अपने क्षेत्र को छुड़ाने के लिए यूक्रेन चुका रहा है भारी कीमत, एक दिन में गई 140 सैनिकों की जान

0
17

हाइलाइट्स

डोनेट्स्क में यूक्रेनी सेना के 40 से अधिक सैनिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा
लुहांस्क में यूक्रेन को 40 से अधिक जवानों का नुकसान हुआ
रूस समर्थित लड़ाकों ने तीन टैंकों, 6 बख्तरबंद कर्मियों के वाहक, दो तोपखाने को नष्ट कर दिया

कीव. रूस से अपने दो क्षेत्र डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) और लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक (एलपीआर) को छुड़ाने की यूक्रेन को लगातार भारी कीमत चुकानी पड़ रही है. अकेले इन क्षेत्रों में यूक्रेनी सेना को रूस की ओर से एक इंच आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है. रूस की न्यूज़ एजेंसी तास की एक खबर के मुताबिक बीते 24 घंटों में यूक्रेन ने ऐसे ही एक प्रयास में कम से कम 140 सैनिकों को खो दिया है. डीपीआर रक्षा मंत्रालय की प्रेस सेवा ने रविवार को बताया कि पिछले दिनों डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) की इकाइयों के साथ लड़ाई में यूक्रेनी सेना के 40 से अधिक सैनिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया. साथ ही रूस की ओर से लड़ रहे डीपीआर पीपुल्स मिलिशिया के टेलीग्राम चैनल पर पोस्ट की गई रिपोर्ट में कहा गया कि लड़ाई में यूक्रेन को 40 से अधिक जवानों का नुकसान हुआ है.

एलपीआर पीपुल्स मिलिशिया इवान फिलिपोनेंको के प्रवक्ता ने बताया कि पिछले दिनों लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक (एलपीआर) के लड़ाकों के साथ लड़ाई में यूक्रेनी सेना को लगभग 85 जवानों का नुकसान झेलना पड़ा है. एलपीआर पीपुल्स मिलिशिया के प्रेस कार्यालय ने अपने टेलीग्राम चैनल पर कहा कि पिछले 24 घंटों में, यूक्रेन को एलपीआर की सेना ने सक्रिय आक्रामक अभियानों के परिणामस्वरूप जनशक्ति और सैन्य उपकरणों में भारी नुकसान पहुंचाया. एलपीआर लड़ाकों ने 85 कर्मियों, तीन टैंकों, छह बख्तरबंद कर्मियों के वाहक, दो तोपखाने को नष्ट कर दिया है.

साथ ही प्रवक्ता ने कहा कि पिछले दिनों, LPR फील्ड इंजीनियरों ने गणतंत्र के स्ट्रोबेल्स्क जिले में गोरोडिश्चे और क्रिडियानोय की बस्तियों के क्षेत्रों में यूक्रेनी सेना द्वारा लगाए गए विस्फोटकों को साफ करते हुए आठ हेक्टेयर से अधिक की खदानों को नष्ट कर दिया.

रूस को EU संसद ने बताया आतंकी राज्य
यूरोपीय संघ की संसद ने बुधवार को एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए रूस को ‘आतंकवाद को प्रायोजित करने वाला राज्य’ घोषित कर दिया. यूरोपीय सांसदों ने रूस को आतंकवाद का प्रायोजक देश बताने वाले प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया. हालांकि, ईयू का यह कदम काफी हद तक प्रतीकात्मक है, क्योंकि यूरोपीय संघ के पास इसका समर्थन करने के लिए कोई कानूनी ढांचा नहीं है. संघ ने पहले ही यूक्रेन पर अपने आक्रमण को लेकर रूस पर अभूतपूर्व प्रतिबंध लगाए हैं.

Tags: European union, Russia, Russia ukraine war, Ukraine, World news

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here