Home Himachal Pradesh Adani Company Has Now Reduced The Price Of Apple Purchase By Up...

Adani Company Has Now Reduced The Price Of Apple Purchase By Up To Seven Rupees Per Kg – Apple Purchase Price: अदाणी कंपनी ने अब सात रुपये तक प्रतिकिलो घटाए सेब खरीद के दाम

0
14

ख़बर सुनें

अदाणी एग्रो फ्रेश लिमिटेड कंपनी ने सेब खरीद के दाम अब सात रुपये तक प्रतिकिलो घटा दिए। किसानों-बागवानों के सेब के दाम बढ़ाने समेत विभिन्न मांगों को लेकर चल रहे आंदोलन के बीच इस सीजन की यह अब तक की सबसे बड़ी कटौती है। सोमवार से कंपनी एक्स्ट्रा लार्ज 41, लार्ज मीडियम स्मॉल (एलमीएस) 68, एक्स्ट्रा स्मॉल (ईएस) 60, एक्स्ट्रा एक्स्ट्रा स्मॉल (ईईएस) 52 और पित्तू 41 रुपये किलो के दाम पर सेब खरीदेगी। बीते 20 दिन में कंपनी 11 रुपये तक सेब खरीद के दाम घटा चुकी है। सरकारी मंडियों में भी बीते चार दिनों के भीतर सेब के दाम 300 से 400 रुपये तक प्रति पेटी गिर चुके हैं।

अदाणी ने 15 अगस्त से सेब खरीद शुरू की थी। शुरुआत में एक्स्ट्रा लार्ज 52, एलमीएस 76, ईएस 68, ईईएस 60 और पित्तू 52 रुपये प्रतिकिलो खरीदा था। 27 अगस्त को विभिन्न श्रेणियों की कीमतें क्रमश: 50, 76, 68, 58 और 50 रुपये घोषित की गईं। 30 अगस्त को कीमतें 48, 74, 66, 56 और 48 घोषित की गई। अब सीधे सात रुपये तक प्रतिकिलो दाम कम कर दिए हैं। सेब की आमद में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए शुक्रवार को कंपनी ने दो दिनों के लिए अपने सभी स्टोर पर खरीद बंद कर दी थी। अदाणी कंपनी ठियोग के सैंज, कुमारसेन के बिथल और रोहडू के मेहंदली में सेब खरीद कर रहा है।

मार्केट का आकलन कर तय किए दाम
अदाणी कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि मार्केट का आकलन करने के बाद सेब खरीद के दाम तय किए गए हैं। मंडियों में सेब के दामों में गिरावट आई है। अन्य कंपनियों ने भी दाम घटाए हैं। अदाणी के दाम अभी भी मंडियों और अन्य कंपनियों के मुकाबले अधिक हैं।

चुनौती दे रही अदाणी कंपनी, एक्शन ले सरकार : मंच
संयुक्त किसान मंच के संयोजक हरीश चौहान और सह संयोजक संजय चौहान ने कहा है कि अदाणी कंपनी खुलेआम सरकार को चुनौती दे रही है। सरकार को उसके खिलाफ एक्शन लेना चाहिए। कंपनी मनमानी पर उतर आई है। बागवानों का शोषण हो रहा है और सरकार मूकदर्शक बनी हुई है। सरकार की ओर से बनाई गई कमेटी महज औपचारिकता साबित हो रही है।

रविवार को एपीएमसी की मंडियों में 25 किलो की पेटी के दाम (रुपये में)
भट्ठाकुफर 500-1700
नारकंडा   300-1980
पराला     400-1900
नेरवा      300-700
रोहड़ू      300-1500
टापरी     400-1750

विस्तार

अदाणी एग्रो फ्रेश लिमिटेड कंपनी ने सेब खरीद के दाम अब सात रुपये तक प्रतिकिलो घटा दिए। किसानों-बागवानों के सेब के दाम बढ़ाने समेत विभिन्न मांगों को लेकर चल रहे आंदोलन के बीच इस सीजन की यह अब तक की सबसे बड़ी कटौती है। सोमवार से कंपनी एक्स्ट्रा लार्ज 41, लार्ज मीडियम स्मॉल (एलमीएस) 68, एक्स्ट्रा स्मॉल (ईएस) 60, एक्स्ट्रा एक्स्ट्रा स्मॉल (ईईएस) 52 और पित्तू 41 रुपये किलो के दाम पर सेब खरीदेगी। बीते 20 दिन में कंपनी 11 रुपये तक सेब खरीद के दाम घटा चुकी है। सरकारी मंडियों में भी बीते चार दिनों के भीतर सेब के दाम 300 से 400 रुपये तक प्रति पेटी गिर चुके हैं।

अदाणी ने 15 अगस्त से सेब खरीद शुरू की थी। शुरुआत में एक्स्ट्रा लार्ज 52, एलमीएस 76, ईएस 68, ईईएस 60 और पित्तू 52 रुपये प्रतिकिलो खरीदा था। 27 अगस्त को विभिन्न श्रेणियों की कीमतें क्रमश: 50, 76, 68, 58 और 50 रुपये घोषित की गईं। 30 अगस्त को कीमतें 48, 74, 66, 56 और 48 घोषित की गई। अब सीधे सात रुपये तक प्रतिकिलो दाम कम कर दिए हैं। सेब की आमद में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए शुक्रवार को कंपनी ने दो दिनों के लिए अपने सभी स्टोर पर खरीद बंद कर दी थी। अदाणी कंपनी ठियोग के सैंज, कुमारसेन के बिथल और रोहडू के मेहंदली में सेब खरीद कर रहा है।

मार्केट का आकलन कर तय किए दाम

अदाणी कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि मार्केट का आकलन करने के बाद सेब खरीद के दाम तय किए गए हैं। मंडियों में सेब के दामों में गिरावट आई है। अन्य कंपनियों ने भी दाम घटाए हैं। अदाणी के दाम अभी भी मंडियों और अन्य कंपनियों के मुकाबले अधिक हैं।

चुनौती दे रही अदाणी कंपनी, एक्शन ले सरकार : मंच

संयुक्त किसान मंच के संयोजक हरीश चौहान और सह संयोजक संजय चौहान ने कहा है कि अदाणी कंपनी खुलेआम सरकार को चुनौती दे रही है। सरकार को उसके खिलाफ एक्शन लेना चाहिए। कंपनी मनमानी पर उतर आई है। बागवानों का शोषण हो रहा है और सरकार मूकदर्शक बनी हुई है। सरकार की ओर से बनाई गई कमेटी महज औपचारिकता साबित हो रही है।

रविवार को एपीएमसी की मंडियों में 25 किलो की पेटी के दाम (रुपये में)

भट्ठाकुफर 500-1700

नारकंडा   300-1980

पराला     400-1900

नेरवा      300-700

रोहड़ू      300-1500

टापरी     400-1750

Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: