राष्ट्रीय लोक अदालत में 23 हजार से अधिक केसों का आपसी सहमति से किया गया निपटारा | More than 23 thousand cases were settled by mutual consent in National Lok Adalat

0
5

फरीदाबाद5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
केसों की सुनवाई के लिए लगाई गई थी 14 बेंच। केसों की सुनवाई करती बेंच। - Dainik Bhaskar

केसों की सुनवाई के लिए लगाई गई थी 14 बेंच। केसों की सुनवाई करती बेंच।

सेक्टर 12 स्थित जिला अदालत में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। सत्र न्यायाधीश एवं चेयरमैन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण वाई एस राठौर की अध्यक्षता में केसों की सुनवाई के लिए 14 बेंच का गठन किया गया था। दोपहर तीन बजे तक चली सुनवाई के दौरान सभी बेंच से करीब साढ़े 23 हजार केसों का आपसी सहमति से निपटारा कर दिया गया।

सीजेएम एवं प्राधिकरण की सचिव सुकीर्ति ने बताया कि इस लोक अदालत में जिनमें 59348 केस रखे गए। जिनमें से कुल 23500 केसों का निपटारा आपसी सहमति से किया गया। जिनमें मोटर व्हीकल दुर्घटना के 80, छोटे-मोटे अपराधिक मामले के 2745, चेक बाउंस के 835, बिजली से संबंधित 1023, समरी चालान 15000, श्रमिक विवाद 03 केस, 200 वैवाहिक संबंधित, दीवानी 553, बैंक रिकवरी 921, रेवेन्यू के 2140 का निपटारा आपसी सहमति से किया गया। गोयल ने बताया कि लोक अदालत में केस का फैसला होने के बाद सुप्रीम कोर्ट तक कोई अपील नहीं होती है।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here