Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 22 जनवरी 2023, रविवार | aaj ka panchang 22nd January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

आज दिशाशूल पश्चिम दिशा में रहेगा इसलिए पश्चिम की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो गायत्री मंत्र का जाप करके घर से निकलें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang:


Aaj
Ka
Panchang:

आज
प्रतिपदा
रात्रि
और
दिन
रविवार
है।
आज
से
माघ
मास
की
गुप्त
नवरात्रि
प्रारंभ
हो
रही
है।
प्रात:काल
सूर्योदय
पूर्व
उठकर
स्नानादि
से
निवृत्त
होकर
सूर्यदेव
को
जल
का
अ‌र्घ्य
दें।
इसके
बाद
मां
दुर्गा
की
स्थापना,
पूजन
करें।
दुर्गा
मां
को
गुड़
से
बने
गुलगुले
या
गुड़
के
मालपुए
का
नैवेद्य
लगाएं।
दुर्गा
सप्तशती
का
पाठ
करें,
जीवन
में
चल
रही
और
आगे
आने
वाली
सारी
परेशानियों
और
संकटों
का
समाधान
मिलेगा।यहां
पेश
है
आज
का
पंचांग,
जिसमें
शुभ-अशुभ
योग
देखकर
पूरे
दिन
की
प्लानिंग
कर
लीजिए।


आज
का
पंचांग

  • विक्रम
    संवत
    :
    2079
  • शालिवाहन
    शके
    :
    1944
  • मास
    :
    माघ
    शुक्ल
    पक्ष
  • ऋतु
    :
    शिशिर
  • अयन
    :
    उत्तरायण
  • तिथि
    :
    प्रतिपदा
    रात्रि
    10.26
    तक
  • नक्षत्र
    :
    श्रवण
    रात्रि
    3.20
    तक
  • योग
    :
    वज्र
    प्रात:
    10.04
    तक
    पश्चात
    सिद्धि
  • करण
    :
    किन्स्तुघ्न
    दोपहर
    12.23
    तक
  • सूर्योदय
    :
    7.10.05
  • सूर्यास्त
    :
    6.06.27
  • दिनकाल
    :
    10
    घंटे
    56
    मिनट
    21
    सेकंड
  • रात्रिकाल
    :
    13
    घंटे
    03
    मिनट
    28
    सेकंड
  • चंद्रास्त
    :
    सायं
    6.45
  • चंद्रोदय
    :
    प्रात:
    7.36


आज
की
ग्रह
स्थिति

  • सूर्य
    राशि
    :
    मकर
    में
  • चंद्र
    राशि
    :
    मकर
    में
  • मंगल
    :
    वृषभ
    में
  • बुध
    :
    धनु
    में,
    मार्गी
  • गुरु
    :
    मीन
    में
  • शुक्र
    :
    कुंभ
    में
    दोपहर
    3.52
    से
  • शनि
    :
    कुंभ
    में
  • राहु
    :
    मेष
    में
  • केतु
    :
    तुला
    में


शुभ
समय
दिन
के

  • चर
    :
    प्रात:
    8.32
    से
    9.54
  • लाभ
    :
    प्रात:
    9.54
    से
    11.16
  • अमृत
    :
    प्रात:
    11.16
    से
    दोप.
    12.38
  • शुभ
    :
    दोप.
    2
    से
    3.52


शुभ
समय
रात्रि
के

  • शुभ
    :
    सायं
    6.06
    से
    7.44
  • अमृत
    :
    सायं
    7.44
    से
    रात्रि
    9.22


त्याज्य
समय

  • राहु
    काल
    :
    सायं
    4.44
    से
    6.06
  • यम
    घंट
    :
    दोप.
    12.38
    से
    2


आज
विशेष
:

  • माघ
    गुप्त
    नवरात्रि
    प्रारंभ
  • आज
    का
    शुभ
    रंग
    :
    लाल,
    कत्थई
  • आज
    के
    पूज्य
    देव
    :
    सूर्यदेव,
    मां
    दुर्गा,
    मां
    गायत्री
  • आज
    का
    मंत्र
    :
    ऊं
    दुं
    दुर्गाये
    नम:


दिशाशूल

दिशाशूल
पश्चिम
दिशा
में
रहेगा।
इसलिए
पश्चिम
की
ओर
यात्रा
करना
टालें।
आवश्यक
हो
तो
गायत्री
मंत्र
का
जाप
करके
घर
से
निकलें।
माता
गायत्री
के
दर्शन
करें।


आज
का
विशेष
उपाय

आज
से
माघ
मास
की
गुप्त
नवरात्रि
प्रारंभ
हो
रही
है।
प्रात:काल
सूर्योदय
पूर्व
उठकर
स्नानादि
से
निवृत्त
होकर
सूर्यदेव
को
जल
का
अ‌र्घ्य
दें।
इसके
बाद
मां
दुर्गा
की
स्थापना,
पूजन
करें।
दुर्गा
मां
को
गुड़
से
बने
गुलगुले
या
गुड़
के
मालपुए
का
नैवेद्य
लगाएं।
दुर्गा
सप्तशती
का
पाठ
करें,
जीवन
में
चल
रही
और
आगे
आने
वाली
सारी
परेशानियों-
संकटों
का
समाधान
मिलेगा।
जिन
युवक-युवतियों
के
विवाह
नहीं
हो
पा
रहे
हैं,
वे
आज
के
दिन
मां
दुर्गा
को
सुहाग
की
समस्त
सामग्री
भेंट
करें।
साथ
ही
मीठा
बीड़ा
भी
भेंट
करें
और
अपनी
मनोकामना
शीघ्र
पूरी
होने
की
प्रार्थना
करें।
काम
बन
जाएगा।

Shukra Gochar 2023: शुक्र का राशि परिवर्तन, इन राशियों को मिलेगा लाभ ही लाभShukra
Gochar
2023:
शुक्र
का
राशि
परिवर्तन,
इन
राशियों
को
मिलेगा
लाभ
ही
लाभ

English summary

aaj ka panchang 22nd January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 21 जनवरी 2023, शनिवार | aaj ka panchang 21st January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेगा इसलिए पूर्व की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो उड़द की मिठाई खाकर घर से निकलें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang:

Aaj Ka Panchang: आज अमावस्या तिथि और दिन शनिवार है। आज वर्ष की पहली शनैश्चरी अमावस्या है। मौनी अमावस्या है। इस दिन शनि की साढ़ेसाती, ढैया और पीड़ा से परेशान व्यक्ति हनुमान मंदिर में जाकर दर्शन करें। वहीं बैठकर सुंदरकांड का पाठ करें। हनुमानजी को हलवे का नैवेद्य लगाएं। परेशानी समाप्त होगी।यहां पेश है आज का पंचांग, जिसमें शुभ-अशुभ योग देखकर पूरे दिन की प्लानिंग कर लीजिए।

आज का पंचांग

  • विक्रम संवत : 2079
  • शालिवाहन शके : 1944
  • मास : माघ कृष्ण पक्ष
  • ऋतु : शिशिर
  • अयन : उत्तरायण
  • तिथि : अमावस्या रात्रि 2.22 तक
  • नक्षत्र : पूर्वाषाढ़ा प्रात: 9.39 तक पश्चात उत्तराषाढ़ा
  • योग : हर्षण दोपहर 2.33 तक
  • करण : चतुष्पद सायं 4.20 तक
  • सूर्योदय : 7.10.14
  • सूर्यास्त : 6.05.45
  • दिनकाल : 10 घंटे 55 मिनट 31 सेकंड
  • रात्रिकाल : 13 घंटे 04 मिनट 20 सेकंड
  • चंद्रास्त : सायं 5.33
  • चंद्रोदय : प्रात: 7.36

आज की ग्रह स्थिति

  • सूर्य राशि : मकर में
  • चंद्र राशि : धनु दोप. 2.52 तक पश्चात मकर
  • मंगल : वृषभ में
  • बुध : धनु में, मार्गी
  • गुरु : मीन में
  • शुक्र : मकर में
  • शनि : कुंभ में
  • राहु : मेष में
  • केतु : तुला में

शुभ समय दिन के

  • शुभ : प्रात: 8.32 से 9.54
  • चर : दोप. 12.38 से 1.59
  • अमृत : दोप. 3.22 से 4.44
  • अभिजित : दोप. 12.16 से 12.59

शुभ समय रात्रि के

  • लाभ : सायं 6.06 से 7.44
  • शुभ : रात्रि 9.22 से 10.59

त्याज्य समय

  • राहु काल : प्रात: 9.54 से 11.16
  • यम घंट : दोप. 1.59 से 3.22

आज विशेष :

  • आज का शुभ रंग : नीला, काला, भूरा
  • आज के पूज्य देव : श्री हनुमान
  • आज का मंत्र : हं हनुमते नम:

दिशाशूल

दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेगा। इसलिए पूर्व की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो उड़द की मिठाई खाकर घर से निकलें। श्री हनुमानजी महाराज के दर्शन करें।

आज का विशेष उपाय

  • आज वर्ष की पहली शनैश्चरी अमावस्या है। मौनी अमावस्या है। इस दिन शनि की साढ़ेसाती, ढैया और पीड़ा से परेशान व्यक्ति हनुमान मंदिर में जाकर दर्शन करें। वहीं बैठकर सुंदरकांड का पाठ करें। हनुमानजी को हलवे का नैवेद्य लगाएं। परेशानी समाप्त होगी।
  • शनिदेव के दर्शन करें। काला कपड़ा, काले उड़द, काले तिल, लौहा और सरसों का तेल दान करें।
  • शनि मंदिर के बाद बैठे भिखारियों को उड़द से बनी मिठाई, इमरती आदि खिलाएं।

Shukra Gochar 2023: शुक्र का राशि परिवर्तन, इन राशियों को मिलेगा लाभ ही लाभShukra Gochar 2023: शुक्र का राशि परिवर्तन, इन राशियों को मिलेगा लाभ ही लाभ

English summary

aaj ka panchang 21st January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

Story first published: Saturday, January 21, 2023, 6:05 [IST]

Source link

Shukra Gochar 2023: शुक्र का राशि परिवर्तन, इन राशियों को मिलेगा लाभ ही लाभ | Venus Transit into Aquarius on January 22, Know The Effects & Remedies

0

शुक्र-शनि की कुंभ राशि में युति का चार राशियों को अधिक लाभ मिलने वाला है। चूंकि शनि अपने ही घर कुंभ में है इसलिए वह अधिक शुभ फल प्रदान करेगा।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Shukra Gochar 2023:

Shukra Ka Rashi Parivartan: भोग विलास, दांपत्य सुख और लग्जरी लाइफ का प्रतिनिधि ग्रह शुक्र 22 जनवरी 2023 रविवार को दोपहर 3 बजकर 52 मिनट पर अपने मित्र ग्रह शनि की राशि कुंभ में प्रवेश करने जा रहा है। शुक्र-शनि की यह युति 15 फरवरी 2023 को रात्रि 8 बजकर 1 मिनट तक बनी रहेगी। शुक्र 25 दिन तक अपने मित्र के घर में रहेगा। इसका सभी राशियों को किसी न किसी रूप में शुभ फल मिलने वाला है। क्योंकिशुक्र धन-संपदा, लग्जरी लाइफ देता है तो शनि स्थायित्व का प्रतीक हैं।

चार राशियों को मिलेगा ज्यादा लाभ

शुक्र-शनि की कुंभ राशि में युति का चार राशियों को अधिक लाभ मिलने वाला है। चूंकिशनि अपने ही घर कुंभ में है इसलिए वह अधिक शुभ फल प्रदान करेगा। ये चार राशियां हैं शनि की मकर-कुंभ और शुक्र की वृषभ-तुला। इन चारों राशि के जातकों के भौतिक सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। यदि कोई प्रेम प्रकरण चल रहा है तो वह विवाह में बदल सकता है। जिन लोगों के जीवन में प्रेम का पदार्पण नहीं हुआ है उन्हें भी मिल जाएगा। किंतु जिन लोगों की कुंडली में शुक्र कमजोर है उन्हें इन सभी फलों में न्यूनता प्राप्त होगी। कुंभ शनि की मूल त्रिकोण राशि भी है इसलिए कुंभ राशि के जातक विशेष लाभ अर्जित कर सकते हैं।

उच्च की राशियों पर प्रभाव

शनि की उच्च राशि है तुला और शुक्र की मीन। इन दो राशियों के जातक भी विशेष उपलब्धियां प्राप्त कर सकते हैं। तुला राशि के जातकों की लव लाइफ जहां शानदार तरीके से चलने वाली है, वहीं मीन राशि के जातकों को स्थायी सुखों की प्राप्ति अधिक होगी। मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।

नीच राशियों पर प्रभाव

शनि की नीच राशि है मेष और शुक्र की कन्या। इन दोनों राशि के जातकों पर शुक्र-शनि की युति का विपरीत प्रभाव पड़ सकता है। इन दोनों राशि के जातकों का दांपत्य जीवन कठिन रहेगा। संकट बढ़ सकते हैं। प्रेम संबंधों में विच्छेद आ सकता है। जबकिआर्थिक दृष्टि से भी आपको भटकाव की स्थिति रहेगी। कहीं पैसा फंसा हुआ है तो उसके लौटने की संभावना भी कम ही रहेगी।

Shukra Gochar 2023:

अन्य राशियों पर प्रभाव

मिथुन, कर्क, सिंह, वृश्चिक, धनु इन पांच राशियों के जातकों पर शुक्र-शनि की युति का मिश्रित फल मिलने वाला है। इन राशि के जातकों को धन लाभ होगा किंतु खर्च की अधिकता भी रहेगी। हालांकिअधिकांश खर्च पारिवारिक आवश्यकताओं पर ही होगा। दांपत्य जीवन में मधुरता रहेगी, नए प्रेम संबंध भी प्राप्त होंगे किंतु प्रेम में पारदर्शिता रखनी होगी। दुराव-छिपाव रखने से मतभेद होंगे।

क्या उपाय करें

समस्त राशि के जातक शुक्र-शनि की 25 दिन की युति के दौरान अपने व्यवहार को संयमित रखें। किसी से व्यर्थ के विवाद में पड़ें। प्रतिदिन मस्तक पर केसर का तिलक करें। स्ति्रयां केसर की बिंदी लगाएं। नित्य मां लक्ष्मी के दर्शन करें।

Recommended Video

Pryagraj Magh Mela 2023: क्यों खास होता है माघ मेला, जानें इसका महत्व | वनइंडिया हिंदी *Religion

Magh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथाMagh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथा

English summary

Venus Transit into Aquarius on Sunday, January 22, 2023, at 3.52 pm ruled by Saturn. Know The Effects & Remedies.

