सभी विधायक-मंत्री बुलाए गए; मॉक सेशन की तैयारी; CM ने कैबिनेट बैठक भी बुलाई | punjab cabinet meeting and mock session in assembly in chandigarh, bhagwant mann

0
4

चंडीगढ़3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पंजाब के गवर्नर द्वारा विधानसभा के स्पेशल सेशन की मंजूरी वापस लिए जाने से खफा AAP सुबह 9 बजे विधानसभा में एकजुट होगी। इस दौरान AAP के सभी मंत्री और विधायक आगामी रणनीति पर चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि इस दौरान AAP मॉक टेस्ट भी कर सकती है। फिलहाल सभी विधायक और मंत्री मामले से संबंधित कानूनी पहलुओं पर मंथन में जुटे हैं।

कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा ने कहा कि राज्यपाल ने यह फैसला केवल 3 विधायकों के कहने पर लिया है, जबकि स्पेशल सेशन पूरी कैबिनेट द्वारा बुलाया गया था। नियमावली के किस सेक्शन में सरकार को ऐसा करने से रोका गया है? भगवंत मान ने AG ऑफिस से कानूनी राय ली है और अब सरकार जल्द ही कोई कदम उठाएगी। भाजपा पंजाब सरकार गिराने के लिए विधायक खरीदने में लगी है।

जब मध्य प्रदेश की सरकार गिराई थी, तब राजस्थान सरकार ने भी अपना बचाव करने के लिए विधानसभा में विश्वास मत पेश किया था। कांग्रेस के जो नेता AAP को सेशन नहीं बुलाने का ज्ञान दे रहे हैं, वे यह बताएं कि मध्य प्रदेश में अशोक गहलोत ने किस सेक्शन के तहत प्रस्ताव पेश किया था। अरोड़ा ने विपक्षी नेता प्रताप सिंह बाजवा पर जेड सुरक्षा लेने के लिए अमित शाह के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया है। वहीं पार्टी की चीफ व्हिप बलजिंदर कौर पंजाब विधानसभा कमेटी रूम में सुबह 9 बजे पहुंचने के लिए सभी विधायकों को लेटर जारी कर चुकी है।

CM भगवंत मान ने बलाई कैबिनेट मीटिंग

पंजाब की राजनीति में AAP के विधानसभा का स्पेशल सेशन रद्द होने का मामला पूरी तरह गर्मा चुका है। इसके संबंध में CM भगवंत मान ने कैबिनेट मीटिंग भी बुलाई है। इसमें AAP के मंत्री आगामी रणनीति पर चर्चा कर एक्शन प्लान तैयार करेंगे। AAP द्वारा भाजपा के फैसले पर पलटवार करने पर चर्चा की जाएगी।

गवर्नर के फैसला वापस लेने संबंधी आदेश

पंजाब के गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित ने अपने आदेश में स्पष्ट किया है कि केवल विश्वास प्रस्ताव को साबित करने के लिए स्पेशल सेशन बुलाने का कोई कानूनी प्रावधान नहीं है। बता दें कि कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष प्रताप सिंह बाजवा, विधायक सुखपाल सिंह खैहरा और विधायक एवं पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने सेशन बुलाने पर सवाल उठाए थे।

भाजपा पर ऑपरेशन लोटस का आरोप लगाया था

ब के CM भगवंत मान ने वीडियो जारी कर कहा था- लोगों का भरोसा कितना मजबूत है, यह कानूनी रूप से दिखाने के लिए 22 सितंबर को पंजाब विधानसभा का स्पेशल सेशन बुलाने का फैसला लिया गया। बीते दिनों लोगों ने देखा कि लोटस ऑपरेशन के तहत किस प्रकार भाजपा के लोगों ने AAP के विधायकों से संपर्क कर उन्हें पैसे और अन्य प्रकार के लालच दिए।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here