यमुना में नहीं बहेगा दूषित पानी, दिल्ली सरकार कोंडली एसटीपी को अपग्रेड करेगी | Contaminated water will not flow in Yamuna, Delhi government will upgrade Kondli STP

0
7

नई दिल्लीएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक
शुक्रवार को दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कोंडली स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) और ‘गाद उपचार संयंत्र’ का औचक निरीक्षण किया।  - Dainik Bhaskar

शुक्रवार को दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कोंडली स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) और ‘गाद उपचार संयंत्र’ का औचक निरीक्षण किया। 

दिल्ली सरकार कोंडली स्थित 45 एमडीजी क्षमता वाले एसटीपी को करेगी अपग्रेड, सीवेज बेहतर तरीके से शोधित होगी। शुक्रवार को दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कोंडली स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) और ‘गाद उपचार संयंत्र’ का औचक निरीक्षण किया।

इस दौरान डिप्टी सीएम ने दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों को 45 एमडीजी क्षमता वाले एसटीपी को आधुनिक तकनीक से अपग्रेड कर सीवेज के पानी को बेहतर तरीके से शोधित करने के निर्देश दिए, ताकि गंदे पानी के बायोलॉजिकल ऑक्सीडेशन डिमांड (बीओडी) स्तर को शोधित कर 10 तक लाया जाए। डिप्टी सीएम ने इस कार्य को समय सीमा के अंदर काम पूरा करने के लिए कहा है। जिससे दूषित जल को पूरी तरह से साफ किए जाने के बाद ही यमुना में पानी को छोड़ा जाए।

कोताही बरतने पर नपेंगे अधिकारी – सिसोदिया

कोंडली एसटीपी के औचक निरीक्षण के दौरान सिसोदिया ने पाया कि कुछ समय से सीवेज का ट्रीटमेंट मानकों के अनुसार नहीं हो रहा है। इस पर सिसोदिया ने अधिकारियों को फटकार लगाई और निर्देश दिए की जल्द से जल्द इस समस्या को दूर किया जाये और 1 सप्ताह में इसका प्लान ऑफ एक्शन सौंपे।

उन्होंने इस मामले में तुरंत एक्शन लेते हुए जिम्मेदार कंपनी पर पेनाल्टी लगाने के आदेश भी दिए और सख्त शब्दों में हिदायत दी कि यमुना की सफाई मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल जी की प्राथमिकता है ऐसे में इसको लेकर कोई भी कोताही नहीं बरती जाएगी।

और ऐसा करने वालो के खिलाफ सख्त से सख्त कारवाई की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अब प्रतिदिन दिन में 2 बार अधिकारी सभी मानकों का परीक्षण करेंगे और अपने उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट करेंगे।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here