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 20 जनवरी 2023, शुक्रवार | aaj ka panchang 20th January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

दिशाशूल पश्चिम दिशा में रहेगा इसलिए पश्चिम की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो दही खाकर घर से निकलें। श्री गणेशजी महाराज के दर्शन करें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang:

Aaj Ka Panchang: आज त्रयोदशी तिथि और दिन शुक्रवार है। मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने और समस्त आर्थिक अभाव दूर करने के लिए आज के दिन सायंकाल प्रदोषकाल में मां लक्ष्मी का विधिपूर्वक पूजन करें। साथ में श्रीयंत्र का पूजन भी करें। लाल कमल के 7 पुष्प अर्पित करें। मखाने की खीर का नैवेद्य लगाएं और श्रीसूक्त के 7 पाठ करें। यहां पेश है आज का पंचांग, जिसमें शुभ-अशुभ योग देखकर पूरे दिन की प्लानिंग कर लीजिए।

आज का पंचांग

  • विक्रम संवत : 2079
  • शालिवाहन शके : 1944
  • मास : माघ कृष्ण पक्ष
  • ऋतु : शिशिर
  • अयन : उत्तरायण
  • तिथि : त्रयोदशी प्रात: 9.59 तक, पश्चात चतुर्दशी दूसरे दिन प्रात: 6.17 तक, चतुर्दशी का क्षय
  • नक्षत्र : मूल दोपहर 12.39 तक
  • योग : व्याघात सायं 6.55 तक
  • करण : वणिज प्रात: 9.59 तक
  • सूर्योदय : 7.10.21
  • सूर्यास्त : 6.05.03
  • दिनकाल : 10 घंटे 54 मिनट 41 सेकंड
  • रात्रिकाल : 13 घंटे 05 मिनट 11 सेकंड
  • चंद्रास्त : सायं 4.22
  • चंद्रोदय : प्रात: 6.39

आज की ग्रह स्थिति

  • सूर्य राशि : मकर में
  • चंद्र राशि : धनु
  • मंगल : वृषभ में
  • बुध : धनु में, मार्गी
  • गुरु : मीन में
  • शुक्र : मकर में
  • शनि : कुंभ में
  • राहु : मेष में
  • केतु : तुला में

शुभ समय दिन के

  • चर : प्रात: 7.10 से 8.32
  • लाभ : प्रात: 8.32 से 9.54
  • अमृत : प्रात: 9.54 से 11.16
  • शुभ : दोप. 12.38 से 1.59
  • चर : सायं 4.43 से 6.05
  • अभिजित : दोप. 12.16 से 12.59

शुभ समय रात्रि के

लाभ : रात्रि 9.21 से 10.59

त्याज्य समय

  • राहु काल : प्रात: 11.16 से दोप. 12.38
  • यम घंट : दोप. 3.21 से 4.43

आज विशेष :

  • आज का शुभ रंग : सफेद, चमकीला सफेद
  • आज के पूज्य देव : मां अष्टलक्ष्मी
  • आज का मंत्र : श्रीं

दिशाशूल

दिशाशूल पश्चिम दिशा में रहेगा। इसलिए पश्चिम की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो दही खाकर घर से निकलें। श्री गणेशजी महाराज के दर्शन करें।

आज का विशेष उपाय

  • मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने और समस्त आर्थिक अभाव दूर करने के लिए आज के दिन सायंकाल प्रदोषकाल में मां लक्ष्मी का विधिपूर्वक पूजन करें।
  • साथ में श्रीयंत्र का पूजन भी करें। लाल कमल के 7 पुष्प अर्पित करें।
  • मखाने की खीर का नैवेद्य लगाएं और श्रीसूक्त के 7 पाठ करें।
  • इसके बाद 7 कन्याओं को खीर का प्रसाद देकर यथोचित दक्षिणा प्रदान करें। इससे शीघ्र ही धन का आगमन बढ़ने लगेगा।

Magh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथाMagh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथा

English summary

aaj ka panchang 20th January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Story first published: Friday, January 20, 2023, 6:10 [IST]

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 19 जनवरी 2023, गुरुवार | aaj ka panchang 19h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

दिशाशूल दक्षिण दिशा में रहेगा। इसलिए दक्षिण की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो जीरा खाकर घर से निकलें। चतुर्भुज भगवान नारायण के दर्शन करें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang:


Aaj
Ka
Panchang:

आज
द्वादशी
तिथि
और
दिन
गुरुवार
है।
आज
प्रदोष
व्रत
है।
जो
लोग
वर्षभर
के
प्रदोष
व्रत
करते
हैं
वे
तो
करेंगे
ही,
किंतु
जो
लोग
कभी
यह
व्रत
नहीं
करते
उन्हें
भी
माघ
मास
के
इस
प्रदोष
व्रत
को
अवश्य
करना
चाहिए।
प्रदोष
व्रत
भगवान
शिव
की
कृपा
प्राप्त
करने
का
सर्वश्रेष्ठ
व्रत
है।
इस
व्रत
के
प्रभाव
से
जीवन
के
सारे
अभाव
दूर
हो
जाते
हैं।
संकटों
से
छुटकारा
मिलता
है
और
धन-संपदा,
सुख-सम्मान
प्राप्त
होता
है।
यहां
पेश
है
आज
का
पंचांग,
जिसमें
शुभ-अशुभ
योग
देखकर
पूरे
दिन
की
प्लानिंग
कर
लीजिए।


आज
का
पंचांग

  • विक्रम
    संवत
    :
    2079
  • शालिवाहन
    शके
    :
    1944
  • मास
    :
    माघ
    कृष्ण
    पक्ष
  • ऋतु
    :
    शिशिर
  • अयन
    :
    उत्तरायण
  • तिथि
    :
    द्वादशी
    दोपहर
    1.17
    तक
  • नक्षत्र
    :
    ज्येष्ठा
    दोपहर
    3.16
    तक
  • योग
    :
    ध्रुव
    रात्रि
    11.02
    तक
  • करण
    :
    तैतिल
    दोपहर
    1.17
    तक
  • सूर्योदय
    :
    7.10.27
  • सूर्यास्त
    :
    6.04.20
  • दिनकाल
    :
    10
    घंटे
    53
    मिनट
    53
    सेकंड
  • रात्रिकाल
    :
    13
    घंटे
    06
    मिनट
    00
    सेकंड
  • चंद्रास्त
    :
    दोपहर
    3.17
  • चंद्रोदय
    :
    तड़के
    5.34
  • आज
    की
    ग्रह
    स्थिति
  • सूर्य
    राशि
    :
    मकर
    में
  • चंद्र
    राशि
    :
    वृश्चिक
    दोप.
    3.16
    तक
    पश्चात
    धनु
  • मंगल
    :
    वृषभ
    में
  • बुध
    :
    धनु
    में
  • गुरु
    :
    मीन
    में
  • शुक्र
    :
    मकर
    में
  • शनि
    :
    कुंभ
    में
  • राहु
    :
    मेष
    में
  • केतु
    :
    तुला
    में


