डीएम बोले- खुली मिलने पर होगी कार्रवाई, स्कूल में बच्चों की पिटाई पर भी लगे रोक | DM said – action will be taken if open, there should be a ban on beating of children in school

0
102

कन्नौजएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कन्नौज के विकास भवन में डीएम सुभ्रान्त कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में बाल संरक्षण समिति की बैठक आयोजित की गई। यहां उन्होंने बच्चों की सुरक्षा सम्बन्धी नियमों के पालन सख्ती से कराने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि स्कूल-कॉलेजो के आसपास 200 मीटर की दूरी तक पान-मसाला और शराब की दुकानें नहीं खुलनी चाहिए। यदि कोई पान-मसाला या शराब की दुकान खुली पाई जाती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

बच्चों संबंधी मुद्दों पर हो चर्चा

विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी सुभ्रान्त कुमार शुल्ला ने कहा कि जिले में देखभाल एवं संरक्षण प्राप्त करने वाले बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकत्री और स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के द्वारा चिन्हित किया जाए। झुग्गी-झोपड़ियों और रेलवे स्टेशन पर ऐसे बच्चों को चिन्हित करने का खास प्रयास किया जाए।

स्कूलों और समुदायों में पुलिस और स्वयं सेविकों के माध्यम से बाल अधिकारों की रक्षा के लिए जागरुकता कार्यक्रम कराए जाएं। स्कूलों में बनाए गए मिनी मंच, बाल संसद में बाल विवाह पर परिचर्चा, बाल पेटिंग निबंध गोष्ठी द्वारा बाल अधिकार संरक्षण सम्बन्धी विषयों को शामिल किया जाए।

बच्चों की पिटाई पर होगी कार्रवाई

जिलाधिकारी सुभ्रान्त कुमार शुक्ला ने बैठक में कहा कि जिले के सभी सरकारी, गैर सरकारी और निजी विद्यालय यह सुनिश्चित करें कि वह बिना शारीरिक दण्ड व मानसिक उत्पीड़न के बच्चों को शिक्षा न प्रदान करें। उन्होंने कहा कि स्कूलों में आए दिन बच्चों की पिटाई की खबरें प्रकाश में आती हैं।

इस मामले को लेकर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग अत्यधिक गम्भीर है। इसके बावजूद भी यदि किसी विद्यालय में बच्चों की पिटाई की शिकायते मिलतीं हैं तो उनके खिलाफ शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 17 (1) के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बच्चों को मिल रहा है लाभ

विकास भवन सभागार में आयोजित जिला बाल संरक्षण समिति, बाल विवाह-डिस्ट्रिक टास्क फोर्स एवं मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की बैठक के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी इरा आर्य ने आंकड़े प्रस्तुत करते हुए बताया कि कन्नौज में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत 76 बच्चों को लाभान्वित किया जा रहा है। जबकि 5 नए आवेदन जांच के बाद अनुमोदन के लिए समिति के समक्ष प्रस्तुत किए गए हैं।

ये लोग रहे मौजूद

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत कुल 54 बच्चों को लाभान्वित किया जा रहा है। 64 नए आवेदन समिति को सौपें गए हैं। सभी नए आवेदन पर जिलाधिकारी ने स्वीकृति प्रदान कर दी है। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष प्रिया शाक्य, मुख्य विकास अधिकारी आरएन सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविंद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विनोद कुमार मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here