आफताब हत्या के बाद उसी फ्लैट में दूसरी लड़की लाया था, पिता को लव जिहाद का शक | Shraddha Aftab; Delhi Flat | Ameen Poonawala Delhi Flat Murder Case Investigation Update

0
5

  • Hindi News
  • National
  • Shraddha Aftab; Delhi Flat | Ameen Poonawala Delhi Flat Murder Case Investigation Update

नई दिल्लीकुछ ही क्षण पहले

दिल्ली पुलिस आफताब को लेकर महरौली के जंगल गई है ताकि श्रद्धा की बॉडी के टुकड़ों को तलाश किया जा सके।

श्रद्धा मर्डर केस में मंगलवार को भी चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। पुलिस ने बताया कि श्रद्धा और आफताब अमीन पूनावाला 8 मई को दिल्ली आए थे। 10 दिन बाद यानी 18 मई को आफताब ने श्रद्धा का मर्डर कर दिया।

हत्या से पहले वह जंगल के पास फ्लैट में शिफ्ट हो गया था ताकि लाश को आसानी से ठिकाने लगा सके। कुछ रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब उसी फ्लैट में दूसरी लड़की लेकर आया था।

मर्डर केस का बड़े अपडेट्स…

  • श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को लेकर दिल्ली पुलिस महरौली के जंगल गई है। आफताब ने श्रद्धा की बॉडी के टुकड़े यहीं फेंके। अब तक 10 टुकड़े बरामद किए गए हैंं।
  • श्रद्धा के सिर और कुछ दूसरे बॉडी पार्ट्स की तलाश जारी है। फोरेंसिक एक्सपर्ट अभी मिले टुकड़ों की जांच करेंगे।
  • आफताब ने श्रद्धा का फोन भी फेंक दिया था। पुलिस ने कहा कि लास्ट लोकेशन के जरिए इसे हासिल किया जा सकता है। उस हथियार की तलाश है, जिससे आफताब ने श्रद्धा के टुकड़े किए।
  • पुलिस ने पूछताछ के लिए आफताब के दोस्तों को भी बुलाया है।

पुलिस कस्टडी में 24 घंटे आफताब की निगरानी

इस वीडियो में आफताब हवालात में लेटा हुआ दिखाई दे रहा है। हवालात में CCTV के जरिए आफताब पर 24 घंटे निगरानी की जा रही है। वीडियो- सोशल मीडिया

इस वीडियो में आफताब हवालात में लेटा हुआ दिखाई दे रहा है। हवालात में CCTV के जरिए आफताब पर 24 घंटे निगरानी की जा रही है। वीडियो- सोशल मीडिया

श्रद्धा के पिता की अपील- आफताब को फांसी दी जाए
श्रद्धा के पिता विकास वाकर ने कहा, “मुझे ये मामला लव जिहाद का लगता है। मेरी अपील है कि आफताब को फांसी दी जाए। श्रद्धा अपने चाचा के ज्यादा करीब थी पर ज्यादा बातचीत नहीं करती थी। मैं आफताब से कभी संपर्क में नहीं रहा।”

हवालात में आफताब। पुलिस ने बाहर ले जाने से पहले उसके चेहरे पर कपड़ा लपेट दिया।

हवालात में आफताब। पुलिस ने बाहर ले जाने से पहले उसके चेहरे पर कपड़ा लपेट दिया।

आफताब को लेकर पुलिस महरौली के जंगलों में पहुंची है। हथियार और बॉडी के टुकड़े तलाश किए जा रहे हैं।

आफताब को लेकर पुलिस महरौली के जंगलों में पहुंची है। हथियार और बॉडी के टुकड़े तलाश किए जा रहे हैं।

पुलिस टीम आफताब की निशानदेही पर जंगल में कई जगहों पर सर्चिंग कर रही है।

पुलिस टीम आफताब की निशानदेही पर जंगल में कई जगहों पर सर्चिंग कर रही है।

आज भी चौंकाने वाले 4 नए खुलासे…
1. आफताब-श्रद्धा 8 मई को दिल्ली पहुंचे
आफताब-श्रद्धा मुंबई से दिल्ली 8 मई को आए थे। यहां से पहाड़गंज के होटल और फिर साउथ दिल्ली में रहने लगे।

2. हत्या से पहले जंगल के पास फ्लैट लिया
साउथ दिल्ली के बाद महरौली के जंगल के पास फ्लैट लिया था। दिल्ली पहुंचने के 10 दिन बाद यानी 18 मई को आफताब ने श्रद्धा का मर्डर कर दिया।

3. जंगल के पास फ्लैट दिलाने वाला अरेस्ट
मर्डर केस में बद्री नाम के शख्स की एंट्री हुई है। यही वो शख्स है, जिसने आफताब को महरौली इलाके में फ्लैट दिलाया। पुलिस अब इससे पूछताछ कर रही है। इसी फ्लैट से आफताब शव के टुकड़े फेंकने के लिए जंगल जाता था।