शुभ
समय
दिन
के

  • चर
    :
    प्रात:
    11.16
    से
    दोप.
    12.37
  • लाभ
    :
    दोप.
    12.37
    से
    1.59
  • शुभ
    :
    सायं
    4.43
    से
    6.04
  • अभिजित
    :
    दोप.
    12.16
    से
    12.59


शुभ
समय
रात्रि
के

  • अमृत
    :
    सायं
    6.04
    से
    7.43
  • चर
    :
    सायं
    7.43
    से
    रात्रि
    9.21


त्याज्य
समय

  • राहु
    काल
    :
    दोप.
    1.59
    से
    3.21
  • यम
    घंट
    :
    प्रात:
    7.10
    से
    8.32


आज
विशेष
:

  • प्रदोष
    व्रत
  • आज
    का
    शुभ
    रंग
    :
    पीला,
    सफेद
  • आज
    के
    पूज्य
    देव
    :
    वासुदेव
  • आज
    का
    मंत्र
    :
    ऊं
    नमो
    भगवते
    वासुदेवाय


दिशाशूल

दिशाशूल
दक्षिण
दिशा
में
रहेगा।
इसलिए
दक्षिण
की
ओर
यात्रा
करना
टालें।
आवश्यक
हो
तो
जीरा
खाकर
घर
से
निकलें।
चतुर्भुज
भगवान
नारायण
के
दर्शन
करें।


आज
का
विशेष
उपाय

  • आज
    प्रदोष
    व्रत
    है।
    जो
    लोग
    वर्षभर
    के
    प्रदोष
    व्रत
    करते
    हैं
    वे
    तो
    करेंगे
    ही,
    किंतु
    जो
    लोग
    कभी
    यह
    व्रत
    नहीं
    करते
    उन्हें
    भी
    माघ
    मास
    के
    इस
    प्रदोष
    व्रत
    को
    अवश्य
    करना
    चाहिए।
    प्रदोष
    व्रत
    भगवान
    शिव
    की
    कृपा
    प्राप्त
    करने
    का
    सर्वश्रेष्ठ
    व्रत
    है।
    इस
    व्रत
    के
    प्रभाव
    से
    जीवन
    के
    सारे
    अभाव
    दूर
    हो
    जाते
    हैं।
    संकटों
    से
    छुटकारा
    मिलता
    है
    और
    धन-संपदा,
    सुख-सम्मान
    प्राप्त
    होता
    है।
  • प्रदोष
    व्रत
    में
    सायंकाल
    में
    अर्थात्
    प्रदोषकाल
    में
    शिवजी
    का
    पूजन
    किया
    जाता
    है।
    बेलपत्र,
    धतूरा,
    आंकड़े
    के
    पुष्प,
    जनेऊ
    आदि
    शिवजी
    को
    अर्पित
    करें।
    समस्त
    द्रव्यों
    से
    पूजन
    कर
    फलों,
    मिष्ठान्नों
    का
    नैवेद्य
    लगाएं।
    प्रदोष
    व्रत
    की
    कथा
    सुनें
    या
    पढ़ें।

Magh Guru Pradosh Vrat 2023: कब है गुरु प्रदोष व्रत, क्या है पूजा विधि, महत्व और शुभ मुहूर्तMagh
Guru
Pradosh
Vrat
2023:
कब
है
गुरु
प्रदोष
व्रत,
क्या
है
पूजा
विधि,
महत्व
और
शुभ
मुहूर्त

English summary

aaj ka panchang 19h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Story first published: Thursday, January 19, 2023, 6:10 [IST]

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 18 जनवरी 2023, बुधवार | aaj ka panchang 18th January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

दिशाशूल उत्तर दिशा में रहेगा इसलिए उत्तर की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो मिश्री खाकर घर से निकलें। गणेशजी के दर्शन करें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang

Aaj Ka Panchang: आज एकादशी तिथि और दिन बुधवार है। कार्यो में सिद्धि और सफलता प्राप्त करने के लिए आज के दिन भगवान गणेश को 108 दूर्वा के साथ लड्डुओं का नैवेद्य लगाएं। गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें। लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए एक मोती शंख, पांच पीली कौड़ी और पांच गोमती चक्र का पूजन कर, केसर की बिंदी लगाकर लाल रेशमी कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें। आज के दिन गाय को हरा धनिया खिलाने से बुध ग्रह की प्रसन्नता प्राप्त होगी और बुध से संबंधित परेशानियां कम होंगी। यहां पेश है आज का पंचांग, जिसमें शुभ-अशुभ योग देखकर पूरे दिन की प्लानिंग कर लीजिए।

आज का पंचांग

  • विक्रम संवत : 2079
  • शालिवाहन शके : 1944
  • मास : माघ कृष्ण पक्ष
  • ऋतु : शिशिर
  • अयन : उत्तरायण
  • तिथि : एकादशी सायं 4.02 तक
  • नक्षत्र : अनुराधा सायं 5.21 तक
  • योग : वृद्धि रात्रि 2.45 तक
  • करण : बालव सायं 4.02 तक
  • सूर्योदय : 7.10.31
  • सूर्यास्त : 6.03.38
  • दिनकाल : 10 घंटे 53 मिनट 06 सेकंड
  • रात्रिकाल : 13 घंटे 06 मिनट 49 सेकंड
  • चंद्रास्त : दोपहर 2.20
  • चंद्रोदय : तड़के 4.25

आज की ग्रह स्थिति

  • सूर्य राशि : मकर में
  • चंद्र राशि : वृश्चिक
  • मंगल : वृषभ में
  • बुध : धनु में
  • गुरु : मीन में
  • शुक्र : मकर में
  • शनि : कुंभ में
  • राहु : मेष में
  • केतु : तुला में

शुभ समय दिन के

  • लाभ : प्रात: 7.11 से 8.32
  • शुभ : प्रात: 11.15 से दोप. 12.37
  • लाभ : सायं 4.42 से 6.04

शुभ समय रात्रि के

  • शुभ : सायं 7.42 से रात्रि 9.20
  • अमृत : रात्रि 9.20 से 10.59

त्याज्य समय

  • राहु काल : दोप. 12.37 से 1.59
  • यम घंट : प्रात: 8.32 से 9.54

आज विशेष

  • आज का शुभ रंग : हरा, सिंदूरी, सफेद
  • आज के पूज्य देव : श्री गणेश
  • आज का मंत्र : ऊं गं गणपतयै नम:

