समिति बोली-राजनीतिक दलों से कोई मतलब नहीं वे बिन बुलाए मेहमान, घाट की व्यवस्था अपने खर्चे पर… | Committee bid – Political parties do not make any sense, they are uninvited guests, the arrangement of the ghat at their own expense…

0
16

  • Hindi News
  • Local
  • New delhi
  • Committee Bid Political Parties Do Not Make Any Sense, They Are Uninvited Guests, The Arrangement Of The Ghat At Their Own Expense…

नई दिल्ली2 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
दावा- घाट की सफाई समिति ने कराई - Dainik Bhaskar

दावा- घाट की सफाई समिति ने कराई

सरकार के नाकामयाबी के कारण गंदा नाला बन प्रदूषित हो चुकी यमुना नदी के तट पर कृत्रिम तालाब बना उसमें जल बोर्ड के पानी से गंगा वाटर भर छठ पूजा करने वाले श्रद्धालु छठ घाटों पर राजनीतिक पार्टियों के द्वारा अंतिम समय में राजनीतिक अखाड़ा बनाने से परेशान है। यमुना तट हाथी वाला घाट पर छठ पूजा समिति दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष शिवा राम पांडे ने बताया कि उन्हें आप, भाजपा और कांग्रेस किसी भी राजनैतिक पार्टियों से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंनें बताया कि छठ समिति अपने खर्च पर यहां पर सफाई, पानी सभी व्यवस्था पुरा कर लिया था। अब चार दिन से यहां पर भाजपा के आदेश गुप्ता, मनोज तिवारी, कौशल मिश्रा, आम आदमी पार्टी के कैलाश गहलौत और संजीव झा यहां पर आए हैं।

उन्होंने बताया कि पूर्वांचल के दिल्ली में 50 लाख वोटर है, इसलिए नेता वोट के खेती के लिए यहां पर बिन बुलाए वक्त बेवक्त पहुंच जाते है अंतिम समय में नाम मात्र सहयोग कर श्रेय लेने का होड़ में रहते हैं। वहीं आप विधायक संजीब झा उपराज्यपाल पर आरोप लगाया कि उन्होंने अंतिम समय 21 अक्टूबर को यमुना पर छठ पूजा की मंजूरी दी, जिससे व्रतधारियों काे परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने छठ पर्व पर ड्राईडे का आदेश दिया है। इसके साथ सीएम केजरीवाल को पत्र लिखकर एनजीटी के गाइड लाइन के तहत छठ पूजा करवाने को कहा है।

राजस्व मंत्री ने हाथी घाट का किया दौरा, बोले 1100 घाटों पर होगा भव्य आयोजन

दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने आज छठ पूजा की तैयारियों का जायजा लेने के लिए आईटीओ के पास यमुना नदी के किनारे स्थित हांथी घाट का दौरा किया। इस दौरान जिलाधिकारी समेत विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। दौरे के दौरान बुराड़ी से विधायक संजीव झा मंत्री के साथ थे। इस दौरान राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने घाट पर श्रद्धालुओं और स्थानीय लोगों से बातचीत भी की।

मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, “कोरोना के कारण पिछले 2 वर्षों से हम छठ पूजा अच्छे तरीके से नहीं मना सके थे लेकिन इस वर्ष दिल्ली सरकार 1100 अलग अलग घाटों पर छठ पूजा का भव्य आयोजन कर रही है। छठी मैया के आशीर्वाद से सभी घाटों पर अच्छे इंतजाम किए जा रहे हैं।

विधायकों, समितियों और अधिकारियों के साथ मैंने इस सिलसिले में कई मीटिंग्स की है। आज घाट का निरीक्षण कर इंतज़ामात का जायज़ा लिया और अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि किसी भी श्रद्धालु को किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो।

आठ साल में यमुना के सफाई के लिए टेंडर तक नहीं निकाल पाए केजरीवाल

यमुना में उठे झागों को खत्म करने के लिए केमिकल छिड़काव किया जा रहा है...

यमुना में उठे झागों को खत्म करने के लिए केमिकल छिड़काव किया जा रहा है…

आदेश गुप्ता ने कहा कि जब भाजपा ने यमुना सफाई के मुद्दे को उठाया तो केजरीवाल तिलमिला गए और उन्होंने कहा कि सफाई का मुद्दा एमसीडी से संबंधित नहीं है। केजरीवाल को याद दिलाते हुए गुप्ता ने कहा कि यमुना सफाई का मुद्दा भले एमसीडी से संबंधित ना हो लेकिन यह दो करोड़ दिल्ली वासियों से संबंधित है और भाजपा उन दो करोड़ दिल्ली वासियों के लिए हमेशा आवाज उठाती रहेगी।

उन्होंने कहा कि पिछले आठ सालों के कार्यकाल में 8 बार मां यमुना की सफाई को लेकर केजरीवाल वायदें भी किये और डुबकी लगाने की बात भी कही। लेकिन हर बार उनका वायदा खोखला साबित हुआ है। प्रेस वार्ता में प्रदेश महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह, प्रदेश मीडिया रिलेशन विभाग के प्रभारी हरीश खुराना उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here