4. सोशल मीडिया पर एक्टिव था, फ्लैट में लड़की बुलाई

इस तस्वीर में आफताब दूसरी लड़की के साथ दिखाई दे रहा है। ये तस्वीर 2014 की है। फोटो- फेसबुक

इस तस्वीर में आफताब दूसरी लड़की के साथ दिखाई दे रहा है। ये तस्वीर 2014 की है। फोटो- फेसबुक

पुलिस ने बताया कि आफताब ने श्रद्धा का इंस्टाग्राम अकाउंट जून तक इस्तेमाल किया है ताकि वह यह जाहिर सके कि श्रद्धा जिंदा है। रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि श्रद्धा के मर्डर के बाद आफताब उसी फ्लैट में रहा। शव के टुकड़े ठिकाने लगाने के बाद उसने फ्लैट में लड़की बुलाई। इस दौरान जो टुकड़े बचे थे, उन्हें आलमारी में छिपा दिया। दावा है कि हत्या के एक महीने बाद डेटिंग ऐप के जरिए आफताब ने दूसरी लड़की से संपर्क साधा और उसे फ्लैट में लेकर आया।

कुबूल किया…. यस आई किल्ड हर

पुलिस ने बताया कि श्रद्धा और आफताब 8 मई को दिल्ली में आए थे। 10 दिन बाद आफताब ने श्रद्धा का मर्डर कर दिया। - फोटो सोशल मीडिया

पुलिस ने बताया कि श्रद्धा और आफताब 8 मई को दिल्ली में आए थे। 10 दिन बाद आफताब ने श्रद्धा का मर्डर कर दिया। – फोटो सोशल मीडिया

पुलिस ने मंगलवार को बताया कि आफताब से कत्ल के बारे में जो भी पूछा जाता है, वह उसके बारे में अंग्रेजी में जवाब देता है। ऐसा नहीं है कि उसे हिंदी नहीं आती, पर वो अंग्रेजी में ज्यादा कम्फर्टेबल है। उसने कुबूल किया- Yes i killed her…

बड़ा सवाल- कत्ल कब… मई में या फिर जुलाई में?

श्रद्धा और आफताब की ये फोटो सोशल मीडिया से ली गई है। श्रद्धा अपने दोस्त से आफताब से रिश्तों के बारे में बातचीत करती थी।

श्रद्धा और आफताब की ये फोटो सोशल मीडिया से ली गई है। श्रद्धा अपने दोस्त से आफताब से रिश्तों के बारे में बातचीत करती थी।

श्रद्धा मर्डर केस में अब सवाल ये है कि आखिर उसका मर्डर कब हुआ? सवाल की वजह दो दावे हैं। पहला दावा पुलिस का है, जो कह रही है कि श्रद्धा का मर्डर मई में हुआ। दूसरा दावा दोस्त लक्ष्मण नडार का है, जो कह रहा है कि जुलाई में उसकी श्रद्धा से बातचीत हुई थी।

लक्ष्मण ने दावा सोमवार को एक इंटरव्यू में किया। उसने बताया कि जुलाई में श्रद्धा ने वॉट्सऐप के जरिए उससे कॉन्टैक्ट भी किया था। श्रद्धा काफी डरी हुई थी। तब उसने कहा था कि मुझे बचा लो, वरना आफताब मार डालेगा। पुलिस और दोस्त लक्ष्मण का दावा, पिता की जुबानी बेटी की कहानी विस्तार से पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें…

मर्डर के लिए आफताब ने क्राइम शो देखे, गुनाह छिपाने के लिए गूगल सर्च की

फोटो आफताब के इंस्टाग्राम से ली गई है। वह एक फूड ब्लॉगर है। 3 मार्च के बाद से वह इंस्टाग्राम पर एक्टिव नहीं है।

फोटो आफताब के इंस्टाग्राम से ली गई है। वह एक फूड ब्लॉगर है। 3 मार्च के बाद से वह इंस्टाग्राम पर एक्टिव नहीं है।

आफताब ने वारदात से पहले अमेरिकी क्राइम शो डेक्स्टर समेत कई क्राइम मूवीज और शोज देखे थे। सबूत मिटाने के लिए गूगल पर खून साफ करने का तरीका भी ढूंढा था। इसके बाद ही उसने श्रद्धा का मर्डर किया और आरी से काटकर उसकी बॉडी के 35 टुकड़े किए। 18 दिन तक रोज रात 2 बजे जंगल में श्रद्धा के टुकड़े फेंके। श्रद्धा पर आफताब ने किए चौंकाने वाले खुलासे….पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें…

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here