दक्षिण कोरिया का दावा, कहा- जबरन घुसे रूसी लड़ाकू विमानों को खदेड़ दिया

0
12

हाइलाइट्स

दक्षिण कोरिया ने कहा- जबरन घुस आए रूसी विमानों को खदेड़ा
अधिक विवरण से बचते हुए दक्षिण कोरिया ने किया दावा
ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने जारी किया बयान

सियोल . दक्षिण कोरिया (South Korea) ने मंगलवार को कहा कि रूसी लड़ाकू विमान अघोषित रूप से उसके हवाई बफर क्षेत्र में प्रवेश कर गये, जिसके जवाब में उसने अनिर्दिष्ट सामरिक (टैक्टिकल) कार्रवाई की. ‘टैक्टिकल कार्रवाई’ वाक्यांश का इस्तेमाल आमतौर पर अनधिकृत विदेशी विमानों को खदेड़ने के लिए लड़ाकू विमान भेजने के लिया किया जाता है. दक्षिण कोरिया के ‘ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ’ ने एक बयान में कहा कि इस कदम का उद्देश्य उसके वायु रक्षा पहचान क्षेत्र में आकस्मिक संघर्ष को रोकना था, लेकिन उन्होंने इसका अधिक विवरण नहीं दिया.

दक्षिण कोरियाई सेना ने रूसी मीडिया रिपोर्ट की पुष्टि नहीं की कि उसने कोरियाई प्रायद्वीप और जापान के बीच समुद्र के ऊपर उड़ान भरने वाले दो रूसी टीयू -95 बमवर्षकों को खदेड़ने के लिए एफ -16 लड़ाकू विमानों को भेजा. रूसी बम वर्षक विमानों के साथ एक सुखोई एसयू -30 लड़ाकू विमान भी उड़ रहा था. दक्षिण कोरिया और अमेरिका द्वारा उत्तर कोरिया के परमाणु खतरे के जवाब में सालों बाद अपना सबसे बड़ा संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू करने के एक दिन बाद यह घटना हुई.

‘उल्ची फ्रीडम शील्ड अभ्यास’ एक सितंबर से जारी है, जिसमें विमान, युद्धपोत और टैंक समेत हजारों सैनिक शामिल हैं. हाल के वर्षों में रूसी और चीनी युद्धक विमानों ने अक्सर दक्षिण कोरिया के वायु रक्षा पहचान क्षेत्रों में प्रवेश किया है, क्योंकि वे अमेरिका के साथ अपनी तीव्र प्रतिस्पर्धा के बीच ताकत का प्रदर्शन करते हैं.

Tags: Fighter jet, Russia, South korea

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here