25 Thousand Narcotic Pills Ordered Through Courier – लुधियाना: कूरियर के जरिये मंगवाई 25 हजार नशीली गोलियां, एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज

0
18

सांकेतिक तस्वीर।

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

लुधियाना बाहरी राज्यों से नशीली दवाईयां मंगवा कर महानगर में सप्लाई करने के लिए अब तस्करों ने नया रास्ता अपना लिया है। तस्कर कूरियर के जरिये नशीली गोलियां मंगवा रहे है। कूरियर का रास्ता आरोपियों ने इसलिए अपनाया है कि जल्दी पुलिस कूरियर की चेकिंग नहीं करती।

पुलिस को गुप्त सूचना थी तो पुलिस ने कूरियर के जुगाड़ का भी तस्करों का भंडाफोड़ कर दिया। पुलिस ने दुगरी के एमआईजी फ्लैट निवासी मनप्रीत सिंह और गुजरात के सूरत निवासी नरेश भाई के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। आरोपियों द्वारा कूरियर के जरिये मंगवाई गई 25 हजार नशीली गोलियों को पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने आरके रोड स्थित ट्रैकोन कूरियर के आपरेशन इंचार्ज सोनू कुमार की शिकायत पर केस दर्ज किया है।

शिकायतकर्ता सोनू कुमार की ओर से पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक 27 सितंबर को उनके पास सूरत से मनप्रीत सिंह के नाम पर एक पार्सल आया था। उसके आने से पहले मनप्रीत सिंह एक महिला के साथ उस पार्सल के बारे में पूछने के लिए आया था।

कुछ दिन पहले थाना जगरांव में दर्ज हुए एक केस के संबंध में वहां की पुलिस छानबीन के लिए उनके दफ्तर पहुंची। जिसे सोनू कुमार ने बताया कि मनप्रीत सिंह के नाम पर सूरत से एक और पार्सल उनके पास आया है। जो देखने में संदिग्ध लग रहा है।

पुलिस ने उसी समय थाना मोती नगर पुलिस को सूचना दी। वहां पहुंची पुलिस ने जब उसे खोल कर चेक किया तो में उसमें से 25 हजार नशे की गोलियां बरामद हुईं। थाना मोती नगर के एसएचओ इंस्पेक्टर संजीव कपूर ने बताया कि उससे पहले सूरत से जो पार्सल आया था।

उसमें 48 हजार नशीली गोलियां आई थीं। जिसे लेकर थाना जगरांव सिटी पुलिस ने मनप्रीत सिंह और उसके भाई गुरप्रीत सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया था। वो पार्सल भी इसी कूरियर कंपनी के माध्यम से आया था। इसी की जांच करते समय थाना जगरांव सिटी पुलिस के हाथ दूसरा पार्सल भी लग गया। आरोपी नरेश भाई को गिरफ्तार करने के लिए एक टीम को गुजरात भेजा जाएगा।

विस्तार

लुधियाना बाहरी राज्यों से नशीली दवाईयां मंगवा कर महानगर में सप्लाई करने के लिए अब तस्करों ने नया रास्ता अपना लिया है। तस्कर कूरियर के जरिये नशीली गोलियां मंगवा रहे है। कूरियर का रास्ता आरोपियों ने इसलिए अपनाया है कि जल्दी पुलिस कूरियर की चेकिंग नहीं करती।

पुलिस को गुप्त सूचना थी तो पुलिस ने कूरियर के जुगाड़ का भी तस्करों का भंडाफोड़ कर दिया। पुलिस ने दुगरी के एमआईजी फ्लैट निवासी मनप्रीत सिंह और गुजरात के सूरत निवासी नरेश भाई के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। आरोपियों द्वारा कूरियर के जरिये मंगवाई गई 25 हजार नशीली गोलियों को पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने आरके रोड स्थित ट्रैकोन कूरियर के आपरेशन इंचार्ज सोनू कुमार की शिकायत पर केस दर्ज किया है।

शिकायतकर्ता सोनू कुमार की ओर से पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक 27 सितंबर को उनके पास सूरत से मनप्रीत सिंह के नाम पर एक पार्सल आया था। उसके आने से पहले मनप्रीत सिंह एक महिला के साथ उस पार्सल के बारे में पूछने के लिए आया था।

कुछ दिन पहले थाना जगरांव में दर्ज हुए एक केस के संबंध में वहां की पुलिस छानबीन के लिए उनके दफ्तर पहुंची। जिसे सोनू कुमार ने बताया कि मनप्रीत सिंह के नाम पर सूरत से एक और पार्सल उनके पास आया है। जो देखने में संदिग्ध लग रहा है।

पुलिस ने उसी समय थाना मोती नगर पुलिस को सूचना दी। वहां पहुंची पुलिस ने जब उसे खोल कर चेक किया तो में उसमें से 25 हजार नशे की गोलियां बरामद हुईं। थाना मोती नगर के एसएचओ इंस्पेक्टर संजीव कपूर ने बताया कि उससे पहले सूरत से जो पार्सल आया था।

उसमें 48 हजार नशीली गोलियां आई थीं। जिसे लेकर थाना जगरांव सिटी पुलिस ने मनप्रीत सिंह और उसके भाई गुरप्रीत सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया था। वो पार्सल भी इसी कूरियर कंपनी के माध्यम से आया था। इसी की जांच करते समय थाना जगरांव सिटी पुलिस के हाथ दूसरा पार्सल भी लग गया। आरोपी नरेश भाई को गिरफ्तार करने के लिए एक टीम को गुजरात भेजा जाएगा।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here