु इस महाद्वीप में भी कई ऐसे देश हैं, जो कि बहुत ही ज्यादा गरीब हैं. अगर हम यूरोप के सबसे गरीब देश की बात करें तो ये देश है मोल्दोवा.’ होकम सिंह नाम के एक यूज़र ने लिखा है, यूरोप का सबसे गरीब देश मॉल्दोवा है .प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद 2560 डॉलर है. यह पूर्वी यूरोप में स्थित एक लैंडलाक देश है, जिसके पश्चिम में रोमानिया और उत्तर, पूर्व और दक्षिण में यूक्रेन स्थित है.’

मोल्दोवा में गरीबी
वैसे बता दें कि मोल्दोवा 1991 में सोवियत संघ के पतन के बाद एक स्वतंत्र गणराज्य के रूप में उभरा. माल्दोवा यूरोप के सबसे गरीब देशों में से एक है, जिसकी अर्थव्यवस्था कृषि पर बहुत अधिक निर्भर है. मोल्दोवा के दो तिहाई लोग रोमानियाई मूल के हैं, और दोनों देश एक साझा सांस्कृतिक विरासत साझा करते हैं. डेनिस्टर के पूर्व में औद्योगिक क्षेत्र, जिसे आमतौर पर ट्रांस-डेनिस्टर या डेनिस्टर क्षेत्र के रूप में जाना जाता है, औपचारिक रूप से 1940 से पहले यूक्रेन के भीतर एक स्वायत्त क्षेत्र था, जब सोवियत संघ ने मोलदावियन सोवियत सोशलिस्ट रिपब्लिक बनाने के लिए इसे बेस्सारबिया के साथ जोड़ा.

Tags: Europe, OMG News, Viral news

Source link

इटली के इस्चिया द्वीप पर भूस्खलन से नवजात समेत सात लोगों की मौत, 30 से ज्यादा घर हुए जलमग्न, 200 से अधिक लोग विस्थापित

0

हाइलाइट्स

इटली में भूस्खलन से 7 लोगों की मौत
भूस्खलन के बाद 5 लोग अब भी लापता
30 से ज्यादा घर हुए जलमग्न

मिलान: इटली के इस्चिया द्वीप पर हुए भूस्खलन के बाद बचाव दल ने मिट्टी के मलबे में दबे हुए सात शवों को बाहर निकाला है. जिसमें तीन सप्ताह का एक नवजात भी शामिल है. अधिकारियों ने कल यानी रविवार को यह जानकारी दी. नेपल्स प्रीफेक्ट ने पुष्टि की कि शनिवार तड़के कासामिक्किओला में हुए व्यापक भूस्खलन के बाद पांच लोग अब भी लापता हैं, जिनके मलबे के नीचे दबे होने की आशंका है. भूस्खलन के चलते इमारतें ढह गईं और समुद्र किनारे खड़ी गाड़ियां बह गईं. जिसमें अब तक सात शवों को बाहर निकाला जा चुका है.

भूस्खलन में मारे गए सात पीड़ितों की पहचान मृतक नवजात, उसके माता-पिता, एक पांच वर्षीय लड़की और उसके 11 वर्षीय भाई, द्वीप पर रहने वाले 31 वर्षीय एक व्यक्ति और बुल्गेरियाई पर्यटक के रूप में की गई. इतालवी अग्निशमन विभाग के प्रवक्ता लुका कैरी ने आरएआई स्टेट टीवी को बताया कि कीचड़ और पानी हर जगह भरा है. हमारी टीमें उम्मीद के साथ खोज कर रही हैं, भले ही यह बहुत कठिन है.

200 से अधिक लोग हुए विस्थापित
भूस्खलन के बाद छोटे बुलडोजरों ने पहले सड़कों को साफ किया जिससे बचाव के लिए जा रहे वाहनों को निकलने के लिए रास्ता साफ हो सके. जबकि गोताखोरों के दल को उन कारों की जांच के लिए लगाया गया जो समुद्र में बह गई थीं. पड़ोसी शहर लैको एमेनो के मेयर गियाकोमो पास्कले ने आरएआई को बताया, ‘हम दुखी मन के साथ खोज जारी रखे हुए हैं, लापता लोगों में नाबालिग भी हैं.’ नेपल्स प्रीफेक्ट क्लाउडियो पालोम्बा ने रविवार को कहा कि 30 घर जलमग्न हो गए हैं और 200 से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं. वहीं पांच लोग घायल हैं.

