सरकारी स्कूल की बिल्डिंग न बनने से नाराज छात्र-छात्राओं ने स्कूल में जड़ा ताला, किया धरना प्रदर्शन | Angry children locked the school due to non-construction of government school building, protested

0
29

फरीदाबाद4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
शिक्षा विभाग पर लगाया मनमानी का आरोप, कहा स्कूल में पर्याप्त कमरे न हाेने से उन्हें बाहर बैठकर करनी पड़ती है पढ़ाई। - Dainik Bhaskar

शिक्षा विभाग पर लगाया मनमानी का आरोप, कहा स्कूल में पर्याप्त कमरे न हाेने से उन्हें बाहर बैठकर करनी पड़ती है पढ़ाई।

तिगांव क्षेत्र के गांव बड़ौली स्थित राजकीय कन्या विद्यालय के भवन निर्माण में हो रहे विलम्ब से नाराज होकर छात्राओं ने स्कूल गेट पर ताला जड़ दिया। इतना ही नहीं ताला लगाने के बाद छात्राएं स्कूल के समक्ष धरने पर बैठ गई। बच्चों का आरोप है कि पांच छह साल से बिल्डिंग जर्जर हुई पड़ी है। हजारों की संख्या मंे बच्चे इस स्कूल में पढ़ते हैं। उन्हें मजबूरी में बाहर बैठकर पढ़ाई करनी पड़ती है। इस मामले को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई। पूर्व विधायक ललित नागर सहित भारी संख्या में ग्रामीण भी छात्राओं के समर्थन में धरने में शामिल हो गए और सरकार की जमकर आलोचना की। उधर भाजपा विधायक राजेश नागर ने जल्द टेंडर जारी कर काम शुरू कराने का भरोसा दिया।

ग्रामीणों का कहना है कि राजकीय कन्या विद्यालय बड़ौली की बिल्डिंग पिछले पांच-छह सालों से जर्जर हालत में है। शिकायत पर प्रशासन ने जर्जर बिल्डिंग को गिरवा तो दिया, लेकिन यहां नए भवन का निर्माण नहीं करवाया। करीब डेढ़ वर्षाे से 1200 छात्र- छात्राएं नए भवन के निर्माण की बाट जोह रहे है। गर्मी के मौसम में पेड़ के नीचे पढ़ाई करनी पड़ती है। सबसे अधिक परेशानी बारिश के मौसम में होती है। बच्चों के बैठने तक की व्यवस्था नहीं होती। नतीजतन बरसात के दौरान स्कूल की अधिकतर दिनों छुट्टी करनी पड़ती है। इस समस्या को लेकर गांववाले और बच्चे सोमवार को गेट पर ताला लगाकर बाहर धरने पर बैठ गए। छात्राओं व ग्रामीणों का समर्थन करने पहुंचे पूर्व विधायक ललित नागर ने कहा कि भाजपा सरकार का बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा धरातल पर शून्य है। मनोहर सरकार, प्रदेश को शिक्षा हब बनाने की बात करते है, जबकि दूसरी तरफ सरकारी स्कूल में पढऩे वाली छात्राओं के लिए भवन तक नहीं बनवाए जा रहे। ग्रामीणों ने बताया कि स्कूल के नए भवन निर्माण को लेकर वह स्थानीय विधायक के साथ-साथ चंडीगढ़ में शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों से भी गुहार लगा चुके है, लेकिन अभी तक सिर्फ आश्वासन ही मिला है। धरने पर राजाराम, श्याम सिंह सरपंच, महेंद्र, हितेश शर्मा, राजेंद्र, चंद्रसेन, चेतराम, भरत सिंह, हरिचंद, अशोक आदि मौजूद थे।

बीजेपी विधायक बाेले, जल्द शुरू होगा काम

उधर बीजेपी विधायक राजेश नागर ने कहा कि सरकार ने बिल्डिंग निर्माण के लिए 3.28 करोड़ की ग्रांट मंजूर हो गई है। अब ई टेंडरिंग से टेंडर डाले जारहे हैं जिससे थोड़ा विलंब हुआ है। एक माह के अंदर टेंडर जारी कर काम शुरू करा दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here