वहां दूसरा कैदी नहीं, पुलिस की मौजूदगी में दिया जाएगा खाना, 24 घंटे निगरानी | Shraddha murder case: Delhi Court sends Aaftab to judicial custody after interrogation

0
9

  • Hindi News
  • National
  • Shraddha Murder Case: Delhi Court Sends Aaftab To Judicial Custody After Interrogation

नई दिल्लीएक घंटा पहले

आफताब को जेल नंबर 4 में रखा गया है। पहली बार क्राइम करने वाले आरोपी को यहीं रखा जाता है। फाइल वीडियो

श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को दिल्ली कोर्ट ने शनिवार को 13 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी में तिहाड़ जेल भेज दिया। आफताब को तिहाड़ की जेल नंबर 4 में रखा गया है, जहां आमतौर पर पहली बार अपराध करने वालों को रखा जाता है।

आफताब को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था। वो अब तक 10 दिन की पुलिस कस्टडी में रहा है। इस दौरान उससे पूछताछ की गई, उसका पॉलीग्राफ टेस्ट हुआ। पॉलीग्राफ टेस्ट की प्रक्रिया पूरी होने के बाद उसका नार्को टेस्ट भी किया जाएगा, जिसकी मंजूरी कोर्ट पहले ही दे चुकी है।

जेल के बाहर 24 घंटे तैनात रहेगा गार्ड
जेल सूत्रों के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि आफताब जेल नंबर 4 में अकेला ही रहेगा। सूत्र ने कहा कि अलग सेल में एक ही कैदी रहेगा और वो जल्द इस सेल से नहीं हटाया जाएगा। आफताब को खाना पुलिस की मौजूदगी में ही दिया जाएगा। उसकी सेल के बाहर 24 घंटे एक गार्ड तैनात रहेगा। यहां 8 CCTV कैमरे लगे हैं। इन कैमरों से आरोपी की 24 घंटे निगरानी होगी।

श्रद्धा मर्डर केस के लेटेस्ट अपडेट्स…

  • श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब के फ्लैट आने वाली लड़की से दिल्ली पुलिस ने पूछताछ की है। पुलिस जानने की कोशिश कर रही है कि क्या लड़की को श्रद्धा के बारे में कुछ पता था या नहीं।
  • श्रद्धा के मर्डर के बाद आरोपी आफताब ने एक डॉक्टर को डेट किया था, जो साइकोलॉजिस्ट है। वह डेटिंग ऐप बम्बल के जरिए उससे मिला और उसे तब अपने घर बुलाया था, जब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज में ही रखे थे।
  • महरौली जंगल में मिले बॉडी पार्ट्स को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। DNA टेस्ट के लिए श्रद्धा के पिता और भाई के ब्लड सैंपल लिए गए। इसी टेस्ट से पता चलेगा कि बॉडी श्रद्धा की है या नहीं। फिलहाल, पुलिस को DNA रिपोर्ट का इंतजार है।
यह सोमवार की तस्वीर है। महरौली थाने से आरोपी आफताब को महरौली के जंगल ले जाया गया था।

यह सोमवार की तस्वीर है। महरौली थाने से आरोपी आफताब को महरौली के जंगल ले जाया गया था।

श्रद्धा मर्डर केस में 4 बड़े अपडेट्स….

1. आफताब ने पॉलीग्राफ टेस्ट की पहले से रिहर्सल की
हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, आफताब ने पॉलीग्राफ टेस्‍ट की पहले से रिहर्सल की थी। एक अधिकारी ने कहा कि ऐसा लग रहा है, जैसे आफताब को पहले से पता था कि किस तरह के सवाल पूछे जाएंगे। वह कुछ सवालों का बड़ी बेबाकी से जवाब दे रहा है, लेकिन मर्डर से जुड़े सवालों में चुप्पी साध लेता है या फिर झूठ बोलने लग जाता है।

2. कोर्ट ने थर्ड डिग्री के बारे में पूछा, आफताब बोला-मैं ठीक हूं
आफताब को अंबेडकर अस्पताल ले जाया गया। यहीं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उसकी कोर्ट में पेशी हुई। कोर्ट ने उससे पुलिस की थर्ड डिग्री के बारे में पूछा तो आफताब ने कहा कि मैं ठीक हूं। उसने कहा कि दिल्ली पुलिस अच्छे से बर्ताव कर रही है। मैं भी जांच में सहयोग कर रहा हूं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आफताब ने कोर्ट को बताया कि श्रद्धा उसे हमेशा उकसाती रहती थी। उस दिन भी जो हुआ, वह गुस्से में हुआ।