दिशाशूल

दिशाशूल उत्तर दिशा में रहेगा। इसलिए उत्तर की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो मिश्री खाकर घर से निकलें। गणेशजी के दर्शन करें।

आज का विशेष उपाय

  • कार्यो में सिद्धि और सफलता प्राप्त करने के लिए आज के दिन भगवान गणेश को 108 दूर्वा के साथ लड्डुओं का नैवेद्य लगाएं। गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें।
  • लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए एक मोती शंख, पांच पीली कौड़ी और पांच गोमती चक्र का पूजन कर, केसर की बिंदी लगाकर लाल रेशमी कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें।
  • आज के दिन गाय को हरा धनिया खिलाने से बुध ग्रह की प्रसन्नता प्राप्त होगी और बुध से संबंधित परेशानियां कम होंगी।

Ramcharitmanas Row in Bihar: 'पूजहि विप्र सकल गुण हीना...' का जानिए सही अर्थ, क्या कहते हैं जानकार?Ramcharitmanas Row in Bihar: ‘पूजहि विप्र सकल गुण हीना…’ का जानिए सही अर्थ, क्या कहते हैं जानकार?

English summary

aaj ka panchang 18h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Story first published: Wednesday, January 18, 2023, 6:05 [IST]

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 17 जनवरी 2023, मंगलवार | aaj ka panchang 17h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

दिशाशूल उत्तर दिशा में रहेगा इसलिए उत्तर की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो गुड़ खाकर घर से निकलें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang


Aaj
Ka
Panchang:

आज
दशमी
तिथि
और
दिन
मंगलवार
है।
आर्थिक,
पारिवारिक,
शारीरिक,
मानसिक
किसी
भी
प्रकार
की
परेशानी
आपके
जीवन
में
चल
रही
है
तो
आज
के
दिन
किसी
ऐसे
गणेश
मंदिर
जाएं
जहां
गणेशजी
को
सिंदूर
का
चोला
चढ़ा
हुआ
हो।
वहां
पूजन
करके
मूर्ति
पर
से
थोड़ा
सा
सिंदूर
लेकर
आएं
और
इसे
अपने
मस्तक
पर
लगाने
के
साथ
ही
घर
के
मुख्य
द्वार
पर
इस
सिंदूर
से
दोनों
ओर
स्वस्तिक
बनाएं,आपके
सारे
कष्ट
दूर
हो
जाएंगे।
यहां
पेश
है
आज
का
पंचांग,
जिसमें
शुभ-अशुभ
योग
देखकर
पूरे
दिन
की
प्लानिंग
कर
लीजिए।


आज
का
पंचांग

  • विक्रम
    संवत
    :
    2079
  • शालिवाहन
    शके
    :
    1944
  • मास
    :
    माघ
    कृष्ण
    पक्ष
  • ऋतु
    :
    शिशिर
  • अयन
    :
    उत्तरायण
  • तिथि
    :
    दशमी
    सायं
    6.05
    तक
  • नक्षत्र
    :
    विशाखा
    सायं
    6.45
    तक
  • योग
    :
    शूल
    प्रात:
    8.33
    तक
  • करण
    :
    गंड
    दूसरे
    दिन
    प्रात:
    5.57
    तक
  • सूर्योदय
    :
    7.10.34
  • सूर्यास्त
    :
    6.02.55
  • दिनकाल
    :
    10
    घंटे
    52
    मिनट
    20
    सेकंड
  • रात्रिकाल
    :
    13
    घंटे
    07
    मिनट
    36
    सेकंड
  • चंद्रास्त
    :
    दोपहर
    1.32
  • चंद्रोदय
    :
    रात्रि
    3.18


आज
की
ग्रह
स्थिति

  • सूर्य
    राशि
    :
    मकर
    में
  • चंद्र
    राशि
    :
    तुला
    में
    दोपहर
    12.59
    तक,
    पश्चात
    वृश्चिक
  • मंगल
    :
    वृषभ
    में
  • बुध
    :
    धनु
    में
  • गुरु
    :
    मीन
    में
  • शुक्र
    :
    मकर
    में
  • शनि
    :
    मकर
    में
  • राहु
    :
    मेष
    में
  • केतु
    :
    तुला
    में


शुभ
समय
दिन
के

  • लाभ
    :
    प्रात:
    11.15
    से
    दोप.
    12.37
  • अमृत
    :
    दोप.
    12.37
    से
    1.58
  • अभिजित
    :
    दोप.12.15
    से
    12.59


शुभ
समय
रात्रि
के

लाभ
:
सायं
7.41
से
रात्रि
9.20


त्याज्य
समय

  • राहु
    काल
    :
    दोप.
    3.20
    से
    सायं
    4.41
  • यम
    घंट
    :
    प्रात:
    9.54
    से
    11.15


आज
विशेष
:

  • आज
    का
    शुभ
    रंग
    :
    लाल,
    लाल
    के
    सारे
    शेड्स
  • आज
    के
    पूज्य
    देव
    :
    श्री
    सिंदूर
    गणेश
  • आज
    का
    मंत्र
    :
    ऊं
    गणाध्यक्षाय
    नम:


दिशाशूल

दिशाशूल
उत्तर
दिशा
में
रहेगा।
इसलिए
उत्तर
की
ओर
यात्रा
करना
टालें।
आवश्यक
हो
तो
गुड़
खाकर
घर
से
निकलें।
सिंदूर
वर्ण
के
गणेशजी
के
दर्शन
करें।


आज
का
विशेष
उपाय

आर्थिक,
पारिवारिक,
शारीरिक,
मानसिक
किसी
भी
प्रकार
की
परेशानी
आपके
जीवन
में
चल
रही
है
तो
आज
के
दिन
किसी
ऐसे
गणेश
मंदिर
जाएं
जहां
गणेशजी
को
सिंदूर
का
चोला
चढ़ा
हुआ
हो।
वहां
पूजन
करके
मूर्ति
पर
से
थोड़ा
सा
सिंदूर
लेकर
आएं
और
इसे
अपने
मस्तक
पर
लगाने
के
साथ
ही
घर
के
मुख्य
द्वार
पर
इस
सिंदूर
से
दोनों
ओर
स्वस्तिक
बनाएं।
गणेशजी
से
परेशानी
दूर
करने
की
प्रार्थना
करें।
अगले
मंगलवार
तक
आपकी
परेशानियों
का
अवश्य
हल
निकलेगा।

Shattila Ekadashi 2023: षटतिला एकादशी की तिथि, पूजाविधि, महत्व, कथा और मुहूर्तShattila
Ekadashi
2023:
षटतिला
एकादशी
की
तिथि,
पूजाविधि,
महत्व,
कथा
और
मुहूर्त

English summary

aaj ka panchang 17h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Story first published: Tuesday, January 17, 2023, 6:00 [IST]

Source link

Shani Rashi Parivartan 2023: शनि के राशि परिवर्तन का राशियों पर प्रभाव | shani rashi parivartan 2023 on january 17 shani gochar in meen effect on all zodiac sign news in hindi

0

Shani Rashi Parivartan 2023 (शनि राशि परिवर्तन) in Aquarius Rashi: यदि आपकी कुंडली में शनि बलवान है तो प्रभावशील व्यक्तियों से आपको लाभ हो सकता है।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Shani Rashi Parivartan 2023:


Shani
Rashi
Parivartan
2023:

ग्रहों
में
न्यायाधिपति
और
अच्छे-बुरे
कर्मो
के
अनुसार
फल
देने
वाले
शनि
को
ग्रह
होने
के
बावजूद
देवता
का
दर्जा
प्राप्त
है।
ऐसे
शनिदेव
17
जनवरी
2023
को
कुंभ
राशि
में
प्रवेश
करने
जा
रहे
हैं।
शनि
के
राशि
परिवर्तन
का
विभिन्न
राशियों
पर
भिन्न-भिन्न
प्रभाव
होगा।
आइए
जानते
हैं
विस्तार
से-


मेष
:

मेष
राशि
के
जातकों
के
लिए
शनि
एकादश
स्थान
में
लोहे
के
पाये
से
भ्रमण
करने
से
संतान
एवं
पत्नी
पक्ष
को
पीड़ा
हो
सकती
है।
मित्रों

आत्मीयजन
का
विश्वासघात
मिल
सकता
है।
आपकी
उम्मीदों
पर
पानी
फिर
सकता
है।
व्यावसाययिक
और
नौकरी
के
क्षेत्र
में
अच्छी
सफलता,
धनलाभ,
पद-प्रतिष्ठा
में
वृद्धि
प्राप्त
होगी।
लोह,
भूमि,
पत्थर

स्त्रीवर्ग
से
लाभ,
आरोग्यता
प्राप्त
होगी,
विवाह
के
योग
बनेंगे।
शारीरिक
पीड़ा
और
दांपत्य
जीवन
में
टकराव
हो
सकता
है।


वृषभ
:

शनि
आपके
दशम
स्थान
में
ताम्र
पाद
से
भ्रमण
करेगा।
यदि
आपकी
कुंडली
में
शनि
बलवान
है
तो
प्रभावशील
व्यक्तियों
से
आपको
लाभ
हो
सकता
है,
व्यावसायिक
उन्नति
होगी,
कोर्ट-कचहरी
के
मामलों
में
विजय,
आर्थिक
स्थिति
में
सुधार
होगा
और
अचल
संपत्ति
की
प्राप्ति
के
योग
बनेंगे।
पारिवारिक
वियोग,
राजभय,
नौकरी
में
परिवर्तन,
माता-पिता
को
शारीरिक
पीड़ा,
किसी
महिला
मित्र
के
कारण
अपयश
मिल
सकता
है।
वाहन-मशीनरी
का
प्रयोग
करते
समय
सावधानी
रखें।


मिथुन
:

शनि
आपके
नवम
स्थान
में
स्वर्ण
पाद
से
भ्रमण
करने
पर
संतान
की
चिंता
रहेगी,
अनिष्टकारी
प्रसंग,
भाई-बहन
से
विवाद
और
पीड़ा,
आर्थिक
कष्ट

सकता
है।
शत्रुभय
बना
रहेगा,
स्त्री
से
कष्ट,
कोर्ट
के
कार्यो
में
परेशानी,
चलते-चलते
काम
अटक
सकते
हैं।
यदि
आपकी
जन्मकुंडली
में
शनि
बलवान
है
तो
धार्मिक
कार्यो
में
योगदान,
तीर्थयात्रा,
संतों
के
दर्शन,
व्यावसायिक
उन्नति,
धन
लाभ,
संतान
सुख
प्राप्त
होगा।
नौकरी
और
व्यवसाय
में
इच्छानुसार
परिवर्तन
से
लाभ
होगा।


कर्क
:

आपकी
राशि
पर
शनि
का
लघुकल्याणी
ढैया
अष्टम
स्थान
में
चांदी
के
पाये
से
प्रारंभ
होगा।
यह
शुभ-अशुभ
दोनों
प्रकार
के
परिणाम
देगा।
राजभय,
संतान
को
कष्ट,
कार्यो
में
बाधा
और
हानि,
धनहानि,
व्यावसायिक
क्षेत्रों
में
असफलता,
वाहन
एवं
पशु
के
कारण
कष्ट
उठाना
पड़
सकता
है।
बुरे
लोगों
की
संगति
होगी।
यदि
आपकी
जन्मकुंडली
में
जन्मस्थ
शनि
बलवान
होगा
तो
धनलाभ,
कार्य
व्यवसाय
में
सफलता,
जीवनसाथी
से
धनलाभ
होगा।
अचल
संपत्ति
खरीदने
के
योग
बनेंगे।


सिंह
:

शनि
आपकी
राशि
पर
लोहे
के
पाये
से
सप्तम
स्थान
में
भ्रमण
करेगा।
फलस्वरूप
स्त्रीकष्ट,
द्रव्यहानि,
नौकरी
में
परेशानी,
व्यवसाय
में
बाधा,
मानसिक
पीड़ा,
बुद्धि
भ्रम,
अनिर्णय
की
स्थिति
रहेगी।
विद्यार्थी
वर्ग
को
विद्यार्जन
में
रूकावट,
जिन
लोगों
का
दांपत्य
जीवन
ठीक
नहीं
चल
रहा
है
उनका
विवाह
विच्छेद
हो
सकता
है।
गुप्तरोग
होने
की
आशंका,
बार-बार
यात्रा
होगी
और
कष्टकारी
होगी।
जन्मस्थ
शनि
बलवान
होने
पर
धनलाभ,
व्यापार
में
आशातीय
प्रगति,
धन-संपदा
में
लाभ।


कन्या
:

शनि
आपके
छठे
भाव
में
तांबे
के
पाये
से
प्रवेश
करेगा।
आरोग्यता,
शत्रुनाश,
कोर्ट
के
कार्यो
में
विजय,
कर्ज
मुक्ति,
नौकरी
व्यवसाय
में
सफलता,
अचल
संपत्ति
की
प्राप्ति,
मित्रों
का
सहयोग,
पद-प्रतिष्ठा
में
वृद्धि
होगी।
जन्मस्थ
शनि
कमजोर
है
तो
बेकार
के
कार्यो
में
व्यय
होगा।
बार-बार
स्थान
परिवर्तन
की
स्थिति

सकती
है।
शारीरिक
पीड़ा,
स्वजन
से
विरोध-मतभेद,
संतान
की
चिंता,
भाई-बहनों
से
परेशानी।
दांपत्य
जीवन
में
कष्ट
रहेगा।
अनावश्यक
खर्च
में
वृद्धि
होगी।


तुला
:

शनि
आपके
पंचम
भाव
में
चांदी
के
पाये
से
भ्रमण
करेगा।
कार्यो
में
सफलता
के
साथ
सम्मान
और
प्रतिष्ठा
में
वृद्धि
होगी।
कार्यो
के
लिए
प्रशंसा
मिलेगी।
शिक्षा
के
क्षेत्र
में
सफलता,
स्थायी
संपत्ति
में
वृद्धि,
शेयर,
बीमा
जैसे
क्षेत्रों
में
लाभ,
मित्रों
का
सहयोग
प्राप्त
रहेगा।
यदि
आपकी
जन्मकुंडली
में
जन्मस्थ
शनि
कमजोर
तथा
निर्बल
हो
तो
संतान
को
पीड़ा
या
संतान
से
पीड़ा,
विद्याअध्ययन
में
रूकावट,
शेयर
से
हानि,
आय
से
अधिक
व्यय
की
स्थिति
बनेगी,
नौकरी
में
उतार-चढ़ाव
रहेगा।


वृश्चिक
:

आप
पर
शनि
का
लघु
कल्याणी
ढैया
चौथे
स्थान
में
स्वर्ण
पाद
से
प्रारंभ
होगा।
शत्रु
वृद्धि
होगी,
स्थान
परिवर्तन,
यात्रा
में
कष्ट,
स्वभाव
में
कड़वाहट,
अधीनस्थों
और
उच्चाधिकारियों
से
विरोध,
माता-पिता
को
कष्ट,
मानसिक
कष्ट,
प्रियजन
का
वियोग
जैसी
स्थिति
बन
सकती
है।
जन्मस्थ
शनि
बलवान
होने
पर
कष्टों
में
कमी
आएगी।
स्थायी
संपत्ति
की
प्राप्ति,
नौकरी
कारोबार
में
उन्नति,
फंसा
हुआ
या
डूबा
हुआ
पैसा
मिलने
की
उम्मीद,
विवाह
के
योग
बनेंगे।


धनु
:

शनि
का
तृतीय
स्थान
में
लोहे
के
पाये
से
भ्रमण
करना
श्रेष्ठ
फलदायक
है।
पद-प्रतिष्ठा,
सम्मान,
पराक्रम
में
वृद्धि
होगी।
नौकरी-व्यवसाय
में
मनमुताबिक
वृद्धि
और
सफलता
के
योग
हैं।
धनलाभ,
भाई
से
सहयोग,
शत्रुनाश,
भूमि-गृह
की
प्राप्ति,
यश
में
वृद्धि
होगी।
यदि
जन्मस्थ
शनि
निर्बल
होगा
तो
अशुभ
फल
प्राप्त
होंगे।
मानसिक
कष्ट,
मानसिक
उद्विग्नता,
आलस्य
हावी
रहेगा।
बुद्धि
भ्रम,
संतान

भाई-बहनों
से
कष्ट,
अनचाहा
स्थान
परिवर्तन
हो
सकता
है।
अपयश
और
कष्टकारी
यात्राएं
होंगी।


मकर
:

शनि
की
साढ़ेसाती
का
अंतिम
ढैया
सोने
के
पाये
से
चरण
पर
दूससे
स्थान
में
प्रारंभ
होने
क्लेश,
अकारण
विवाद,
स्वजन
का
वियोग,
स्वजन
से
कलह,
स्त्रीकष्ट,
नौकरी-व्यवसाय
में
परिवर्तन
और
उतार-चढ़ाव
की
स्थिति
रहेगी।
धन
हानि,
कर्ज
चुकाने
में
संकट
आएगा।
घर
छोड़ना
पड़
सकता
है।
जन्मस्थ
शनि
मजबूत
होने
पर
व्यावसायिक
और
नौकरी
के
कार्यो
में
सफलता,
कोर्ट-कचहरी
के
मामलों
में
विजय
प्राप्त
होगी।
स्थायी
संपत्ति
तथा
भौतिक
सुखों
में
वृद्धि
होगी।
यश-सम्मान
प्राप्त
होगा।


कुंभ
:

शनि
की
साढ़ेसाती
का
दूसरा
ढैया
हृदय
पर
तांबे
के
पाये
से
प्रारंभ
होने
से
शुभाशुभ
फल
प्राप्त
होंगे।
स्थायी
लाभ,
पद-प्रतिष्ठा
में
वृद्धि,
नौकरी-व्यवसाय
में
उन्नति
के
योग
हैं।
मित्रों
से
सहयोग,
प्रेम
संबंध
में
मजबूती।
यदि
जन्मस्थ
शनि
निर्बल
होगा
तो
कष्टकारी
परिणाम
मिलेंगे।
जीवनसाथी
को
पीड़ा,
स्वास्थ्य
में
गिरावट,
कार्यो
में
बाधा,
पारिवारिक
मतभेद,
कोर्ट-कचहरी
के
मामले
फंस
सकते
हैं।
आर्थिक
कष्ट,
निरर्थक
दूरस्थ
यात्राएं
होंगी।
मित्रों
एवं
अधीनस्थों
से
असहयोग
रहेगा।


मीन
:

आपको
चांदी
के
पाये
से
मस्तक
पर
शनि
की
साढ़ेसाती
का
प्रथम
ढैया
प्रारंभ
हो
रहा
है।
शनि
आपके
एकादश
और
द्वादश
भाव
का
स्वामी
होकर
द्वादश
भाव
में
गोचर
करेगा।
व्यापार
में
परेशानी,
कुटंबिक
मतभेद,
गृहक्लेश,
शारीरिक
पीड़ा,
जीवनसाथी
एवं
संतान
के
लिए
अरिष्टप्रद,
कर्ज
लेने
की
स्थिति

सकती
है,
धनागम
में
परेशानी,
आय
से
अधिक
व्यय।
जन्मस्थ
शनि
बलवान
होने
पर
अच्छे
परिणाम
मिलेंगे।
व्यावसायिक
उन्नति,
धनलाभ,
मित्रों
में
वृद्धि,
प्रेम
में
वृद्धि
होगी।

Shani Gochar 2023: 17 जनवरी को शनि का कुंभ राशि में गोचर, मीन पर प्रारंभ होगी साढ़ेसातीShani
Gochar
2023:
17
जनवरी
को
शनि
का
कुंभ
राशि
में
गोचर,
मीन
पर
प्रारंभ
होगी
साढ़ेसाती

Recommended
Video

16
January
2023
AAJ
KA
RASHIFAL
|
आज
का
राशिफल
मेष
से
मीन
तक
|
Daily
Astrology
|
वनइंडिया
हिंदी

English summary

shani rashi parivartan 2023 on january 17 shani gochar in meen effect on all zodiac sign news in hindi .read details here.