Tags: Italy, Landslide, Landslides, World news, World news in hindi

Source link

अपने क्षेत्र को छुड़ाने के लिए यूक्रेन चुका रहा है भारी कीमत, एक दिन में गई 140 सैनिकों की जान

0

हाइलाइट्स

डोनेट्स्क में यूक्रेनी सेना के 40 से अधिक सैनिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा
लुहांस्क में यूक्रेन को 40 से अधिक जवानों का नुकसान हुआ
रूस समर्थित लड़ाकों ने तीन टैंकों, 6 बख्तरबंद कर्मियों के वाहक, दो तोपखाने को नष्ट कर दिया

कीव. रूस से अपने दो क्षेत्र डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) और लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक (एलपीआर) को छुड़ाने की यूक्रेन को लगातार भारी कीमत चुकानी पड़ रही है. अकेले इन क्षेत्रों में यूक्रेनी सेना को रूस की ओर से एक इंच आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है. रूस की न्यूज़ एजेंसी तास की एक खबर के मुताबिक बीते 24 घंटों में यूक्रेन ने ऐसे ही एक प्रयास में कम से कम 140 सैनिकों को खो दिया है. डीपीआर रक्षा मंत्रालय की प्रेस सेवा ने रविवार को बताया कि पिछले दिनों डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) की इकाइयों के साथ लड़ाई में यूक्रेनी सेना के 40 से अधिक सैनिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया. साथ ही रूस की ओर से लड़ रहे डीपीआर पीपुल्स मिलिशिया के टेलीग्राम चैनल पर पोस्ट की गई रिपोर्ट में कहा गया कि लड़ाई में यूक्रेन को 40 से अधिक जवानों का नुकसान हुआ है.

एलपीआर पीपुल्स मिलिशिया इवान फिलिपोनेंको के प्रवक्ता ने बताया कि पिछले दिनों लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक (एलपीआर) के लड़ाकों के साथ लड़ाई में यूक्रेनी सेना को लगभग 85 जवानों का नुकसान झेलना पड़ा है. एलपीआर पीपुल्स मिलिशिया के प्रेस कार्यालय ने अपने टेलीग्राम चैनल पर कहा कि पिछले 24 घंटों में, यूक्रेन को एलपीआर की सेना ने सक्रिय आक्रामक अभियानों के परिणामस्वरूप जनशक्ति और सैन्य उपकरणों में भारी नुकसान पहुंचाया. एलपीआर लड़ाकों ने 85 कर्मियों, तीन टैंकों, छह बख्तरबंद कर्मियों के वाहक, दो तोपखाने को नष्ट कर दिया है.

साथ ही प्रवक्ता ने कहा कि पिछले दिनों, LPR फील्ड इंजीनियरों ने गणतंत्र के स्ट्रोबेल्स्क जिले में गोरोडिश्चे और क्रिडियानोय की बस्तियों के क्षेत्रों में यूक्रेनी सेना द्वारा लगाए गए विस्फोटकों को साफ करते हुए आठ हेक्टेयर से अधिक की खदानों को नष्ट कर दिया.

रूस को EU संसद ने बताया आतंकी राज्य
यूरोपीय संघ की संसद ने बुधवार को एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए रूस को ‘आतंकवाद को प्रायोजित करने वाला राज्य’ घोषित कर दिया. यूरोपीय सांसदों ने रूस को आतंकवाद का प्रायोजक देश बताने वाले प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया. हालांकि, ईयू का यह कदम काफी हद तक प्रतीकात्मक है, क्योंकि यूरोपीय संघ के पास इसका समर्थन करने के लिए कोई कानूनी ढांचा नहीं है. संघ ने पहले ही यूक्रेन पर अपने आक्रमण को लेकर रूस पर अभूतपूर्व प्रतिबंध लगाए हैं.