फॉरेंसिक जांच में पता चला है कि जंगल से मिली हड्डियां श्रद्धा की ही हैं। उनका DNA श्रद्धा के पिता से मैच हो गया है।

फॉरेंसिक जांच में पता चला है कि जंगल से मिली हड्डियां श्रद्धा की ही हैं। उनका DNA श्रद्धा के पिता से मैच हो गया है।

3. जंगल से मिली हड्डियां श्रद्धा की ही
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फॉरेंसिक जांच में पता चला है कि जंगल से मिली हड्डियां श्रद्धा की ही हैं। उनका DNA श्रद्धा के पिता से मैच हो गया है। अब पुलिस को रिपोर्ट्स का इंतजार है। स्पेशल CP (लॉ एंड ऑर्डर) सागर प्रीत हुड्डा ने कहा कि अभी तक DNA टेस्ट रिपोर्ट (पीड़ित के पार्ट्स की) नहीं मिली है।

4. आफताब का परिवार भी हत्या में शामिल
श्रद्धा के पिता विकास वॉल्कर ने CBI जांच की मांग की है। एक न्यूज चैनल के साथ इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा- आफताब अभी भी पुलिस को गुमराह कर रहा है और इस मामले की CBI जांच होनी चाहिए।

साथ ही उन्होंने कहा कि आफताब का परिवार भी इसमें शामिल है। आफताब के माता-पिता उसकी हरकतों के बारे में जानते थे। वो जानते थे कि आफताब श्रद्धा के साथ मारपीट करता है। उन्हें मुझे इस बात की जानकारी देनी चाहिए थी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। उन्होंने दावे के साथ कहा कि आफताब का परिवार भी इस हत्या में शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट्स में श्रद्धा के इस लेटर की तस्वीरें दिखाई जा रही हैं। इसमें श्रद्धा ने पुलिस से कहा है- आज आफताब ने मुझे जाने से मारने की कोशिश की।

मीडिया रिपोर्ट्स में श्रद्धा के इस लेटर की तस्वीरें दिखाई जा रही हैं। इसमें श्रद्धा ने पुलिस से कहा है- आज आफताब ने मुझे जाने से मारने की कोशिश की।

8 मई को हुआ था श्रद्धा का मर्डर
दिल्ली पुलिस के मुताबिक, 28 साल के आफताब ने 18 मई को 27 साल की श्रद्धा का मर्डर कर दिया था। दोनों लिव-इन में रहते थे। आफताब ने श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किए थे। इन्हें रखने के लिए 300 लीटर का फ्रिज खरीदा था। वह 18 दिन तक रोज रात 2 बजे जंगल में शव के टुकड़े फेंकने जाता था।

23 नवंबर 2020 को श्रद्धा ने एक शिकायत पत्र लिखकर मुंबई पुलिस को बताया था कि आफताब उसकी हत्या कर सकता है। आफताब की गिरफ्तारी के बाद यह पत्र मीडिया में सामने आया था। इसके बाद मुंबई पुलिस ने कहा था कि

फोटो आफताब के इंस्टाग्राम पेज से ली गई है। आफताब के इंस्टाग्राम पर 28 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

फोटो आफताब के इंस्टाग्राम पेज से ली गई है। आफताब के इंस्टाग्राम पर 28 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

श्रद्धा मर्डर केस से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

1. आफताब ने कत्ल से पहले दृश्यम देखी थी, पार्ट-2 का इंतजार कर रहा था

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आफताब ने माना है कि उसने श्रद्धा के कत्ल से पहले बॉलीवुड फिल्म दृश्यम देखी थी, उसे पार्ट-2 का भी इंतजार था। FSL सूत्रों के मुताबिक, दृश्यम देखकर ही वो मर्डर के बाद एक कहानी गढ़ने की फिराक में था। पूरी खबर पढ़ें …

2. पीटने के 5 दिन बाद श्रद्धा को अस्पताल लाया आफताब, डॉक्टर बोले- चल भी नहीं पा रही थी

मुंबई के ओजोन अस्पताल के डॉ. शिवप्रसाद शिंदे ने मीडिया को बताया है कि 3 दिसंबर 2020 को श्रद्धा उनके पास इलाज कराने आई थी। उसके शरीर पर जो चोटें थीं, वो फिजिकल वॉयलेंस के चलते ही आती हैं, लेकिन उसने कुछ भी खुलकर नहीं बताया। पूरी खबर पढ़ें .

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here