मनी लॉन्ड्रिंग केस में CBI कोर्ट ने नहीं दी जमानत, याचिका खारिज | Special CBI court denied bail in money laundering case

0
3

एक घंटा पहले

आम आदमी पार्टी के नेता सत्येंद्र जैन को CBI कोर्ट फिर झटका लगा है। गुरुवार को कोर्ट ने सत्येंद्र जैन और दो अन्य को मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में जमानत देने से इनकार कर दिया। इसके एक दिन पहले दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट के विशेष जज विकास ढुल ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। कोर्ट ने मेन केस में सुनवाई के लिए अगली तारीख 29 नवंबर तय की है।

तिहाड़ जेल में बंद हैं सत्येंद्र जैन
प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सत्येंद्र जैन को 30 मई को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग केस (PMLA) मामले में गिरफ्तार किया था। इसके बाद से सत्येंद्र जैन तिहाड़ जेल में बंद हैं। ED के अनुसार, सत्येंद्र जैन मनी लॉन्ड्रिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली 4 शेल कंपनियों के वास्तविक नियंत्रण में थे, और सह-आरोपी अंकुश जैन और वैभव जैन सिर्फ डमी थे।

दूसरी ओर, सत्येंद्र जैन के वकील ने तर्क दिया कि उनकी भूमिका PMLA के दायरे में नहीं आती है। जैन से संबंधित जांच पूरी हो चुकी है और आरोप पत्र दायर किया जा चुका है। जैन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का कोई मामला नहीं बनता है। वकील ने कहा कि यह आरोप लगाया गया है कि 2010 में मनी लॉन्ड्रिंग की साजिश रची गई थी। उस समय न तो जैन विधायक थे और न ही मंत्री। ऐसे में वह मनी लॉन्ड्रिंग की साजिश कैसे रच सकते हैं?

जैन ने अदालत से उन्हें जमानत देने का अनुरोध करते हुए कहा था कि उन्हें और हिरासत में रखने से कोई उद्देश्य पूरा नहीं होगा। इससे पहले सीबीआई ने सत्येंद्र जैन, उनकी पत्नी और अन्य पर भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत आरोप लगाया था।

2.85 करोड़ नकद, 133 सोने के सिक्के मिले थे
31 मार्च को ईडी ने अस्थायी रूप से मंत्री के स्वामित्व वाली और नियंत्रित कंपनियों से संबंधित 4.81 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी सीज कर दी थी। 6 जून को, जांच एजेंसी ने सत्येंद्र जैन, उनकी पत्नी और सहयोगियों से संबंधित कई स्थानों पर छापे मारे। इन्होंने या तो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उनकी सहायता की थी या मनी लॉन्ड्रिंग की प्रक्रियाओं में भाग लिया था। छापे के दौरान 2.85 करोड़ रुपए नकद और 1.80 किलोग्राम वजन के 133 सोने के सिक्के बरामद किए गए।

याददाश्त चले जाने का दावा किया था
जैन पर आरोप हैं कि उन्होंने दिल्ली में कई शेल कंपनियों को लॉन्च किया या खरीदा था। उन्होंने कोलकाता के तीन हवाला ऑपरेटरों की शेल कंपनियों के माध्यम से 16.39 करोड़ रुपए का काला धन भी सफेद किया था। जैन के पास प्रयास, इंडो और अकिंचन नाम की कंपनियों के शेयर बड़ी संख्या में थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 2015 में केजरीवाल सरकार में मंत्री बनने के बाद जैन के सभी शेयर उनकी पत्नी के नाम कर दिए गए थे। गिरफ्तारी के बाद जब ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग के कागजात दिखाकर जैन से सवाल पूछे तो उन्होंने कोरोना के कारण याददाश्त चले जाने का दावा कर दिया था।

तिहाड़ और सत्येन्द्र जैन से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

तिहाड़ जेल के सुपरिन्टेंडेंट सस्पेंड,केजरीवाल के मंत्री सत्येंद्र जैन को VIP ट्रीटमेंट देने का आरोप

तिहाड़ जेल के बैरक नंबर 7 के सुपरिन्टेंडेंट अजीत कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। कुमार पर आम आदमी पार्टी सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन को VIP ट्रीटमेंट देने और जेल में बंद ठग सुकेश चंद्रशेखर को धमकी देने के आरोप में कुमार पर यह कार्रवाई की गई है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

तिहाड़ में ऐश की जिंदगी जी रहे सत्येंद्र जैन, ED ने कोर्ट में दायर किया हलफनामा

दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन तिहाड़ जेल में मजे की जिंदगी जी रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ED ने कोर्ट में एक हलफनामा और कुछ तस्वीरें देकर इसकी शिकायत की है। ED ने कहा कि सत्येंद्र जैन को तिहाड़ जेल में कई तरह की सुविधाएं मिल रही हैं। जेल के CCTV फुटेज में उन्हें बैक और फुट मसाज कराते देखा गया है। पूरी खबर पढ़ें…

ठग सुकेश का दावा-AAP को 50 करोड़ दिए, मंत्री सत्येंद्र जैन ने वसूली 10 करोड़ प्रोटेक्शन मनी

जेल में बंद ठग सुकेश चंद्रशेखर ने दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर वीके सक्सेना को चिट्ठी लिख आम आदमी पार्टी सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन को लेकर बड़ा दावा किया है। सुकेश ने कहा कि जेल में सुरक्षा और सहूलियत के नाम पर जैन ने 10 करोड़ रुपए वसूले थे। ये रकम उनके एक करीबी के जरिए ली गई थी। सुकेश ने दावा किया कि उसने AAP को भी 50 करोड़ रुपए दिए थे और बदले में पार्टी ने दक्षिण भारत में जिम्मेदारी सौंपने का वादा किया था। पढ़ें पूरी खबर…

जेल से सुकेश का आरोप- केजरीवाल महाठग:कहा- राज्यसभा सीट के बदले मुझसे 50 करोड़ लिए

मनी लॉन्ड्रिंग केस में दिल्ली की मंडोली जेल में बंद ठग सुकेश चंद्रशेखर ने मीडिया के नाम एक चिट्ठी लिखी है। इसमें उसने अरविंद केजरीवाल पर गंभीर आरोप लगाए हैं। 3 पन्नों की चिट्ठी में सुकेश ने लिखा है- मैं अगर ठग हूं तो केजरीवाल महाठग हैं। उन्होंने राज्यसभा सीट के बदले मुझसे 50 करोड़ रुपए मांगे थे, जो मैंने दिए। पढ़ें पूरी खबर…

दिल्ली की रोहिणी जेल के 82 अफसरों पर हुई थी FIR, ठग सुकेश से हर महीने 1.5 करोड़ रिश्वत लेते थे

दिल्ली की रोहिणी जेल में बंद रहते समय सुकेश अलग बैरक और मोबाइल फोन इस्तेमाल करने के लिए अफसरों को हर महीने 1.5 करोड़ रुपए की रिश्वत देता था। इस मामले में आर्थिक अपराध शाखा (EWO) ने जेल के 82 अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ FIR दर्ज की है। पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here