Source link

Shani Gochar 2023: 17 जनवरी को शनि का कुंभ राशि में गोचर, मीन पर प्रारंभ होगी साढ़ेसाती | shani gochar 2023 rashi parivartan saturn will enters in Aquarius on january 17 news in hindi

0

Shani Gochar 2023 Rashi Parivartan (शनि राशि परिवर्तन) in Meen Rashi: शनि के कुंभ राशि में गोचर करने का देश-दुनिया पर व्यापक प्रभाव होने वाला है।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
 Shani Gochar 2023:

Shani Gochar 2023: शनि का महाराशि परिवर्तन 17 जनवरी 2023 को हो रहा है। शनि रात्रि में 8 बजकर 2 मिनट पर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। इसके साथ ही मीन राशि पर चांदी के पाये से मस्तक पर शनि की साढ़ेसाती का प्रथम ढैया प्रारंभ हो जाएगा। कुंभ राशि पर तांबे के पाये से साढ़ेसाती का दूसरा ढैया और मकर राशि पर सोने के पाये से साढ़ेसाती का तीसरा और अंतिम ढैया प्रारंभ होगा। वहीं कर्क राशि पर चांदी के पाये से शनि का लघुकल्याणी ढैया और वृश्चिक राशि पर स्वर्ण पाद से लघुकल्याणी ढैया प्रारंभ होगा। शनि के इस राशि परिवर्तन से धनु राशि के जातक साढ़ेसाती से मुक्त हो जाएंगे।

30 वर्ष बाद कुंभ में गोचर

प्रत्येक ग्रह का एक राशि में गोचर का समय अलग-अलग होता है। शनि एक राशि में लगभग ढाई वर्ष तक रहता है। इस प्रकार बारह राशियों का एक चक्र पूरा करने में शनि को लगभग 30 वर्ष का समय लग जाता है। शनि इससे पहले वर्ष 1993 में कुंभ राशि में आया था।

देश-दुनिया पर प्रभाव

शनि के कुंभ राशि में गोचर करने का देश-दुनिया पर व्यापक प्रभाव होने वाला है। शनि का स्वभाव ठंडा है और यह सीधे प्रकृति और पर्यावरण से जुड़ा है इसलिए बड़ी प्राकृतिक आपदाओं के संकेत मिल रहे हैं। शनि अपनी ही राशि में आकर अधिक बलवान होने के कारण देश के उत्तरी भूभागों में बड़ी हलचल, अत्यधिक शीत, बर्फबारी, भूस्खलन, बाढ़, भूकंप, बांध टूटने जैसी विपदाएं आ सकती हैं। शनि वाहनों का आधिपत्य भी करते हैं। इसलिए कोई बड़ी विमान, ट्रेन, बस दुर्घटना की आशंका है। देश-दुनिया के राजनीतिक-व्यापारिक संबंधों में टकराव, महामारी, अनजान जीवाणुओं से खतरा जैसी स्थितियां सामने आ सकती हैं।

शनि का गोचर

  • 17 जनवरी 2023 को रात्रि 8.02 से
  • 29 मार्च 2025 को रात्रि 11.01 तक कुंभ में

शनि अस्त

  • 30 जनवरी 2023 सायं 5.56 से
  • 5 मार्च 2023 प्रात: 6.51 तक
  • कुल अस्त अवधि 33 दिन

शनि वक्री

  • 17 जून 2023 रात्रि 10.56 से
  • 4 नवंबर 2023 दोपहर 12.31 तक
  • कुल वक्री अवधि 140 दिन

Vivah Muhurat 2023: वर्ष 2023 में विवाह के 39 शुद्ध मुहूर्त, सर्वाधिक विवाह मई मेंVivah Muhurat 2023: वर्ष 2023 में विवाह के 39 शुद्ध मुहूर्त, सर्वाधिक विवाह मई में

Recommended Video

Makar Rashi Tarot Card 2023: मकर राशि टैरो 2023, जानिए अपनी किस्मत | Saturn | वनइंडिया हिंदी

English summary

shani gochar 2023 rashi parivartan saturn will enters in Aquarius on january 17 news in hindi. read details here.

Source link

Aaj Ka Panchang: आज का पंचांग, 16 जनवरी 2023, सोमवार | aaj ka panchang 16h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal

0

आज दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेगा इसलिए पूर्व की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो सौंफ और मिश्री खाकर घर से निकलें। दर्पण में अपना मुख देखें।

Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

Google Oneindia News
Aaj Ka Panchang

Aaj Ka Panchang: आज नवमी तिथि और दिन सोमवार है। सारे संकटों का निराकरण करने के लिए सोमवार का व्रत रखकर शिवजी का सायंकाल प्रदोषकाल में पूजन करें। यहां पेश है आज का पंचांग, जिसमें शुभ-अशुभ योग देखकर पूरे दिन की प्लानिंग कर लीजिए।

आज का पंचांग

  • विक्रम संवत : 2079
  • शालिवाहन शके : 1944
  • मास : माघ कृष्ण पक्ष
  • ऋतु : शिशिर
  • अयन : उत्तरायण
  • तिथि : नवमी सायं 7.19 तक
  • नक्षत्र : स्वाति सायं 7.22 तक
  • योग : धृति प्रात: 10.30 तक
  • करण : तैतिल प्रात: 7.38 तक
  • सूर्योदय : 7.10.36
  • सूर्यास्त : 6.02.13
  • दिनकाल : 10 घंटे 51 मिनट 36 सेकंड
  • रात्रिकाल : 13 घंटे 08 मिनट 21 सेकंड
  • चंद्रास्त : दोपहर 12.51
  • चंद्रोदय : रात्रि 2.15

आज की ग्रह स्थिति

  • सूर्य राशि : मकर में
  • चंद्र राशि : तुला में
  • मंगल : वृषभ में
  • बुध : धनु में
  • गुरु : मीन में
  • शुक्र : मकर में
  • शनि : मकर में
  • राहु : मेष में
  • केतु : तुला में

शुभ समय दिन के

  • अमृत : प्रात: 7.11 से 8.32
  • शुभ : प्रात: 9.54 से 11.15
  • लाभ : दोप. 3.19 से सायं 4.41
  • अमृत : सायं 4.41 से 6.02
  • अभिजित : दोप. 12.15 से 12.58

शुभ समय रात्रि के

चर : सायं 6.02 से 7.41

त्याज्य समय

  • राहु काल : प्रात: 8.32 से 9.54
  • यम घंट : प्रात: 11.15 से दोप. 12.36

आज विशेष :

  • आज का शुभ रंग : सफेद, जामुनी
  • आज के पूज्य देव : भगवान शिव
  • आज का मंत्र : ऊं नम: शिवाय

दिशाशूल

दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेगा। इसलिए पूर्व की ओर यात्रा करना टालें। आवश्यक हो तो सौंफ और मिश्री खाकर घर से निकलें। दर्पण में अपना मुख देखें। केसर का तिलक मस्तक पर लगाएं।

आज का विशेष उपाय

  • बल पुष्टि वृद्धि के लिए आज भगवान शिव को शहद अर्पित करें।
  • लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए गन्ने का रस भगवान शिव को अर्पित करें।
  • सारे संकटों का निराकरण करने के लिए सोमवार का व्रत रखकर शिवजी का सायंकाल प्रदोषकाल में पूजन करें।

Magh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथाMagh Snan 2023: क्यों किया जाता है माघ माह में गंगा स्नान? जानिए कथा

English summary

aaj ka panchang 16h January 2023 today hindu panchang tithi nakshatra shubh muhurat rahu kaal.

Story first published: Monday, January 16, 2023, 6:00 [IST]

Source link