Tags: European union, Russia, Russia ukraine war, Ukraine, World news

Source link

सोमालिया: मोगादिशु के होटल पर आतंकी हमला, कई सरकारी अधिकारी भीतर फंसे

0

हाइलाइट्स

सोमालिया की राजधानी में एक होटल पर कुछ बंदूकधारियों ने हमला किया.
होटल पर हुए हमले की जिम्मेदारी एक चरमपंथी आतंकी समूह अल शबाब ने ली है.
सुरक्षा बलों ने होटल की घेराबंदी कर दी है जो अभी भी जारी है.

मोगादिशु. सोमालिया की राजधानी में एक होटल पर कुछ बंदूकधारियों ने हमला किया है. होटल पर हुए हमले की जिम्मेदारी एक चरमपंथी आतंकी समूह अल शबाब ने ली है. हमले में कुछ लोगों के हताहतों होने की भी खबरें सामने आईं हैं. सुरक्षा बलों ने होटल की घेराबंदी कर दी है जो अभी भी जारी है. पुलिस ने बताया कि सोमालिया की राजधानी में सरकारी अधिकारियों के बीच लोकप्रिय एक होटल पर रविवार को आत्मघाती जैकेट पहने एक उग्रवादी समूह के सदस्य माने जाने वाले बंदूकधारियों ने हमला किया.

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक खबर के मुताबिक इस हमले में मारे गए लोगों के बारे तत्काल कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. लेकिन सुरक्षा बलों ने विला रोज होटल से मत्स्य मंत्री सहित दर्जनों नागरिकों और अधिकारियों को बचाया है. जो हमले के समय होटल के अंदर ही फंस गए थे. आतंकवादी समूह अल शबाब ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. आतंकवादी समूह ने यह भी कहा कि उसके लड़ाके सोमालिया के राष्ट्रपति के महल पर हमला कर रहे थे, जो होटल के पास है.

सोमालिया की राजधानी मोगादिशु में आत्मघाती हमला, अब तक 7 लोगों की मौत

होटल पर हमला करने वाले हमलावरों की संख्या तत्काल साफ नहीं हो सकी थी. चरमपंथी आतंकी समूह ने अक्सर उन होटलों को निशाना बनाया है, जहां सरकारी अधिकारी इकट्ठा होते हैं या अक्सर मौजूद रहते हैं. बताया गया कि विला रोज होटल की घेराबंदी रविवार देर रात तक जारी थी. जैसे ही होटल पर आतंकी हमला शुरू हुआ, दो बड़े विस्फोट और भारी गोलीबारी की आवाजें सुनी गईं. पुलिस ने संवाददाताओं को बताया कि कुछ सरकारी अधिकारियों को खिड़कियों से भागने के बाद बचाया गया. बचाए गए लोगों में देश के मत्स्य पालन मंत्री अब्दिलाही बिधान वारसामे और सीनेटर दूनिया मोहम्मद भी शामिल थे. स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों में कहा गया है कि हमले में आंतरिक सुरक्षा मंत्री मोहम्मद डूडीशे घायल हो गए. हालांकि इसकी सच्चाई की पुष्टि नहीं हो सकी है.

Tags: Islamic Terrorism, Somalia, Terrorist attack

Source link

मोरक्को से मिली हार के बाद बेल्जियम में भड़की हिंसा, कई वाहन आग के हवाले, दर्जनों हिरासत में

0

हाइलाइट्स

बेल्जियम की हार से भड़की हिंसा में लोगों ने इलेक्ट्रिक कार और कई स्कूटर्स में आग लगा दी
पुलिस के अनुसार दंगाई आतिशबाज़ी सामग्री और लाठियों से लैस होकर सड़कों पर उतरे थे
वॉटर कैनन की तैनाती और आंसू गैस के इस्तेमाल से दंगे पर पाया गया काबू

ब्रुसेल्स. कतर में चल रहे फुटबॉल विश्व कप मैच में मोरक्को से बेल्जियम की हार के बाद रविवार को बेल्जियम की राजधानी में दंगे भड़क उठे. बेल्जियम की हार से भड़की हिंसा में लोगों ने इलेक्ट्रिक कार और कई स्कूटर्स को आग के हवाले कर दिया. न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय पुलिस ने दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया है, जो दंगा नियंत्रण पुलिस के साथ भिड़ गए थे. दंगे ब्रुसेल्स की कई जगहों पर देखने को मिले, जिन्हें शांत कराने में पुलिस को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा.

