मेक्सिको के बार में हुई गोलीबारी में 9 की मौत और 2 घायल, दो गिरोहों के बीच गैंगवार की आशंका

0
5

मेक्सिको सिटी: सेंट्रल मेक्सिकन स्टेट गुआनाजुआतो के एक बार में हुई गोलीबारी में 9 लोगों की मौत हो गई और 2 घायल हो गए. स्थानीय अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. रॉयटर्स ने अधिकारियों के हवाले से बताया है कि एक सशस्त्र समूह बुधवार रात 9 बजे (स्थानीय समयानुसार) सेलेया के बाहर अपासियो एल आल्टो शहर में बार में पहुंचा और वहां मौजूद लोगों पर गोलियां चला दीं. गुआनाजुआतो स्टेट पुलिस ने एक बयान में बताया कि गोलीबारी में 5 पुरुष और 4 महिलाएं मारी गईं और 2 अन्य महिलाएं घायल हो गईं. घायलों की हालत स्थिर है.

हमलावरों की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है, अधिकारियों ने कहा कि राज्य और संघीय अधिकारियों की इकाइयों के साथ-साथ नेशनल गार्ड को भी क्षेत्र में भेजा गया है. दो पोस्टर ‘एक आपराधिक समूह की ओर इशारा करते हुए’ घटनास्थल पर छोड़े गए थे. मेक्सिको में, कार्टेल अक्सर अन्य समूहों या अधिकारियों के लिए हत्याओं के बाद संदेश छोड़ते हैं. मेक्सिको का औद्योगिक केंद्र गुआनाजुआतो, हाल के वर्षों में कार्टेल के बीच टर्फ वार से बुरी तरह प्रभावित रहा है. पिछले महीने, इरापुआटो शहर में एक बार में हुई गोलीबारी में 12 लोगों की मौत हो गई थी. इसी शहर के पास बीते सितंबर में हुई एक गोलीबारी की घटना में 10 लोगों की मौत हो गई थी.

एबीसी न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘गुआनाजुआतो में गत महीनों में यह कम से कम गोलीबारी की यह तीसरी घटना है, जहां एक स्थानीय गिरोह जलिस्को कार्टेल के साथ युद्ध लड़ रहा है. इन सभी हमलों में आम बात यह रही है कि हमलावरों ने बार में वेट्रेस सहित सभी को मारने की कोशिश की है. अपासियो एल आल्टो कस्बे में बुधवार रात हुए हमले में हमलावरों ने बार के खून से लथपथ फर्श पर हाथ से लिखे पोस्टर छोड़े थे. संदेशों पर सांता रोजा डी लीमा गिरोह के हस्ताक्षर थे, जिसका लीडर ‘मैरो’ या स्लेजहैमर के नाम से जाना जाता है और फिलहाल जेल में बंद है. संदेश बार के मालिकों पर प्रतिद्वंद्वी जलिस्को कार्टेल का समर्थन करने का आरोप लगाते हुए दिखाई दिए.’

गुआनाजुआतो स्थित सुरक्षा विश्लेषक डेविड सॉसेडो ने एबीसी न्यूज को बताया, ‘ये हमले कुछ चिन्हित बार को टारगेट करते हुए किए गए हैं, जिनके मालिकों ने प्रोटेक्शन मनी देने से इनकार कर दिया था या प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के ड्रग्स को बेच रहे थे. कुछ हमले ड्रग डीलरों, लुकआउट्स या कार्टेल सदस्यों को मारने के लिए किए गए हैं, जो बार में रात बिता रहे थे. लेकिन यह नरसंहार की तरह है, क्योंकि वे वेट्रेस और ग्राहकों को भी मार देते हैं. ऐसे संकेत हैं कि मेक्सिको के सबसे हिंसक राज्य गुआनाजुआतो में संघर्ष अब 2 सबसे शक्तिशाली ड्रग कार्टेल के बीच एक छद्म लड़ाई बन गया है. सिनालोआ कार्टेल अब जलिस्को के खिलाफ अपनी लड़ाई में सांता रोजा डी लीमा गिरोह का समर्थन करता हुआ प्रतीत होता है.’

Tags: Mexico, Mexico crime, Shooting

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here