दिल्ली, जींद, अंबाला कैंट से जाएंगी नौ स्पेशल ट्रेने, 28 ट्रेनें रूकेगी 2 से 5 मिनट, 500000 लाख पहुंचेगा श्रद्धालु | Historical Solar Eclipse Fair of Kurukshetra; Nine special trains will leave from Delhi, Jind, Ambala Cantt

0
24

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Historical Solar Eclipse Fair Of Kurukshetra; Nine Special Trains Will Leave From Delhi, Jind, Ambala Cantt

चंडीगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र के ऐतिहासिके मेले के लिए 9 स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया गया है। यह ट्रेनें दिल्ली, जींद और अंबाला कैंट से संचालित की जाएंगी। इसके अलावा 28 ट्रेनों की कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन पर 2 से 5 मिनट तक रूकने की व्यवस्था की गई है। इस बार इस ऐतिहासिक मेले में देश के अन्य राज्यों से 500000 श्रद्धालु पहुंचने की संभावना जताई जा रही है।

जींद से कुरुक्षेत्र चलेंगी 2 ट्रेनें

हरियाणा के जींद जिले से कुरुक्षेत्र के सूर्यग्रहण मेले के लिए दो स्पेशल ट्रेनें संचालित की गई हैं। पहली ट्रेन दोपहर 2.20 मिनट पर रवाना होगी। दूसरी दोपहर 3.00 बजे जींद से चलेगी। इन ट्रेनों की कुरुक्षेत्र से वापसी शाम 5.00 बजे और शाम 6.50 पर होगी। इसके अलावा पानीपत से भी एक ट्रेन दोपहर 1.25 मिनट पर चलेगी।

अंबाला-दिल्ली से ट्रेनों का शेड्यूल

अंबाला कैंट और दिल्ली से भी कुरुक्षेत्र जंकशन के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी। अंबाला कैंट से दोपहर 1.50 बजे ट्रेन प्रस्थान करेगी। इसके अलावा 5.45 बजे भी एक ट्रेन संचालित होगी। कुरुक्षेत्र से दिल्ली के लिए शाम 7.25 बजे एक ट्रेन चलेगी जो दिल्ली 11.50 पर पहुंच जाएगी।

28 ट्रेनें कुरुक्षेत्र रूकेंगी 2 से 5 मिनट

सूर्य ग्रहण मेले में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कुरुक्षेत्र में 28 ट्रेनों के रूकने का समय 2 से 5 मिनट किया गया है। इसमें ऊना हिमाचल प्रदेश से चलने वाली सुपर फास्ट वंदे भारत ट्रेन भी शामिल हैं। ये ट्रेनें कुरुक्षेत्र जंक्शन पर दो से पांच मिनट तक रूकेंगी।

6500 पुलिसकर्मियों की तैनाती

श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए 6500 पुलिसकर्मियों को तैनात करने के निर्देश दिए जारी किए गए हैं। सुरक्षा में चूक न हो, इसके लिए पूरे मेला परिसर को 20 जोन में बांटा गया है। CM मनोहर ने CS संजीव कौशल को मेले में चाक चौबंद व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

मेले के लिए दौड़ रहीं स्पेशल बसें

कुरुक्षेत्र में सूर्यग्रहण मेले के लिए स्पेशल बसें चलाई जाएंगी, ताकि श्रद्धालुओं को मेले तक पहुंचने में किसी असुविधा का सामना न करना पड़े। मेले के सफलतापूर्ण आयोजन के लिए डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन, KDB और टूरिज्म डिपार्टमेंट को जिम्मेदारी दी गई है।कुरुक्षेत्र में लगने वाले सूर्यग्रहण मेले में हर साल लाखों लोग डुबकी लगाने आते हैं।कुरुक्षेत्र में लगने वाले सूर्यग्रहण मेले में हर साल लाखों लोग डुबकी लगाने आते हैं।

अपडेट किया गया पब्लिक एड्रेस सिस्टम

मेले में पब्लिक एड्रेस सिस्टम को अपडेट किया गया है। इससे कोई भी व्यक्ति मोबाइल ऐप के जरिए बड़ी आसानी से मेले से संबंधित सूचनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकेगा। चिकित्सा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए मेला ग्राउंड में एंबुलेंस की व्यवस्था, स्ट्रेचर्स, डॉक्टरों की टीमों को लगाने के लिए कहा गया है। अग्निशमन गाड़ियों की भी व्यवस्था होगी।

ब्रह्मसरोवर में मौजूद रहेंगे गोताखोर

ब्रहम्सरोवर पर नावों, गोताखोरों एवं तैराकों को लगाया जाना सुनिश्चित किया जाएगा, ताकि किसी भी आपातकालीन स्थिति में तुरंत सभी सुविधाएं उपलब्ध हो सकें। श्रद्धालुओं के रहने, पीने के पानी, शौचालय, पार्किंग, आदि सुविधाओं की भी उचित व्यवस्था की जाएगी। मेला क्षेत्र में बिजली और टेलिफोन की भी व्यवस्था की जाएगी।सूर्यग्रहण मेले में लोगों की आस्था को देखते हुए सरकार द्वारा विशेष इंतजाम कराए जाते हैं।सूर्यग्रहण मेले में लोगों की आस्था को देखते हुए सरकार द्वारा विशेष इंतजाम कराए जाते हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here