दंगों पर पुलिस प्रवक्ता इलसे वान डी कीरे ने बताया कि शाम करीब सात बजे शांति लौटी और संबंधित क्षेत्रों में एहतियाती गश्त जारी है. फिलहाल पुलिस लगातार शरारती तत्वों पर नजर रख रही है, जो एक बार फिर शहर में अशांति का माहौल बना सकते हैं. वहीं हिरासत में लिए गए लोगों से पुलिस की एक टीम पूछताछ कर रही है, जिससे दंगों का स्पष्ट कारण और साजिशकर्ता का पता लगाया जा सके.

दंगे में एक पत्रकार घायल
पुलिस के अनुसार दंगाई आतिशबाज़ी सामग्री और लाठियों से लेस होकर सड़कों पर उतरे थे. साथ ही उनके पास कई ज्वलनशील सामग्री थीं, जिसकी मदद से उन्होंने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया. पुलिस ने कहा कि आतशबाज़ी से एक पत्रकार के चेहरे पर भी चोट आई है. लगातार बढ़ती हिंसा को देखते हुए पुलिस के बड़े अधिकारियों ने वॉटर कैनन की तैनाती और आंसू गैस के इस्तेमाल को मंजूरी दी, जिसके बाद स्थिति को जल्द से जल्द काबू कर लिया गया.

Tags: Fifa world cup, World news

Source link

नेपाल: संसदीय चुनाव में पीएम देउबा की सत्तारूढ़ पार्टी ने मारी बाजी, 53 सीट पर रिकॉर्ड जीत दर्ज की

0

काठमांडू: नेपाल के संसदीय चुनाव में प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस अब तक सामने आए नतीजों में 53 सीट पर जीत दर्ज करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. देश की 275 सदस्यीय प्रतिनिधि सभा की 165 सीट का चुनाव प्रत्यक्ष मतदान से जबकि शेष 110 सीट का चुनाव आनुपातिक चुनाव प्रणाली के जरिये होता है. प्रतिनिधि सभा और सात प्रांतीय विधानसभाओं के चुनाव 20 नवंबर को हुए थे। मतों की गिनती सोमवार को शुरू हुई थी.

नेपाली कांग्रेस ने प्रत्यक्ष मतदान प्रणाली के तहत अकेले 53 सीट जीती हैं जबकि नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (यूएमएल) ने 42 सीट पर जीत दर्ज की है. इसके अलावा, सीपीएन-माओवादी सेंटर 17 सीट जीतकर तीसरी बड़ी पार्टी बनकर उभरी है जबकि सीपीएन-यूनिफाइड सोशलिस्ट ने 10 सीट जीती हैं. नवगठित राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी और राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी ने सात-सात सीटों पर कब्जा जमाया है. निर्दलीय उम्मीदवारों एवं अन्य छोटे दलों के खाते में 21 सीट गई हैं। 165 सीट में से आठ के नतीजे आने बाकी हैं.

ये भी पढ़ें- गुजरात चुनाव: भाई बीजेपी तो बहन कर रही है कांग्रेस का चुनावी प्रचार, जानना चाहेंगे कौन है स्टार प्रचारक?

पांच दलों के सत्तारूढ़ गठबंधन ने 85 सीटों पर जीत हासिल की हैं जबकि सीपीएन-यूएमएल के नेतृत्व वाले गठबंधन ने 55 सीट पर कब्जा जमाया है. प्रधानमंत्री और नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष देउबा के अलावा, तीन पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड, ओली और माधव नेपाल भी संसद के लिए चुने गए हैं.

Tags: Nepal, Nepal Politics, Prime Minister Sher Bahadur Deuba

Source link

आईलैंड पर भूस्खलन के बाद इटली सरकार ने लगाई इमरजेंसी, अभी भी लापता लोगों की तलाश जारी

0

हाइलाइट्स

इटली के दक्षिणी द्वीप इस्चिया में भूस्खलन हो गया.
इस प्राकृतिक हादसे में एक महिला की मौत हो गई. जबकि कई लोग लापता हो गए.
इटली सरकार ने इमरजेसी लागू कर दिया है.

