Home Delhi गाजियाबाद में पत्नी संग PNB पहुंचे डिप्टी CM, ट्वीट कर बोले- CBI...

गाजियाबाद में पत्नी संग PNB पहुंचे डिप्टी CM, ट्वीट कर बोले- CBI का स्वागत है | Deputy CM will reach bank with wife in Ghaziabad, tweeted and said – welcome to CBI

0
10

गाजियाबाद8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानी CBI की टीम आज दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का बैंक लॉकर खुलवाने जा रही है। ये लॉकर गाजियाबाद के वसुंधरा सेक्टर-4 स्थित PNB शाखा में है। CBI टीम अभी बैंक पहुंची है।

मनीष सिसोदिया, पत्नी सहित दिल्ली से गाजियाबाद आ चुके हैं। डिप्टी सीएम बनने से पहले मनीष सिसोदिया गाजियाबाद के वसुंधरा में रहते थे। इसलिए यहीं PNB में उनका लॉकर है।

मनीष बोले- लॉकर में कुछ भी नहीं मिलेगा
इससे पहले सोमवार रात मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करके कहा, ”कल CBI हमारा बैंक लॉकर देखने आ रही है। 19 अगस्त को मेरे घर पर 14 घंटे की रेड में कुछ नहीं मिला था। लॉकर में भी कुछ नहीं मिलेगा। CBI का स्वागत है। जांच में मेरा और मेरे परिवार का पूरा सहयोग रहेगा।”

सिसोदिया इससे पहले भी कह चुके हैं कि एक झूठे मामले में उन्हें आरोपी बनाया गया है, ताकि अरविंद केजरीवाल को आगे बढ़ने से रोका जा सके। सिसोदिया का कहना है कि अरविंद केजरीवाल 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकल्प के तौर पर उभरे हैं।

19 अगस्त को भी सीबीआई ने दिल्ली में स्थित मनीष सिसोदिया के आवास पर कई घंटे तक सर्च की थी।

19 अगस्त को भी सीबीआई ने दिल्ली में स्थित मनीष सिसोदिया के आवास पर कई घंटे तक सर्च की थी।

19 अगस्त को भी घर पर हुई थी छापेमारी
दिल्ली के डिप्टी सीएम एवं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया उन 15 लोगों और संस्थाओं में शामिल हैं, जिन्हें दिल्ली आबकारी नीति के क्रियान्वयन में हुई कथित अनियमितताओं के आरोप में CBI ने FIR में शामिल किया है। 19 अगस्त को CBI ने इस सिलसिले में सिसोदिया के आवास समेत 31 स्थानों पर छापेमारी और तलाशी अभियान भी चलाया था।

नई शराब नीति के जरिये गड़बड़ी के हैं आरोप
दिल्ली की नई आबकारी नीति में गड़बड़ी का आरोप है। यह भी आरोप है कि इस नीति के जरिये शराब लाइसेंस धारियों को अनुचित लाभ पहुंचाया गया है। लाइसेंस देने में अनदेखी हुई है। टेंडर के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ रुपए माफ करने का आरोप है। रिश्वत के बदले शराब कारोबारियों को लाभ पहुंचाने और कोरोना के बहाने लाइसेंस फीस माफ करने जैसे भी आरोप हैं। इसी सिलसिले में CBI दिल्ली ने पिछले दिनों एक एफआईआर की है, जिस पर जांच जारी है।

खबरें और भी हैं…

Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: