अमेरिकी नागरिक को विमान में बम की सूचना देना पड़ा भारी, इस कारण से हुआ गिरफ्तार!

0
18

हाइलाइट्स

37 वर्षीय एक अमेरिकी व्यक्ति को सिंगापुर में बम की झूठी सूचना देने पर किया गया गिरफ्तार
सैन फ्रांसिस्को से सिंगापुर जा रहे विमान एसक्यू33 में कथित तौर पर बम होने की सूचना दी गई थी
सेंट्रल नारकोटिक्स ब्यूरो ने कहा कि आरोपी ने ड्रग्स का सेवन किया था और स्टाफ से मारपीट की थी

सिंगापुर. सिंगापुर की एक अदालत में 37 वर्षीय एक अमेरिकी व्यक्ति पर ‘सिंगापुर एयरलाइंस’ (Singapore Airlines) के एक विमान में यात्रा के दौरान चालक दल के सदस्य के साथ मारपीट करने और विमान में बम होने की झूठी खबर फैलाने का आरोप लगाया गया है. रिपोर्ट के अनुसार सिंगापुर पुलिस को बुधवार को सैन फ्रांसिस्को से सिंगापुर जा रहे विमान एसक्यू33 में कथित तौर पर बम होने की सूचना दी गई थी. बम की सूचना मिलने के बाद अधिकारियों में हड़कंप मच गया था. हालांकि बाद में हुई जांच में बम की सूचना को झूठा पाया गया.

ड्रग्स को लेकर फैलाई अफवाह
पुलिस ने अमेरिकी नगारिक को बम की झूठी अफवाह फैलाने और प्रतिबंधित दवाओं के सेवन के आरोप में गिरफ्तार किया है. रिपब्लिक ऑफ सिंगापुर एयर फोर्स एफ-16सी/डी के लड़ाकू विमानों के सुरक्षा घेरे में विमान सुबह करीब पांच बजकर 50 मिनट पर चांगी हवाई अड्डे पर उतरा गया था. सिंगापुर पुलिस फोर्स (एसपीएफ) ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि यात्रा के दौरान व्यक्ति ने कथित तौर पर शोर मचाया कि विमान में बम है और एक अन्य यात्री का सामान भी छीन लिया.

पुलिस ने बताया कि चालक दल के एक सदस्य द्वारा उसे रोकने की कोशिश करने पर व्यक्ति ने कथित तौर पर उसके साथ मारपीट की. ‘चैनल न्यूज एशिया’ ने पुलिस के हवाले से बताया कि चालक दल के सदस्य द्वारा की गई जांच में अमेरिकी व्यक्ति के सामान में कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली. पुलिस ने कहा कि सेंट्रल नारकोटिक्स ब्यूरो द्वारा व्यक्ति के पेशाब की जांच की गई, जिसमें उसके प्रतिबंधित दवाएं लेने की बात सामने आई है.

Tags: Flight, Singapore, USA

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here