नई दिल्ली. इटली के दक्षिणी द्वीप इस्चिया में हुए भूस्खलन की घटना के बाद रविवार को इटली की सरकार ने आपातकाल की स्थिति घोषित कर दी. इस भूस्खलन से कम से कम एक व्यक्ति की मौत और एक दर्जन लोग लापता हो गए हैं. बीते शनिवार को इटली के दक्षिणी इसचिया द्वीप पर भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन के चलते कई इमारतें ढह गईं. स्थानीय मीडिया और आपातकालीन सेवाओं ने जानकारी देते हुए बताया कि भूस्खलन में इसचिया द्वीप पर हुए भूस्खलन ने छोटे से कस्बे कैसामिसिओला टर्मे को प्रभावित किया, कम से कम एक घर को अपनी चपेट में ले लिया और कई गाड़ियां समुद्र में बह गईं.

नागरिक सुरक्षा मंत्री नेलो मुसुमेसी ने कहा कि आपातकालीन कैबिनेट बैठक के अंत में दो मिलियन यूरो राहत कोष की पहली किश्त जारी की गई है. कीरब 200 से अधिक बचावकर्ता अभी भी एक दर्जन से अधिक लापता लोगों की तलाश कर रहे हैं, जबकि सैकड़ों स्वयंसेवक और अन्य लोग बारिश और भूस्खलन के बाद सड़कों पर जमें हुए कीचड़ को साफ करने में जुटे हुए हैं. भूस्खलन के बाद कार और बसें फंस गई हैं. इसके अलावा पहाड़ों पर से गिरे बोल्डर सड़कों पर बिखरे हुए हैं.

इतालवी समाचार एजेंसी एजीआई के मुताबिक, बचावकर्मियों ने एक 31 वर्षीय महिला का शव बरामद किया था. इसचिया, नेपल्स से दूर, भूकंप, ज्वालामुखी विस्फोट या गंभीर मौसम के बाद आपात स्थिति का सामना हर बार करता है. बता दें कि साल 2017 में भी इस इलाके में भूकंप आया था, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी. वहीं 19वीं शताब्दी के अंत में एक और अधिक शक्तिशाली भूकंप से यह पूरी तरह से नष्ट हो गया था.

Tags: Italy, Landslide

Source link

सिंथेटिक इंजेक्शन लगवाने से फंस गया दुनिया का सबसे बड़ा बाइसेप्स वाला बॉडी बिल्डर, अस्पताल में भर्ती

0

Bodybuilder Szymon Komandos Hospitalized: दुनिया के सबसे बड़े बाइसेप्स वाले बाॉडी बिल्डर सिजमोन कोमांडोस मुश्किलों में फंस गए हैं. उन्हें अस्पताल में सर्जरी के लिए भर्ती होना पड़ा है. कहा जा रहा है कि सिंथेटिक इंजेक्शन लगवाने के चलते उनकी हालत खराब हो गई. उन्होंने खुद हॉस्पिटल से अपनी फोटो शेयर की है.

MMA फाइटर सिजमोन कोमांडोस अपने बाइसेप्स का साइज़ बढ़ाने के लिए बाइसेप्स को तेल से इंजेक्ट करने के लिए जाने जाते हैं. अब उन्होंने अपने अस्पताल के बिस्तर से भयानक तस्वीरें शेयर की है, जिसमें उनकी बांह पर टांके की लंबी लाइन दिखाई दे रही है.

 सिंथॉल की इंजेक्शन ली
पोलैंड के कोमांडोस कुछ समय के लिए जेल में भी रहे हैं. ब्रिटिश अखबार डेली मेल के मुताबिक उन्होंने सिंथॉल की इंजेक्शन ली. ये एक सिंथेटिक तेल है जो कृत्रिम रूप से आपकी मांसपेशियों के साइज़ को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. खासकर कई लोग बाइसेप्स बड़ा करने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं. उन्होंने अस्पताल के बिस्तर पर लेटे हुए अपनी दूसरी तस्वीर पोस्ट की, जिसके बारे में उन्होंने कहा कि यह पहले दौर की सर्जरी के बाद ली गई थी.

‘मैं टेस्टोस्टेरोन लेता हूं
स्ट्रॉन्गमैन, जिसके पास माइक टायसन-एस्के फेशियल टैटू है, के बारे में माना जाता है कि वह सिंथोल ऑयल का उपयोग कर रहा था. सिजमोन कोमांडोस की बाइसेप्स करीब 25 इंच की है. उन्होंने एक बार बताया था, ‘मैं टेस्टोस्टेरोन लेता हूं, खुराक हर दूसरे दिन 100mg है, सप्ताह में मास्टरन 400mg, ऑक्सा 5mg एक दिन, मैं उसमें हार्मोन भी लेता हूं.’

वापसी की उम्मीद
एमएमए स्टार ने कहा कि झटके के बावजूद वह लड़ना जारी रखेंगे. उन्होंने कहा, ‘यह भी मत सोचो कि मैं नरम हो रहा हूं या आशा खो रहा हूं. यह भी याद रखें कि मैं आधिकारिक तौर पर वादा करता हूं कि मेरा फाइट होगा

Tags: OMG News, Viral news

Source link

यूट्यूबर मार्क रॉबर ने अंतरिक्ष से गिराया एक अंडा, वीडियो में देखें, फिर क्या हुआ?

0

Mark Rober Drops an Egg from Space: लोकप्रिय यूट्यूबर मार्क रॉबर हमेशा अपने गैजेट्स और मज़ेदार साइंस के वीडियो के लिए सुर्खियों में रहते हैं. बता दें कि वो नासा के पूर्व इंजीनियर भी हैं. उनके एक और वीडियो ने अब तहलका मचा दिया है. रॉबर ने अंतरिक्ष से एक अंडा गिराया जो विक्टर वैली में गिरी. हालांकि उन्होंने ये प्रयोग इस साल के शुरूआत में की थी. लेकिन इस वीडियो को शुक्रवार को अपलोग किया है.

हालांकि, चीजें पहली बार योजना के अनुसार नहीं हुईं, लेकिन दूसरी बार सबकुछ बडे़ ही आराम से हो गया. बस एक समस्या थी, रॉकेट गिरने के बाद मूवेबल फिन्स कंट्रोल में नहीं रह पाई. लक्ष्य वेदर बैलून के लिए एक रॉकेट के अंदर एक अंडे के साथ अंतरिक्ष के किनारे तक पहुंचने का था. इसके बाद उम्मीद की जा रही थी कि ये रॉकेट गुब्बारे से अलग हो कर वापस आ जाएगी.
” isDesktop=”true” id=”4963253″ >

मार्क रॉबर के मुताबिक इस प्रोजेक्ट में काफी ज्यादा खर्चा आया. सबकुछ आसान नहीं था. उन्होंने कहा कि उनके इंजीनियर्स को इसे सफल बनाने में जम कर माथापच्ची करनी पड़ी. दरअसल प्लान ये था कि अंडे को सुरक्षित अंतरिक्ष से गिराया जाए, जिससे कि वो टूट ना. लेकिन शुरूआत में अंडे टूट गए थे. दरअसल अंडे को एक नियंत्रित स्पीड के साथ नीचे गिराई गई.
” isDesktop=”true” id=”4963253″ >

26 मिनट का ये वीडियो यूट्यूब पर धूम मचा रहा है. इस वीडियो को दो दिन में ही 1 करोड़ से ज्यादा लोग देख चुके हैं. लोग इस वीडियो देख कर लगातार कॉमेंट कर रहे हैं. इसी बीच इससे पहले यूट्यूबर ने अपने बेटे के बारे में बात की थी. उन्होंने खुलासा किया कि उनके बेटे की खास जरूरतें हैं. यह पहली बार था जब मार्क ने अपने बेटे की स्थिति के बारे में बात की और बताया कि कैसे ऑटिज्म से पीड़ित बच्चे दुनिया को अलग तरह से देखते हैं.

Tags: OMG News, Space Science

Source link

%d bloggers like this: